shayarisms4lovers June18 272 - {Best 75+} Shayari On Beautiful Eyes - 2 Line Shayari On Eyes - Quotes

{Best 75+} Shayari On Beautiful Eyes – 2 Line Shayari On Eyes – Quotes

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

Shayari On Beautiful Eyes:- के शानदार पोस्ट 2 Line Shayari On Eyes को पढ़ते हैं. और लुफ्त उठाते हैं. अपनी मासूका की आँखों की तारीफ में बने Shayari Collection का Eyes Status For FB और Eyes Status For Instagram का Eyes Status Images के साथ.

खूबसूरती की बात चलती यहीं तो सबसे पहले निगाहे चेहरे से होते हुए सीधा आँखों पे जाती हैं. और हम होश ही नहीं अपना दिल भी खो देते हैं देख के नशीली इन आँखों को जिनमे:- 
  • जुबां  भी हैं, 
  • हया भी हैं,  
  • शरारत भी हैं, 
  • नशा भी हैं, 
  • चाहत भी हैं,
  • तड़प भी हैं, 
  • मिलन भी हैं. 
दोस्तों आज बात करेंगे Shayari On Beautiful Eyes के इस खूबसूरत से पोस्ट में उन नशीली आँखों के बारे में बात करेंगे,  जो जुबां से कम अपनी शरारती आँखों से ज्यादा बात करती हैं. किसी ने सच ही कहा हैं की…. 
आंखे देखती ही नहीं बाते भी करती हैं, खामोश शब्दों से इशारों ही इशारों में.
जैसा की हम सभी जानते हैं, प्यार की शुरुआत और प्यार का इकरार आँखों की जुबां से होता हैं. क्युकि प्यार को दिल से पहले ऑंखें महसूस करती हैं अपने प्यार को. और आँखों के रास्ते ही प्यार दिल में उतरता हैं और दिल अपना घर बनाता हैं.   

तो दोस्तों आईये “Shayari On Beautiful Eyes” को पढ़ते हैं और अपनी पसंद की आंख शायरी को, और शायराना अंदाज़ में तारीफ करते हैं अपनी मेहबूबा की झील सी गहरी आँखों की और बताते हैं उसे की….   

तुम्हारी आंखे मुझे जन्नत से भी ज्यादा हसीं लगती हैं. जैसे खुदा ने अपनी बारीक़ कारीगरी से इन्हे तराशा हैं. 

नशा हराम हैं मेरे लिए फिर भी, बिना पीये बहकता रहता हूँ तुम्हारी नशीली आँखों से जाम पी के और अंखियों ही अंखियों में बात करते हुए दिल झूमता हुआ गुनगुनाता हैं..
अंखियों ही अंखियों में तेरी मेरी बात चली, बात यहां तक पहुंची मैंने तेरे बिना जीना लिया।       
तो इसी रोमांटिक सांग के साथ शुरुवात करते हैं आज की 2 Line Shayari On Eyes की पोस्ट की और शेयर करते हैं अपनी मेहबूबा को फेसबुक और वाहट्सएप्प पर उसकी आँखों की तारीफ में अपने दिल में उभरते शब्दों से बनी शायरी को..

{Best 75+}  Shayari On Beautiful Eyes 

1तेरी निगाह दिल से जिगर तक उतर गयी,दोनों को ही एकअदा में रजामंद कर गईTeri Nigah Dil Se Jigar Tak Utar Gayi, Dono Ko Hi EkAda Mein Rajamand Kar Gayi.

 
बिना पूछे ही सुलझ
Continue Reading

50 Best Kumar Vishwas Shayari in Hindi 2019 – कुमार विश्वास की शायरी

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

Dr. Kumar Vishwas Shayari – पढ़िये कुमार विश्वास की बेस्ट शायरी, और कवितायें हिन्दी मे।

Kumar Vishwas Best Poems, Short Ghazal And Shayari in Hindi

चंद चेहरे लगेंगे अपने से ,खुद को पर बेक़रार मत करना !

आख़िरश दिल्लगी लगी दिल पर? हम न कहते थे प्यार मत करना…!!

