आज फिर दर्द -ओ -गम के चिराग जले

आज फिर दर्द -ओ -गम के चिराग जले
आज फिर दौर -ऐ -महफ़िल रात भर चले
आज फिर नज़र -ऐ तराना पेश कर चले
आज फिर तेरी महफ़िल से बे -आबरू हो चले

aaj phir dard-o-gam ke chirag jale
aaj phir daur-ae-mehfil raat bhar chale
aaj phir nazar-ae tarana pesh kar chale
aaj phir teri mehfil se be-abru ho chale


मिट गई हस्ती पर गुमाँ -ऐ – बयान न गया
हर कोई छू के गया पर दर्द -ऐ -दिल न गया
कोशिश -ऐ-नाकाम की हमने पर सूरत -ऐ -यार भुलाया न गया

mit gaye hasti par guman-ae-byaan na gaya
har koi chuu ke gaya par dard-ae-dil na gaya
kosish-ae-nakaam ki humne par surat-ae-yaar bhulaya na gaya…

Continue Reading

Sad Shayari, Har Ek Haseen Chehre Mein Gumaan

हर एक हसीन चेहरे में गुमान उसका था,
बसा न कोई दिल में ये मकान उसका था,
तमाम दर्द मिट गए मेरे दिल से लेकिन,
जो न मिट सका वो एक नाम उसका था।

Har Ek Haseen Chehre Mein Gumaan Uska Tha,
Basaa Na Koi Dil Mein Ye Makaan Uska Tha,
Tamaam Dard Mit Gaye Mere Dil Se Lekin,
Jo Na Mit Saka Woh Ek Naam Uska Tha.…

Continue Reading

Two Line Shayari in Hindi on Dard

1. दो शब्दों में सिमटी है मेरी मुहब्बत की दास्तान,
उसे टूट कर चाहा और चाह कर टूट गये।

2. अब कहाँ जरुरत है हाथों में पत्थर उठाने की​​,
​​तोड़ने वाले तो दिल जुबां से ही तोड़ दिया करते है।

3. दर्द देने का तुझे भी शौक़ था बहोत,
और देख हमने भी सहने की इन्तेहा कर दी !!…

Continue Reading

इक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा

कहाँ जाएंगे तेरे शहर से

कहाँ जाएंगे तेरे शहर से गम जदा हो कर
अभी तो जीना बाकी है अभी तो मरना बाकी है

राजदार न रहा कोई किसको  सुनाए हाल -ऐ -दिल अपना
जिसका जीकर हम करते वो रूहे-यार रहा न अपना

अब कश्मकश यह की न बसते  बने न चलते बने
कुछ यूं हुए बेवफा इस शहर के लोग की बस चलते बने .

Kahan jayinge tere shehar se

kahan jayinge tere shehar se gam jda ho kar
abhi to jina baki hai abhi to marna baki hai

rajdar na raha koi kiso sunaye haal-ae-dil apna
Jiska jikar hum karte wo rohe-yaar raha na apna

Ab kashmkas yeah ki na baste bane na chalte bane
kush yoon hue bewafa is shere ke log ki bas chalte bane.


इक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा

यह मोहबत है जरा सोच के करना
रात होगी तो चाँद भी दिखाई देगा …

Continue Reading

काश ! के वो मेरा होता , मेरे नाम की तरहँ – परवीन शाकिर

मेरे नाम की तरहँ 

यह मेरी ज़ात की सब से बड़ी तमन्ना थी ,
काश ! के वो मेरा होता , मेरे नाम की तरहँ

Mere Naam Ki Tarhan

Yeh Meri Zaat Ki Sab Se Bari Tamanna Thi
Kaash! Ke Woh Mera Hota, Mere Naam Ki Tarhan


दर्द क्या होता है बताएँगे किसी रोज़

दर्द क्या होता है बताएँगे किसी रोज़
कमाल की ग़ज़ल तुम को सुनायेंगे किसी रोज़
थी उन की ज़िद के मैं जाऊँ उन को मानाने
मुझ को ये वेहम था वो बुलाएंगे किसी रोज़
उड़ने दो इन परिंदों को आज़ाद फ़िज़ाओं में
तुम्हारे होंगे अगर, तो लौट आएंगे किसी रोज़

Dard Kia Hota Hai Batayein Gay Kisi Roz

Dard Kia Hota Hai Batayein Gay Kisi Roz
Kamal Ki Ghazal Tum Ko Sunayein Gay Kisi Roz
Thi Un Ki Zid K Main Jaaoun Un Ko Manane
Mujh Ko Ye Veham Tha Wo Bulayein Gay Kisi Roz
Urney Do …

Continue Reading

न तस्वीर है तुम्हारी जो दीदार किया जाये

न  तस्वीर  है  तुम्हारी  जो  दीदार  किया  जाये

न तस्वीर है तुम्हारी जो दीदार किया जाये
न तुम पास हो जो तुमसे प्यार किया जाये
यह कौन सा दर्द दिया है तुम ने मुझे
न तुमसे कुछ कहा जाए न तुम बिन रहा जाये

Na Tasvir Hai Tumhari Jo Deedar Kiya Jaye

Na tasvir hai tumhari jo deedar kiya jaye
Na tum paas ho jo tumse pyar kiya jaye
Yeh kaun sa dard diya hai tum ne mujhe
Na tumse kuch kaha jaye na tum bin raha jaye…


वो अपना वजूद छोड़  गया है

शायद वो अपना वजूद छोड़  गया है  मेरी हस्ती  में
यूँ सोते -सोते जाग जाना मेरी आदत पहले कभी न थी

Wo Apna Wajood Chod Gaya Ha

Shayad Wo Apna Wajood Chod Gaya Hai Meri Hasti Mein
Yun Sote-Sote Jaag Jana Meri Aadat Pehle Kabhi Na Thi……

Continue Reading

Sad Shayri

Kyun pyaar karne ki hadein hoti hein,
Kyun dil dene ki waje hoti hein,
Kyun jazbaaton ko dabana padta hai,
Kyun iss dil ko samjana padta hai,
Kyun har dil ko ye mehsoos nahin hota,
Kyun sabko ye manzoor nahin hota,
Kyun dil se dil nahin milta,
Kyun pyaar ka phool nahin khilta,
Kyun dil ke naghme dil nahin gaata,
Dil mein kya hai ye keh nahin pata,
Kya dil dene ki yahi saza hai,
Kya pyaar karne mein yahi mazaa hai.

Baat din ki nahi ab raat se dar lagta hai,
Ghar hai kaccha mera, barsaat se dar lgta hai,
Tere tohfe ne to bas khoon ke aansoo hi diye,
Zindagi ab teri saugaat se dar lagta hain!!
Pyaar ko chhod kar tum aur koi baat karo,
Ab mujhe pyar ki har baat se dar lagta hai!!

Sabhi ko sab kuchh nahi milta,
Nadi ki har lehar ko sahil …

Continue Reading

Dard Bhari Shayari in Hindi on Andheri Rahein

हर हकीकत से वाकिफ हो हमने कुछ सीख पायी हैं,
जज्बातों की लहरे दिल के रास्ते आँखाें से बाहर आयी हैं,
रुकने लगी हैं जीने की राहे मेरे लिए,
क्याेंकि प्यार व उमींदे की राहे अंधेरे में धुन्दली होती नजर आयी हैं..…

Continue Reading