shayarisms4lovers June18 261 - Pyar Par Shayari, Swad mere ishq ka tumne chakha nahi shayari

Pyar Par Shayari, Swad mere ishq ka tumne chakha nahi shayari

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

Pyar Par Shayari, Ruthna Mat Humse Kabhi Mana Nahi Payenge

रूठना मत कभी हमसे, मना नही पायेंगे,
तेरी वो कीमत है मेरी जिंदगी में..
कि शायद हम अदा नहीं कर पायेंगे।

इश्क तो तुमसे ही था,
सदियों तलक तुमसे ही रहेगा,
फर्क बस इतना है,
पहले तेरी बातों में खोये रहते थे,
अब तेरी यादों में डूबे रहते है।

स्वाद मेरे इश्क का तुमने चखा नहीं है,
थोड़ा-सा कड़वा है पर बेवफा नहीं।

जरूरी नही हर चाहत का मतलब इश्क़ हो,
कभी कभी कुछ अंजान रिश्तों के लिए भी दिल बेचैन हो जाता है।

दिल का हाल बताना नहीं आता,
किसी को ऐसे तड़पाना नहीं आता,
सुनना चाहते हैं आपकी आवाज़,
मगर बात करने का बहाना नहीं आता ।

क्या कशिश थी उसकी आँखों में मत पूछो,
मुझ से मेरा दिल लड़ पड़ा.. मुझे यही चाहिये।

आ लिख दू कूछ तेरे बारे मे मुझे पता है कि..
तुम रोज ढूढँते हो खुद को मेरे अल्फाजो मे।…

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 261 - हिंदी में सैड शायरी, टूटा हो दिल तो दुःख होता है

हिंदी में सैड शायरी, टूटा हो दिल तो दुःख होता है

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

अभी धुप☀ निकलने के बाद भी‌ जो सोया😴💤 है,
वो तेरी👧 याद😍 में रात🌙 भर रोया😭 है।

आज किसी ने मुझसे पूछ ही लिया,
जुबां बहुत मीठी है ज़ख़्म गहरा तो नही। 😭

टूटा हो दिल तो दुःख होता है,
करके मोहब्बत किसी से ये दिल रोता है,
दर्द का एहसास तो तब होता है,
जब किसी से मोहब्बत हो और उसके दिल में कोई और होता है।

एक सलाह देता हूँ… हो सके तो अपना लेना
इश्क़ नाम का शख्श मिले तो नजरें हटा लेना। 💔

जाने दुनिया में ऐसा क्यों होता है,
जो सबको खुशी दे वही क्यों रोता है,
उम्र भर जो साथ न दे सके,
वही ज़िन्दगी का पहला प्यार क्यों होता है? ❤💫❤

हमने भी किसी से प्यार किया था,
हाथो मे फूल लेकर इंतेज़ार किया था,
भूल उनकी नही भूल तो हमारी थी,
क्यों की उन्हो ने नही, हमने उनसे प्यार किया था।

टूटे हुए प्याले में जाम नहीं आता,
इश्क़ में मरीज को आराम नहीं आता,
ये बेवफा दिल तोड़ने से पहले ये सोच तो लिया होता
के टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता।…

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 60 - 100+ Latest Sad Shayari in Hindi for Whatsapp 2019

100+ Latest Sad Shayari in Hindi for Whatsapp 2019

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>
Sad Shayari : Read and share best sad shayari in hindi for love. Find best sad sms 2019, latest emotional shayari, cool painful shayari hindi me, broken heart status in hindi for whatsapp, sad status images, fb status on sad mood in hindi and sad shayari and life status in hindi for girlfriend and boyfriend.

Very Sad Shayari / Status With images 

मुझें छोड़कर Wo खुश हैं, तो शिकायत कैसी.. अब मैं उन्हें खुश भी न देखूं तो मोहब्बत कैसी..

new sad love shayari in hindi

कभी रो के मुस्कुराए, कभी मुस्कुरा के रोए,

जब भी तेरी याद आई तुझे भुला के रोए,

एक तेरा ही तो नाम था जिसे हज़ार बार लिखा,

जितना लिख के खुश हुए उस से ज़यादा मिटा के रोए.

best sad love status in hindi

काश तू मेरी आँखों का आँसू बन जाए, मैं रोना ही छोड़ दूँ तुझे खोने के डर Se..

best sad shayari image wallpaper hd

कोई भी ✔इन्सान उसी 👉🏻व्यक्ति👈🏻 की बातें चुपचाप 🙇सुनता है,

जिसे खो❌ देने का डर उसे सबसे 👉🏻ज्यादा👈🏻 होता है…!!🙇😔

top sad moment status

TUM से बिछड के फर्क बस इतना हुआ … तेरा गया कुछ नहीँ और मेरा रहा कुछ नहीँ…!