 

Kumar Vishwas Shayari in Hindi

ना पाने की खुशी है कुछ,ना खोने का ही कुछ गम है,

ये दौलत और शौहरत सिर्फ कुछ जख्मों का मरहम है !

अजब सी कशमकश है रोज जीने ,रोज मरने में,

मुक्कमल जिंदगी तो है,मगर पूरी से कुछ कम है !!

Kumar Vishwas Shayari

हमने दुःख के महासिंधु से सुख का मोती बीना है,

और उदासी के पंजों से हँसने का सुख छीना है !

मान और सम्मान हमें ये याद दिलाते है पल पल,

भीतर भीतर मरना है पर बाहर बाहर जीना है..!!

 

Kumar Vishwas Ki Shayari

नज़र में शोखिया लब पर मुहब्बत का तराना है,

मेरी उम्मीद की जद़ में अभी सारा जमाना है !

कई जीते है दिल के देश पर मालूम है मुझकों,

सिकन्दर हूं मुझे इक रोज खाली हाथ जाना है !!

 

Kumar Vishwas Short Poems in Hindi

पनाहों में जो आया हो तो उस पर वार क्या करना,

जो दिल हारा हुआ हो उस पे फिर अधिकार क्या करना !

मुहब्बत का मजा तो डूबने की कशमकश में है,

हो ग़र मालूम गहराई तो दरिया पार क्या करना..!!

 

Koi Diwana Kaheta Hai in Hindi

कितनी दुनिया है मुझे ज़िन्दगी देने वाली,और एक ख्वाब है तेरा की जो मर जाता है 

खुद को तरतीब से जोड़ूँ तो कहा से जोड़ूँ,मेरी मिट्टी में जो तू है की बिखर जाता है !!

 

Kumar Vishwas Love Shayari in Hindi

कोई मंजिल नहीं जंचती, सफर अच्छा नहीं लगता,

अगर घर लौट भी आऊ तो घर अच्छा नहीं लगता !

करूं कुछ भी मैं अब दुनिया को सब अच्छा ही लगता है,

मुझे कुछ भी तुम्हारे बिन मगर अच्छा नहीं लगता..!!

 

Kumar Vishwas Poem Lyrics

जिस्म का आखिरी मेहमान बना बैठा हूँ, एक उम्मीद का उन्वान बना बैठा हूँ !

वो कहाँ है ये हवाओं को भी मालूम है मगर, एक बस में हूँ जो अनजान बना बैठा हूँ !!

Kumar Vishwas Latest Shayari

हिम्मत ए रौशनी बढ़ जाती है, हम चिरागों की इन हवाओं से !

कोई तो जा के बता दे उस को, चैन बढता है बद्दुआओं से…!!

 

Kumar Vishwas All Shayari

स्वंय से दूर हो …

Continue Reading

Cute Love Sms for Girlfriend

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

There are lots of ways to be romantic, such as hugging, kissing, singing love songs etc but Beautiful Love Shayaris are the sweet way to express your deepest feelings to your lover. In this section we’ve compiled Cute Love Sms for Girlfriend, these magical words will bring a golden glow on her face. Just pick up Romantic Sms for Girlfriend, Tareef Shayari for Impress a Girl, Awesome Love Sms in Hindi, Heart Touching Pyar Mohabbat Shayari for GF, Romantic Love Messages in Hindi and many more.

Cute Love Sms for Girlfriend in English & Hindi

1) Cute Romantic Love Sms in Hindi for Gf

Ek aas, ek ehsaas, meri soch aur bus tum,
Ek sawal, ek majaal, tumhara khayal or bs tum,
Ek baat, ek shaam, tumhara sath or bus tum,
Ek dua, ek faryad, tumhari yaad or bus tum,
Mera junoon, mera sukoon bus tum or bus tum

2) Love Sms for Girlfriend in English

The day you fall in love with someone,
You think is the happiest day of your life,
But in actual you become the weakest person
Who can’t live without someone..!!

3) Sweet Love Sms Messages for Her

Take my eyes but let me see you,
Take my mind but let me think about you
Take my hand but let me touch you
But don’t try to take my heart
Because its already with you….!!

