shayarisms4lovers June18 218 - Ek tara bole adhuri prem khani – Mohan rulaniya

Ek tara bole adhuri prem khani – Mohan rulaniya

कुछ दिनो पहले कि बात है । जो  मेरे जान से प्यारे भाई के साथ हुआ उसे मै आज बया करने जा रहा हुँ । ये कहानी एक प्यार ओर दोस्ती की जंग को बया करती है । एक ऐसा शक्स जो अपनी सारी जींवन सच्चे प्यार कि तलास में गुजार देता है । और […]

Continue Reading