sad friendship status in hindi

मज़बूरी में जब कोई जुदा होता है,

ज़रूरी नहीं कि वो बेवफ़ा होता है,

देकर वो आपकी आँखों में आँसू,

अकेले में वो आपसे ज्यादा रोता है.

cute sad status for whatsapp

तैरना तो आता था हमे मोहब्बत के समंदर Mein लेकिन, जब उसने हाथ ही नही पकड़ा तो डूब जाना अच्छा लगा

top sad and love shayari 2019

एक अजीब सा मंजर नज़र आता है,

हर एक आँसूं समंदर नज़र आता हैं,

कहाँ रखूं मैं शीशे सा दिल अपना,

हर किसी के हाथ मैं पत्थर नज़र आता हैं.

very sad shayari in urdu

वो अक्सर मुझसे पूछा करती थी, TUM मुझे कभी छोड़ कर तो नहीं जाओगे, काश मैंने भी पूछ लिया होता..

sad shayari sms for facebook

मुझे को अब तुझ से भी मोहब्बत नहीं रही,

आई ज़िंदगी तेरी भी मुझे ज़रूरत नहीं रही,

बुझ गये अब उस के इंतेज़ार के वो जलते दिए,

कहीं भी आस-पास उस की आहट नहीं रही.

cool sad hindi shayari on sad love

ये तेरा वहम है के हम तुम्हे ‪भूल‬ जायेगे..वो ‪शहर‬ तेरा होगा, जहाँ बेवफा लोग बसा करते है..

new romantic sad shayari 2019

तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है,

जिसका रास्ता बहुत खराब है,

मेरे ज़ख्म का अंदाज़ा न …

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 42 - Dushman Dushmani Par Shayari

Dushman Dushmani Par Shayari

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>
Karein Hum Dushmani Kis Se, Koyi Dushman Nahi Apna,
Mohabbat Ne Nahi Chhodi, Jagah Dil Mein Adaawat Ki.
करें हम दुश्मनी किससे, कोई दुश्मन नहीं अपना,
मोहब्बत ने नहीं छोड़ी, जगह दिल में अदावत की।Dushmani Ka Safar Ek Kadam Do Kadam,
Tum Bhi Thak Jaoge, Hum Bhi Thak Jayenge.
दुश्मनी का सफ़र एक कदम दो कदम,
तुम भी थक जाओगे, हम भी थक जाएंगे।

Dushmani Jam Ke Karo Par Itni Gunjaish Rahe,
Kal Jo Hum Dost Ban Jayein To Sharminda Na Ho.
दुश्मनी जम के करो पर इतनी गुंजाईश रहे,
कल जो हम दोस्त बन जाये तो शर्मिंदा न हो।

Bina Maqsad Bahut Mushkil Hai Jeena,
Khuda Aabaad Rakhna Dushmano Ko Mere.
बिना मकसद बहुत मुश्किल है जीना​,
खुदा आबाद रखना दुश्मनों को​ मेरे।​

Meri Narajgi Par Hak Mere Ahbaab Ka Hai Bas,
Bhala Dushman Se Bhi Koi Kabhi Naraj Hota Hai.
मेरी नाराज़गी पर हक़ मेरे अहबाब का है बस,
भला दुश्मन से भी कोई कभी नाराज़ होता है।

Aise Bigde Ke Phir Zafa Bhi Na Ki,
Dushmani Ka Haq Adaa Bhi Na Hua.
ऐसे बिगड़े कि फिर जफ़ा भी न की,
दुश्मनी का भी हक अदा न हुआ।

दोस्तो से अच्छे तो मेरे दुश्मन निकले,,
कमबख्त हर बात पर कहते हैं कि तुझे छोडेंगे नहीं.

Ye Keh Kar Mere Dushman,
Mujhe Hansta Chor Gaya,
K Tere Apne Hi Kafi Hai,
Tuhje Rulane K Liye.

Dushman ko hazaar mauke do,
Ki woh tumhara dost ban jaye.
Lekin dost ko ek bhi mauka mat do,
Ki woh tumhara dushman ban jaye.

Chalo dushman se mulakaat kare,
Naya saal aaya hai nayi baat kare,
Majhab k naam pe kyu danga-fasaad,
Yahi sawalaat aaj har shaks se kare,
Na rahe koyi bhi bhuka pyasa,
Milkar jamane k aise halaat kare,
Jo kare atyachaar begunaho par,
Dundkar unko chalo hawalaat kare,
Gujarish h jamane se roz yahi ,
Mulk mein aman ki barsaat kare.