4) Romantic Love Quotes in Hindi by Him for Valentines Day

Es dil ka kaha mano ek kaam kar do..
Ek be-naam si mohabbat mere naam krdo
Meri zaat par faqat itna ehsaan kar do..
Kisi din subah ko milo, or shaam kar do..!!

5) Cute Love Sms for Wife by Husband

I never searched but I found you
I never asked but I have you
I never wished for anything but it come true
I just want to thank God
For Giving me such a lovely wife like you..!

6) Romantic Good Night Love Sms for Her

Agar main had se guzar jau toh muje maaf karna,
Tere dil mein utar jau toh mujhe maaf karna,
Raat mein tujhe dekh ke tere deedar ki khatir,
Pal bhar jo theher jaun toh mujhe maaf karna…!!

7) Emotional Love Quotes for Wife by Hubby

To see you smile,
I will walk many a mile.
To hear you talk,
Hundred miles will I walk.
To touch your hand,
I will cross …

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 225 - Yaad Shayari, Tum usako yaad kyu karate ho

Yaad Shayari, Tum usako yaad kyu karate ho

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

पूछा किसी ने?
तुम उसको याद क्यू करते हो,
जो तुम्हे याद ही नहीं करते,
तड़प कर दिल बोला,
रिश्ते निभाने वाले मुकुबाला नहीं करते! 💘

Pucha kisi ne?
tum usako yaad kyu karate ho,
jo tumhe yaad hi nahin karate,
tadap kar dil bola,
rishte nibhane waale mukubaala nahin karte! 💘…

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 247 - Aaina Dekhoge To Meri Yaad Aayegi, Shayari

Aaina Dekhoge To Meri Yaad Aayegi, Shayari

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

आईना देखोगे तो मेरी याद आएगी,
साथ गुज़री वो मुलाकात याद आएगी,
पल भर क लिए वक़्त ठहर जाएगा,
जब आपको मेरी कोई बात याद आएगी. 💑

Aaina Dekhoge To Meri Yaad Aayegi,
Sath Gujari Wo Mulakat Yaad Aayegi,
PaL Bhar Ke Liye WQt Thahar Jayga,
Jab Apko Meri Koi Bat Yaad Aayegi! 💑…

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 72 - Best Sad Status & Shayari in Hindi, Berukhi Teri

Best Sad Status & Shayari in Hindi, Berukhi Teri

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

बदल जाओ भले तुम मगर इतना याद रखना,
कहीं पछतावा ना बन जाये हमसे बेरुखी इतनी।
Badal Jaao Bhale Tum Magar Itna Yaad Rakhna,
Kahin Pachhtawa Na Ban Jaye Humse Berukhi Itni.

बस तुम्हें पाने की अब तमन्ना नहीं रही,
मोहब्बत तो आज भी तुमसे हम बेशुमार करते हैं।

बेवक्त, बेवजह, बे-सबब सी बेरुखी तेरी,
फिर भी बेइंतेहा चाहत की बेबसी मेरी।
Bewaqt, Bewajah, Be-Sabab Si Berukhi Teri,
Fir Bhi BeIntehan Chahat Ki BeBasi Meri.

उसने कहा था आँखें भर के देखा कर मुझे,
अब आँखें तो भर आती हैं पर वो नहीं दिखते।
Usne Kaha Tha Aankhein Bhar Ke Dekha Kar Mujhe,
Ab Aankhein Toh Bhar Aati Hain Par Wo Nahi Dikhte.

तेरी मोहब्बत से लेकर तेरे अलविदा कहने तक,
मैंने सिर्फ तुझे चाहा तुझसे कुछ नहीं चाहा है।
Teri Mohabbat Se Lekar Tere Alvida Kehne Tak,
Maine Sirf Tujhe Chaaha TujhSe Kuchh Nhi Chaha.

ग़ैर मुमकिन है तेरे घर के गुलाबों का शुमार,
मेरे रिसते हुए ज़ख़्मों के हिसाबों की तरह।
Gair Mumkin Hai Tere Ghar Ke Gulabon Mein Shumar,
Mere Riste Huye Zakhmo Ke Hisaabon Ki Tarah.

