shayarisms4lovers June18 259 - त्रिशा- कहानी डबल धोखे की Part I – Nawab

त्रिशा- कहानी डबल धोखे की Part I – Nawab

चैप्टर 1 कॉलेज के दोस्त जिनकी जिंदगी बहुत तकलीफों से गुजरती है,उनकी कहानियां शानदार होती हैं।तकलीफदेह जिंदगी का एक फायदा तो कम से कम जरूर होता है ,वो ये कि इंसान को जिंदगी के बहुत कीमती सबक मिल जाते हैं जो उसको जिंदगी भर काम आते हैं। कहानी के कई पहलू हैं, कौन सही था […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 105 - love in train – मेरा प्यार ट्रेन में मिला

love in train – मेरा प्यार ट्रेन में मिला

जनशताब्दी अपने तेज रफ्तार से चल रही थी. छोटी-छोटी स्टेशन हवा में ही पार हो जा रहे थे. मैं, मेरी मम्मी और पापा chair यान में बैठे थे. तभी हमारे पास ही एक छोटी सी बच्ची ने उलटी कर दी. कुछ छीटे मेरे पर भी आ गया. उसे देख कर मुझे भी उलटी जैसा होने […]

Continue Reading