Dost Bankar Is Kadar Dushmani Ki Hai,
Jaise Naajuk Aaine Se Dillagi Ki Hai,
Jo Ik Najar Dekhne Se Hi Bikhar Gaya,
Yun Rokar, Basar Humne Zindagi Ki Hai.

Dushman samne aane se darte thae..
aur wo pagli dil se khel kar chalі gayi..

Gunah Karke Saza Se Darte Hain,
Zahar Pee Ke Dawa Se Darte Hain,
Dushmano Ke Sitam Ka Khauff Nahi,
Hum Toh Doston Ki Wafa Se Darte Hain!

Mujhe Dekh kar Hi Dar Jate Hain Log,
Raston Me Milte Hi Katrate Hain Log,
Meri Yaari Jab

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 54 - Latest Sad Shayari in Hindi, Tum Kitab the

Latest Sad Shayari in Hindi, Tum Kitab the

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

हम किताब थे किताब ही रह गए,
तुम कहानी थे और बदलते चले गये।

तू पल भर के लिए मेरी नज़रो के सामने आजा,
एक मुद्द्त से मैंने खुद को आईने में नहीं देखा!!

सुनो इश्क अब नया सा करने लग गऐ है हम,
हुस्न को छोड़ शराब पर मरने लग गऐ हैं हम..!!

महफ़िल ना सही तन्हाई तो मिलती है,
मिलें ना सही जुदाई तो मिलती है,
प्यार में कुछ नहीं मिलता..
वफ़ा ना सही बेवफ़ाई तो मिलती है।

​कहाँ से ​लाऊ हुनर उसे मनाने का​,
कोई जवाब नहीं था उसके रूठ जाने का​,
​मोहब्बत में सजा मुझे ही मिलनी थी​,
​क्यूंकी जुर्म मैंने किया ​था ​उससे दिल लगाने का​। 💔 💔 😭…

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 149 - हिंदी में सैड शायरी और स्टेटस, सिर्फ चेहरे की उदासी से

हिंदी में सैड शायरी और स्टेटस, सिर्फ चेहरे की उदासी से

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

सिर्फ चेहरे की उदासी से
भर आये तेरी आँखों में आँसू,
मेरे दिल का क्या आलम है
ये तो तू अभी जानता नहीं।
Sirf Chehre Ki Udaasi Se
Bhar Aaye Teri Aankhon Mein Aansu,
Mere Dil Ka Kya Aalam Hai
Yeh Toh Tu Abhi Jaanata Nahi.

मोहब्बत के बाद मोहब्बत मुमकिन तो है,
पर टूट कर चाहना सिर्फ एक बार होता है।
Mohabbat Ke Baad Mohabbat Mumkin Toh Hai,
Par Toot Kar Chahna Sirf Ek Baar Hota Hai. 💔

सोचते रहते हैं रातभर करवट बदल बदलकर,
वो क्यों बदल गया, मुझको इतना बदलकर।
Sochate rahte hain raat bhar karwat badal badal kar,
Wo kyun badal gaya, mujhako itana badlkar. 💘

मोहब्बत के सपने वो दिखाते बहुत हैं,
रातों में वो हमको जगाते बहुत हैं,
मैं आँखों में काजल लगाऊं तो कैसे,
इन आँखों को लोग रुलाते बहुत हैं।
Mohabbat Ke Sapne Woh Dikhate Bahut Hain,
Raaton Mein Woh Humko Jagate Bahut Hain,
Main Aankho Mein Kajal Lagaun Toh Kaise,
Inn Aankho Ko Log Rulate Bahut Hain. 💔

खोया इतना कुछ कि हमें पाना न आया,
प्यार कर तो लिया पर जताना न आया,
आ गए तुम इस दिल में पहली नज़र में,
बस हमें आपके दिल में समाना ना आया।
Khoya Itna Kuchh Ke Humein Paana Na Aaya,
Pyaar Kar Toh Liya Par Jatana Na Aaya,
Aa Gaye Tum Iss Dil Mein Pahali Najar Mein,
Bas Humein Aapke Dil Mein Samana Na Aaya.💔

वो जिसे समझते थे ज़िन्दगी
मेरी धड़कनों का फरेब था,
मुझे मुस्कुराना सिखा के
वो मेरी रूह तक रुला गए।
Woh Jise Samjhte The Zindgi
Meri Dhadkano Ka Fareb Tha,
Mujhe Muskurana Sikha Ke
Woh Meri Rooh Tak Rula Gaye. 💘…

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 04 - शानदार 55 महफ़िल पर शायरी - Mahafil Status, Shayari In Hindi