राख होता हुआ वजूद
मुझसे थक कर सवाल करता है,
मोहब्बत करना तेरे लिए
इतना ही जरुरी था क्या?
Raakh Hota Hua Wajood
Mujhse Sawal Karta Hai,
Mohabbat Karna Tere Liye
Itna Hi Jaruri Tha Kya?…

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 149 - हिंदी में सैड शायरी और स्टेटस, सिर्फ चेहरे की उदासी से

हिंदी में सैड शायरी और स्टेटस, सिर्फ चेहरे की उदासी से

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

सिर्फ चेहरे की उदासी से
भर आये तेरी आँखों में आँसू,
मेरे दिल का क्या आलम है
ये तो तू अभी जानता नहीं।
Sirf Chehre Ki Udaasi Se
Bhar Aaye Teri Aankhon Mein Aansu,
Mere Dil Ka Kya Aalam Hai
Yeh Toh Tu Abhi Jaanata Nahi.

मोहब्बत के बाद मोहब्बत मुमकिन तो है,
पर टूट कर चाहना सिर्फ एक बार होता है।
Mohabbat Ke Baad Mohabbat Mumkin Toh Hai,
Par Toot Kar Chahna Sirf Ek Baar Hota Hai. 💔

सोचते रहते हैं रातभर करवट बदल बदलकर,
वो क्यों बदल गया, मुझको इतना बदलकर।
Sochate rahte hain raat bhar karwat badal badal kar,
Wo kyun badal gaya, mujhako itana badlkar. 💘

मोहब्बत के सपने वो दिखाते बहुत हैं,
रातों में वो हमको जगाते बहुत हैं,
मैं आँखों में काजल लगाऊं तो कैसे,
इन आँखों को लोग रुलाते बहुत हैं।
Mohabbat Ke Sapne Woh Dikhate Bahut Hain,
Raaton Mein Woh Humko Jagate Bahut Hain,
Main Aankho Mein Kajal Lagaun Toh Kaise,
Inn Aankho Ko Log Rulate Bahut Hain. 💔

खोया इतना कुछ कि हमें पाना न आया,
प्यार कर तो लिया पर जताना न आया,
आ गए तुम इस दिल में पहली नज़र में,
बस हमें आपके दिल में समाना ना आया।
Khoya Itna Kuchh Ke Humein Paana Na Aaya,
Pyaar Kar Toh Liya Par Jatana Na Aaya,
Aa Gaye Tum Iss Dil Mein Pahali Najar Mein,
Bas Humein Aapke Dil Mein Samana Na Aaya.💔

वो जिसे समझते थे ज़िन्दगी
मेरी धड़कनों का फरेब था,
मुझे मुस्कुराना सिखा के
वो मेरी रूह तक रुला गए।
Woh Jise Samjhte The Zindgi
Meri Dhadkano Ka Fareb Tha,
Mujhe Muskurana Sikha Ke
Woh Meri Rooh Tak Rula Gaye. 💘…

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 125 - Latest Yaad Shayari, Uski Yaado mein bhari hai

Latest Yaad Shayari, Uski Yaado mein bhari hai

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

नहीं कोई जरुरत याद रखने की हमे..
हम खुद ही याद आएँगे जहाँ जिक्र ऐ वफ़ा होगा।

उसकी यादों से भरी है मेरे दिल की तिजोरी
कोई कोहिनूर भी दे तो भी मैं सौदा ना करूँ। 💞

तुम याद नही करते, हम तुम्हे भुला नही सकते,
तुम्हारा और हमारा रिश्ता इतना खूबसूरत है। 💞

तेरी यादो की नौकरी में गजल की पगार मिलती हैं,
खर्च हो जाते हैं झूठे वादे वफ़ा कहाँ उधार मिलती हैं।

कभी कभी के तस्सवुर से ये दिल नहीं भरता,
मेरे ख्यालों में आओ तो बार-बार आया करो।

यूं ही गुज़र जाते हैं मीठे लम्हे मुसाफिरों की तरह..
और यादें वहीं खडी रह जाती हैं रूके रास्तों की तरह। 💞…

