व्हाट्सअप की सहायता से साड़ियाँ बेचकर ये महिला महीने के लाखों कमा लेती है – Whatsapp Saree Business Success Story

Public Post Stories Success Story

Whatsapp Saree Business Success Story

हम सब व्हाट्सअप जरूर इस्तेमाल करते है लेकिन सिर्फ मैसेज करने या फिर अपने ऑफिस के काम के लिए। हम ये भी जान ते है की अधिकतर लोग इसमें अपना समय बर्बाद करते है। लेकिन क्या आप सोच सकते हैं की इसी अप्प का सही से इस्तेमाल कर आप करोड़ों काम सकते हैं।

जी हाँ एक महिला उद्यमी हैजिनका नाम है शनमुगा प्रिया जो चेन्नई की रहने वाली है। व्हाट्सअप की सहायता से साड़ियाँ बेचकर आज प्रिया करोडो कमाती है। बीते साल उनका टर्नओवर लगभग 2.4 करोड़रुपये रहा और आज अमेरिका और ब्रिटेन में उनकी साड़ियाँ सप्लाई होती है।

व्हाट्सअप की सहायता से साड़ियाँ बेचकर ये महिला महीने के लाखों कमा लेती है – Whatsapp Saree Business Success Story

प्रिया की सास भी साड़ियाँ बेचने का काम करती थी। वो घर घर जाकर साड़ियाँ बेचती और बाकी समय में घर का ध्यान रखती क्योकि प्रिया एक कंपनी में नौकरी कर रही थी। सास की मौत के बाद घर की जिम्मेदारी प्रिया के ऊपर आ गई और उन्होंने इसके लिए नौकरी छोड़ दी और घर में रहने लगी। अचानक उन्हें अपने सास के बिजनस को आगे ले जाने का आईडिया आया और उन्होंने ऐसा ही किया।

ऐसे की शुरुआत-

जब प्रिया ने इस काम को शुरू करने का विचार बनाया तो वो जहाँ भी जाती तो अपने साथ साड़ियों का थैला लेकर जाती। उस समय लोग उनके ऊपर हसते थे और उन्हें ये ना करने के लिए कहते थे लेकिन प्रिया नहीं मानी।

शुरुआत में उनके ग्राहक उनके रिश्तेदार, आस पड़ोस के लोग थे लेकिन बाद में काम बढने लगा। प्रिया ने इसकेलिए व्हाट्सअप का सहरा लेना शुरू किया। साल 2014 में उन्होंने एक ग्रुप की सहायतासे बीस साड़ियाँ बेचीं। इसके बाद खुद ही साड़ियाँ बनाने लग गई और इसके लिए कुछ लोगभी हायर कर लिए। प्रिया ने घर के छत पर एक गोदाम भी खोल लिया जिससे साड़ी देखने आनेकी चाहत रखने वाले लोग वहां आये और अपना सैंपल देख सके।

अब ये है बिक्री-

प्रिया ने एक के बाद एक अलग अलग व्हाट्सअप ग्रुप्स में अपनी साड़ियों का प्रमोशन जारी रखा। धीरे धीरे उनका व्यापार बढने लगा और पैसे भी आने लगे। साल 2016-17 में प्रिया ने कुल 2.4 करोड़ रुपये का कारोबार किया। वो कहती है की दिवाली और बाकी त्योहारों के समय में उनके पास अधिक आर्डर आते है।

वैसे वो दिन की पचास से अस्सी साड़ियाँ बेचती है लेकिन त्योहारों के समय में ये संख्या सौ के पार हो जातीहै। प्रिया की औसत कमाई एक महीने में लगभग 12 से 15 लाख है।

रिटेलर को बेचने पर वो दसप्रतिशत प्रॉफिट मार्जिन लेती है जबकि थोक में बेचने पर उन्हें सात प्रतिशतमार्जिन मिलता है। प्रिया आज अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया में भी साड़ियों काबिजनस करती है। वो आये दिन ऑर्डर्स भेजती रहती है।

प्रिया कहती है की मैंने बीस साड़ियों से शुरुआत की थी और यह आकड़ा आज सौ के लगभग पहुच चुका है। प्रिया ने फेसबुक में भी अपनी साड़ियों को प्रमोट करने का विचार बनाया और वहां से उनके पास खूब लोग आते है। प्रिया आज के समय में 11 व्हाट्सअप ग्रुप चलाती है।

कुछ अलग-

प्रिया ने कुछ अलग तरीके से काम किया। जो लोग थोक में उनसे माल खरीदते है अगर उन्हें माल पसंद नहीं आया तो प्रिया उन्हें पैसा लौटा देती है। इसके अलावा कुछ लोगो को उधार भी देती है और इससे होता है की वो दोबारा प्रिया के पास ही लौटकर आते है। प्रिया कहती है की मार्केट में आगे बढने के लिए ऐसा करना बहुत जरूरी है। प्रिया के साथ आज अच्छी टीम है और इस टीम की वजह से ही वो आगे बढ़ रही है।

प्रिया की कहानी हमे बताती है की कैसे हम सोशल मीडिया का सही इस्तेमाल कर सकते है। सोशल मीडिया जिसके बारेमें कहा जाता है की ये केवल हमारी बर्बादी के लिए है। उसके जरिये हम करोडो रुपयेकी कमाई कर सकते है।