shayarisms4lovers may18 79 - ज़िन्दगी पर दुःख भरी शायरी

ज़िन्दगी पर दुःख भरी शायरी

राहे रूकती हैं जब, ज़िन्दगी झुकती हैं तब सर झुकता है जब, वक़्त रुकता हैं तब जमाना हसंता हैं जब, सांसें रूकती हैं तब बाहे दुखती हैं जब, हिम्मत रूकती हैं तब शरीर खंजर सा हो जाता हैं, आत्मा बंजर सी हो जाती हैं ना जाने क्यों ये ज़िन्दगी सिमट कर रह जाती हैं | […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 170 - इश्क़ और जनून – शायरी

इश्क़ और जनून – शायरी

इश्क़ और जनून दौर था इश्क़ का और हम बह गए भरोसा हम गैरों पर कर गए न फ़िक्र अंजाम की हम दुश्मन जमाना कर गए होश तब आया जब भरी महफ़िल में तन्हां हम रह गए जो अँधेरे मैं गुम है वो साया कौन है तेरी आँख मैं वो शख़्श कौन है तेरे चेहरे […]

Continue Reading
shayarisms4lovers may18 82 - वो कातिल नहीं

वो कातिल नहीं

सुना है सुना है आज कल वो परेशान रहती है उससे कहना बे -फ़िक्र मैं भी नहीं हूँ सुना है वो गुमसुम रहती है उससे कहना हाज़िर जहाँ मैं भी नहीं हूँ सुना है वो रातों को जागा करती है उससे कहना सोते हम भी नहीं है सुना है वो चुप चुप के रोती है […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 202 - Sikha diya duniya ne mujhe apno par bhi shak karna

Sikha diya duniya ne mujhe apno par bhi shak karna

  सिखा दिया दुनिया ने मुझे अपनो पर भी शक करना मेरी फितरत में तो गैरों पर भी भरोसा करना था! Sikha diya duniya ne mujhe apno par bhi shak karna Meri fitrat mein to gairon par bhi bharosa karna tha!

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - Heart Touching Shayari in Hindi on Duniya Kyun Ishq Se Khafa

Heart Touching Shayari in Hindi on Duniya Kyun Ishq Se Khafa

जबसे तुम हमसे आकर मिलने लगी- दुश्मनी हर किसी से अब होने लगी, दोनों को देखकर लोग हैं जल रहे बस्ती में हर तरफ आग लगने लगी, इतने खतरे उठा दोनों करते हैं प्यार मौत से भी मुहब्बत सी होने लगी, दुनिया होती है क्यूं इश्क से यूं खफा मैंने जब ये कहा तो तू […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 36 - तुम्हारे ही ख्यालो में खोए रहते हैं – Romantic shayari

तुम्हारे ही ख्यालो में खोए रहते हैं – Romantic shayari

दिल जब भी तुम्हारा धड़का है तुम लाख छुपाओ सीने में एहसास हमारी चाहत का दिल जब भी तुम्हारा धड़का है आवाज़ यहाँ तक आई है Dil jab bhi tumhara dhadka hai Tum laakh chupao seeney main Ehsaas hamari chaaht ka Dil jab bhi tumhara dhadka hai awaaz Yahan tak aai hai.. जीना भी मुझे […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 09 - Shayad Main isliye piche hu, Shayari

Shayad Main isliye piche hu, Shayari

Shayad Main isliye piche hu, Mujhe Hoshyari nahi aati, Beshak log na Samjhe meri Wafadaari, Magar Sahab Mujhe Gaddari nhi शायद मैं इसीलिए पीछे हूं, मुझे होशियारी नही आती, बेशक लोग ना समझे मेरी वफादारी, मगर यारो मुझे गद्दारी नही आती।

Continue Reading
yellow natural flower - Sikha na saki jo umar bhar, Shayari

Sikha na saki jo umar bhar, Shayari

Sikha na saki jo umar bhar tamam kitabe mujhe.. Kareeb se kuchh chehare padhe aur na jaane kitane.. sabak seekh liye. 📚 सिखा न सकी जो उम्र भर तमाम किताबे मुझे.. करीब से कुछ चेहरे पढे और न जाने कितने.. सबक सीख लिए। 📚

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - Khul kar tarif bhi kiya karo, Shayari

Khul kar tarif bhi kiya karo, Shayari

Khul kar tarif bhi kiya karo, Dil khol hans bhi diya karo, Kyun bandh ke khud ko rakhte ho, Panchhi ki tarh bhi jiya karo. 🦋 खुल कर तारीफ़ भी किया करो, दिल खोल हँस भी दिया करो, क्यूँ बाँध के ख़ुद को रखते हो, पंछी की तरह भी जिया करो। 🦋

Continue Reading