Continue Reading
shayarisms4lovers may18 46 - इंतज़ार शायरी Intezaar Shayari in Hindi

इंतज़ार शायरी Intezaar Shayari in Hindi

आज हम आपके लिए लाये है इंतज़ार शायरी खास आपके लिए…

कविता लिखने बैठी तो खिड़की से झांकती पेड़ों की फुनगियो पर बैठी
अलसाई धूप ने पूछा क्या सवेरे की नर्म धूप का उजाला है तुम्हारी कविता में …

Intezaar Shayari in Hindi

कविता लिखने बैठी तो
खिड़की से झांकती
पेड़ों की फुनगियो पर बैठी
अलसाई धूप ने पूछा
क्या सवेरे की नर्म धूप का
उजाला है तुम्हारी कविता में …

तभी अचानक एक चिड़िया
खिड़की के सरिए पर आ बैठी
अपने पंख फड़फड़ा कर बोली
क्या मेरे पांव की तरह
आसमान नापने की उमंग
है तुम्हारी कविता में …

फूलों पर मँडराती – इठलाती
रंग-बिरंगी तितली ने कहा
क्या मेरे पीछे दौड़ते-भागते
बच्चों के चेहरे पर आई
खुशी की खिलखिलाहट है …

रंम्भाते बछड़े की तरह
क्या तुम्हारी कविता
व्याकुल करती है किसी का हृदय
लौटाने के लिए …

या कोयल के स्वर की मिश्री
घोल पाती है किसी के मन प्राण में
वायु की तरह
नवजीवन का संचार करती है
या झरने-सा मधुर संगीत भरती है
चंद्रमा-सा शीतल सौंदर्य
क्या दृष्टिगत होता है
कविता में तुम्हारी …


IMG 20181025 193053 - इंतज़ार शायरी Intezaar Shayari in Hindi


कि तभी मोर ने पंख फैलाकर कहा
क्या बादलों सा प्यार
बरसाती है धरती पर
या मुझसामुग्ध करने वाला
नृत्य है तुम्हारी कविता में …

और फिर मेरी चुप पर
सब एक साथ हँसे
अब तक क्या सच में एक भी कविता
लिख पाई हो तुम
या आज तक बस पन्नों पर
श्याही बिखरती आई हो!


देख कर मेरा नसीब, मेरी तकदीर रोने लगी।

लहू के अल्फाज देख कर देख कर,

तहरीर रोने लगी ।हिज्र में दीवाने ,

की हालत कुछ ऐसी हुई ।

सूरत को देखकर, खुद तस्वीर रोने लगी।


Intezaar Shayari


कहते हैं लोग ,खुदा की इबादत है।

यह मेरी समझ में , तो एक जहालत है ।

चैन ना आए दिल को ,रात जाग कर गुजरे।

जरा बताओ दोस्तों ,क्या यही मोहब्बत है।


Aaj yu hi achanak wo fir yaad aaye


गम ‘ए’ हिजर से, जिसकी आंख ना रोई ।

भूल गई वो उसका, दीवाना है कोई ।

जिन से बिछड़कर हमने, आंसू ही बहाए ।

आज यूं ही अचानक, वो फिर याद आए ।

सितमगर बनके ………………!!

जिस्म का हमने, जिसे खून पिलाया ।

चाहत में खुशी की, उसने ही ठुकराया ।

क्या अपने क्या गैर ,सभी आजमाएं।

आज यूं ही अचानक, वो फिर याद आए ।

सितमगर बनके ………………!!

मेरे उजड़ने का जिसने ,गम ना मनाया ।

मेरा खून ‘ए’ जिगर। हाथों पर लगाया,

हमारी बर्बादी …

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 04 - शानदार 55 महफ़िल पर शायरी - Mahafil Status, Shayari In Hindi

शानदार 55 महफ़िल पर शायरी – Mahafil Status, Shayari In Hindi

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

शानदार 55 महफ़िल पर शायरी  – Mahafil Status, Shayari In Hindi

आज की पोस्ट 2 Line महफ़िल Status Hindi की हैं जिसमे पढ़ सकते हैं, “महफ़िल पर शायरी Facebook”, महफ़िल पर शायरी 4 Line और महफ़िल पर शायरी One Line शायरी के “Mahafl Status In Hindi”
आईये दोस्तों अब पढ़ते हैं महफ़िल शायरी के इस लाज़वाब कलेक्शन को जिसे अगल अलग सोशल मिडिया के माध्यम से संग्रह किया गया हैं खास आप सभी शायरी के चाहने वालो के लिए❗
मेरे लफ़्ज़ों को महफूज कर लो दोस्तों.
हमारे बाद बहुत सन्नाटा होगा, इस ✒  महफ़िल में.
Mere Labzo Ko Mafafuz Kar Lo Dosto,
Hamaare Baad Bahut Sannata Hoga Is Mahfil Me❗
उस अजनबी से हाथ मिलाने के वास्ते
✒  महफ़िल में सब से हाथ मिलाना पड़ा मुझे.
Us Ajanabi Se Hath Milane Ke Vaste,
Mahafil Me Sab Se Hath Milaana Pada❗
इतनी चाहत से न देखा कीजिए ✒  महफ़िल में आप
 शहर वालों से हमारी दुश्मनी बढ़ जाएगी.
Itani Chahat Se Na Dekha Kijiye Mahafil Me Aap,
Shahar Walo Se Hamaari Dushamani Badh Jaayegi❗
एक महफ़िल में कई ✒ महफ़िलें होती हैं शरीक
जिस को भी पास से देखोगे अकेला होगा
निदा फ़ाज़ली
Ek Mahafil Me Kayi Mahafile Hoti Hai Sharik,
Jis Ko Bhi Paas Se Dekhoge Akela Hoga❗
मुझ तक उस ✒ महफ़िल में फिर जाम-ए-शराब आने को है
उम्र-ए-रफ़्ता पलटी आती है शबाब आने को है.
फ़ानी बदायुनी
Mujh Tak Us Mahafil Me Fir Jaam-E-Sharaab Aane Ko Hai,
Umr-E-Rftaa Palati Aati Hai Shabaab Aane Ko Hai❗

महफ़िल पर शायरी

तुम्हारा जिक्र हुआ तो ✒ महफ़िल छोड़ आये,
गैरों के लबों पे तुम्हारा नाम अच्छा नहीं लगता.
Tumhaara Zikr Hua To Mahafil Chhod Aaye,
Gairo Ke labo Pe Tumhaara Naam Achchha Nahi Lagata❗
मैंने आंसू को समझाया, भरी ✒  महफ़िल में ना आया करो,
आंसू बोला, तुमको भरी महफ़िल में तन्हा पाते है,
इसीलिए तो चुपके से चले आते है.
Maine Ansu Ko Samjhaya, Bhari Mahafil Me Naa Aaya Karo,
Ansu Bola Tumako Bhari Mahafil Me Tnnha Paate Hai.
Isliye To Chupake Se Chale Aate Hai❗
देख के हमको वो सर झुकाते हैं,
बुला कर ✒ महफ़िल में नजरें चुराते हैं,
नफरत हैं तो कह देते हमसे,
गैरों से मिलकर क्यों दिल जलाते हैं..
Dekh Ke Hamako Wo Sar Jhukaate Hain,
Bula Kar Mahafil Me Nazare Churaate Hai❗
Nafarat Hai To Kah Dete Hamako.
Gairo Se Milkar Kyu Dil Jalaate Hai ❗
मुझे गरीब समझ कर ✒ महफिल से निकाल
Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 127 - हिंदी और उर्दू शायरी – दो लाइन शायरी – Daag , Perveen , Naqvi Shayari

हिंदी और उर्दू शायरी – दो लाइन शायरी – Daag , Perveen , Naqvi Shayari

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

न जाने कौन

न जाने कौन सा आसब दिल में बसता है
के जो भी ठहरा वो आखिर मकान छोड़ गया …

Na jane kaun

Na jane kaun sa aasaab dil mein basta hai
Ke jo bhi thehra wo aakhir makaan chod gaya


तुझी को पूछता रहा

बिछड़ के मुझ से , हलक़ को अज़ीज़ हो गया है तू ,
मुझे तो जो कोई भी मिला , तुझी को पूछता रहा

Tujhi ko puchta raha

Bichar ke mujh se, halaq ko aziz ho geya hai tu
Mujhe to jo koi mila, tujhi ko puchta raha


मेरे हम-सकूँ 

मेरे हम-सकूँ  का यह हुक्म था के कलाम उससे मैं कम करूँ ..
मेरे होंठ ऐसे सिले के फिर उसे मेरी चुप ने रुला दिया …

Mere hum-sukhan

Mere hum-sukhan ka yeh hukm tha ke kalaam us se main kam karoon..
mere hont aise sile ke phir usey meri chup ne rula diya ….


यह शब-ऐ-हिजर

यह शब-ऐ-हिजर तो साथी है मेरी बरसों से
जाओ सो जाओ सितारों के मैं ज़िंदा हूँ अभी

Shab-ae-hizar

Yeh Shab-ae-hizar To Sathi Hai Meri Barsoon Se
Jao So Jao Sitaro Ke Main Zinda Hoon Abhi


न आना तेरा

ले चला जान मेरी रूठ के जाना तेरा
ऐसे आने से तो बेहतर था न आना तेरा

Na aanaa Tera

Le chalaa jaan meri ruth ke jaana tera
aise aane se to behtar tha na aanaa tera…

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 42 - किस ने की थी वफ़ा जो हम करते – Faraz Ahmed Shayari

किस ने की थी वफ़ा जो हम करते – Faraz Ahmed Shayari

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

नाकामी

अपनी नाकामी का एक यह भी सबब है ” फ़राज़ ”
चीज़ जो भी मांगते हैं सब से जुदा मांगते हैं

Naakami

Apni Naakami Ka Ek Yeh Bhi Sabab Hai “Faraz”
Cheez Jo Maangte Hain Sub Se Juda Maangte Hain


बरसो के प्यासे

बस इतना ही कहा था हम बरसो के प्यासे हैं ” फ़राज़ “
होंटो को उस ने चूम कर खामोश कर दिया .

Barso ke pyase

bus itna hi kaha tha hum barso ke pyase hain “Faraz”
honto ko us ne choom kar khamosh kar diya.


बिछडने का सलीका

उस को तो बिछडने का सलीका भी नहीं आया ” फ़राज़ “
जाते हुए वो खुद को यहीं छोड़ गया

Bicharne ka Saleeka

Us ko to Bicharne ka Saleeka bhi nahi ayaa “Faraz”
Jate hue Khud ko yahin Chor gaya.


तेरे जाने के बाद

अकेले तो हम पहले भी जी रहे थे ” फ़राज़ “
क्यों तन्हा से हो गए है तेरे जाने के बाद

Tere Jane Ke Baad

Akele To Hum Pehle Bhi Ji Rahe The “Faraz”
Kyon Tanha Se Ho Gaye Hai Tere Jane Ke Baad


दो गज़ कफ़न

ऐ इंसान इब्न-ऐ -आदम से नंगा आया है तू ” फ़राज़ ”
कितना सफर किया है तूने दो गज़ कफ़न के लिये

Do Ghaz Kafan

Ae Insaan Ibn-E-Aadam Se Nanga Aya Hai To “Faraz”
Kitna Safar Kiya Hai tune do Ghaz Kafan Ke Liye.


वफ़ा

मेरे शिकवों पर उस ने हँस के कहा ” फ़राज़ “
किस ने की थी वफ़ा जो हम करते

Wafa

Mere Shikwon Par Us Ne Hans Ke Kaha
Kis Ne Ki thi Wafa Jo Hum Karte


बेवफाई का क़िस्सा

हम सुना रहे थे अपनी बेवफाई का क़िस्सा ” फ़राज़ “
अफ़सोस इस बात का है लोगो ने तो वाह वाह कहा , उन्होंने भी वाह वाह कहा

Bewafai Ka Qissa

Hum Suna Rahe The Apni Bewafai Ka Qissa “Faraz”
Afsos is Baat Ka hai logo Ne To Wah Wah kaha,Unhone Bhi Wah Wah Kaha…

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 227 - हमारी उल्फ़त का यूँ न लो इम्तिहान की दुनिया हँसे हम पे

हमारी उल्फ़त का यूँ न लो इम्तिहान की दुनिया हँसे हम पे

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

इश्क़ का मुक़दमा

हमने किया है दाखिल इश्क़ का मुक़दमा तेरे हुस्न के दरबार में
अब हर रोज़ आते है यह फ़रियाद लिए की कोई आवाज़ तो देगा
हमारी उल्फ़त का यूँ  न लो इम्तिहान की दुनिया हँसे हम पे
एक दिन तो तुम्हे होना है मेरा यह यक़ीन है मुझे मेरे इश्क़ पर

Ishq ka muqadma

Humne kiya hai dakhil ishq ka muqadma tere husn ke darbar mein
Ab har roz ate hai yeh fariyaad liye ki koi awaaz to dega
Hamari ulfat ka yoon na lo imtihaan ki duniya hase hum pe
Ek din to tumhe hona hai mera yeah yakin hai mujhe mere ishq par…


यह रंज -ओ -गम क्यों

न थी ख्वाइश हिजर की न माँगी खुदाई फिर यह रंज क्यों
है इश्क़ बदनाम तो फिर यह तालुक क्यों यह जुस्तजू क्यों
जब इश्क़ नाम है जुदाई है तो यह रंज -ओ -गम क्यों .

Yeh ranj-o-gam kyon

Na thi khwaish hijar ki na mangi khudai phir yeah ranj kyon
Hai ishq badaam to phir yeh taluq kyon yeah justaju kyon
Jab ishq naam hai judai hai to yeh ranj-o-gam kyon…


बरसों तन्हाँ तेरे इश्क़ में

बरसों तन्हाँ तेरे इश्क़ में हर पल का हिसाब रखा है
मांगेंगे हर उस पल का हिसाब जो हिजर में हमने काटा है

Barsoon tanhaa tere ishq mein

Barsoon tanhaa tere ishq mein har pal ka hisab rakha hai
mangein har us pal ka hisab jo hijar mein humne kata hai…


दिल था एक शोला

दिल था एक शोला , मगर बीत गए दिन वो “ग़ालिब” ,
अब कुरेदो न इसे , राख में क्या रखा है …

Dil thaa ek shola

Dil thaa ek shola, magar beet gaye din woh “Galib” ,
Aab kuredo na ise, raakh mein kya rakha hai……

Continue Reading
shayarisms4lovers may18 33 - आज फिर दर्द -ओ -गम के चिराग जले

आज फिर दर्द -ओ -गम के चिराग जले

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

आज फिर दर्द -ओ -गम के चिराग जले
आज फिर दौर -ऐ -महफ़िल रात भर चले
आज फिर नज़र -ऐ तराना पेश कर चले
आज फिर तेरी महफ़िल से बे -आबरू हो चले

aaj phir dard-o-gam ke chirag jale
aaj phir daur-ae-mehfil raat bhar chale
aaj phir nazar-ae tarana pesh kar chale
aaj phir teri mehfil se be-abru ho chale


मिट गई हस्ती पर गुमाँ -ऐ – बयान न गया
हर कोई छू के गया पर दर्द -ऐ -दिल न गया
कोशिश -ऐ-नाकाम की हमने पर सूरत -ऐ -यार भुलाया न गया

mit gaye hasti par guman-ae-byaan na gaya
har koi chuu ke gaya par dard-ae-dil na gaya
kosish-ae-nakaam ki humne par surat-ae-yaar bhulaya na gaya…

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 224 - Ham tumase door kaise rah pate, Shayari

Ham tumase door kaise rah pate, Shayari

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

Love Shayari for Missing

हम तुमसे दूर कैसे रह पाते,
दिल से तुमको कैसे भूल पाते,
काश तुम आईने में बसे होते,
ख़ुद को देखते तो तुम नज़र आते।।

Ham tumase door kaise rah pate,
Dil se tumako kaise bhool pate,
Kaash tum aaine mein base hote,
Khud ko dekhte to tum nazar aate.. …

Continue Reading
Page 1 of 3
1 2 3