शानदार 55 महफ़िल पर शायरी – Mahafil Status, Shayari In Hindi

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

शानदार 55 महफ़िल पर शायरी  – Mahafil Status, Shayari In Hindi

आज की पोस्ट 2 Line महफ़िल Status Hindi की हैं जिसमे पढ़ सकते हैं, “महफ़िल पर शायरी Facebook”, महफ़िल पर शायरी 4 Line और महफ़िल पर शायरी One Line शायरी के “Mahafl Status In Hindi”
आईये दोस्तों अब पढ़ते हैं महफ़िल शायरी के इस लाज़वाब कलेक्शन को जिसे अगल अलग सोशल मिडिया के माध्यम से संग्रह किया गया हैं खास आप सभी शायरी के चाहने वालो के लिए❗
मेरे लफ़्ज़ों को महफूज कर लो दोस्तों.
हमारे बाद बहुत सन्नाटा होगा, इस ✒  महफ़िल में.
Mere Labzo Ko Mafafuz Kar Lo Dosto,
Hamaare Baad Bahut Sannata Hoga Is Mahfil Me❗
उस अजनबी से हाथ मिलाने के वास्ते
✒  महफ़िल में सब से हाथ मिलाना पड़ा मुझे.
Us Ajanabi Se Hath Milane Ke Vaste,
Mahafil Me Sab Se Hath Milaana Pada❗
इतनी चाहत से न देखा कीजिए ✒  महफ़िल में आप
 शहर वालों से हमारी दुश्मनी बढ़ जाएगी.
Itani Chahat Se Na Dekha Kijiye Mahafil Me Aap,
Shahar Walo Se Hamaari Dushamani Badh Jaayegi❗
एक महफ़िल में कई ✒ महफ़िलें होती हैं शरीक
जिस को भी पास से देखोगे अकेला होगा
निदा फ़ाज़ली
Ek Mahafil Me Kayi Mahafile Hoti Hai Sharik,
Jis Ko Bhi Paas Se Dekhoge Akela Hoga❗
मुझ तक उस ✒ महफ़िल में फिर जाम-ए-शराब आने को है
उम्र-ए-रफ़्ता पलटी आती है शबाब आने को है.
फ़ानी बदायुनी
Mujh Tak Us Mahafil Me Fir Jaam-E-Sharaab Aane Ko Hai,
Umr-E-Rftaa Palati Aati Hai Shabaab Aane Ko Hai❗

महफ़िल पर शायरी

तुम्हारा जिक्र हुआ तो ✒ महफ़िल छोड़ आये,
गैरों के लबों पे तुम्हारा नाम अच्छा नहीं लगता.
Tumhaara Zikr Hua To Mahafil Chhod Aaye,
Gairo Ke labo Pe Tumhaara Naam Achchha Nahi Lagata❗
मैंने आंसू को समझाया, भरी ✒  महफ़िल में ना आया करो,
आंसू बोला, तुमको भरी महफ़िल में तन्हा पाते है,
इसीलिए तो चुपके से चले आते है.
Maine Ansu Ko Samjhaya, Bhari Mahafil Me Naa Aaya Karo,
Ansu Bola Tumako Bhari Mahafil Me Tnnha Paate Hai.
Isliye To Chupake Se Chale Aate Hai❗
देख के हमको वो सर झुकाते हैं,
बुला कर ✒ महफ़िल में नजरें चुराते हैं,
नफरत हैं तो कह देते हमसे,
गैरों से मिलकर क्यों दिल जलाते हैं..
Dekh Ke Hamako Wo Sar Jhukaate Hain,
Bula Kar Mahafil Me Nazare Churaate Hai❗
Nafarat Hai To Kah Dete Hamako.
Gairo Se Milkar Kyu Dil Jalaate Hai ❗
मुझे गरीब समझ कर ✒ महफिल से निकाल
Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 42 - किस ने की थी वफ़ा जो हम करते – Faraz Ahmed Shayari

किस ने की थी वफ़ा जो हम करते – Faraz Ahmed Shayari

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

नाकामी

अपनी नाकामी का एक यह भी सबब है ” फ़राज़ ”
चीज़ जो भी मांगते हैं सब से जुदा मांगते हैं

Naakami

Apni Naakami Ka Ek Yeh Bhi Sabab Hai “Faraz”
Cheez Jo Maangte Hain Sub Se Juda Maangte Hain


बरसो के प्यासे

बस इतना ही कहा था हम बरसो के प्यासे हैं ” फ़राज़ “
होंटो को उस ने चूम कर खामोश कर दिया .

Barso ke pyase

bus itna hi kaha tha hum barso ke pyase hain “Faraz”
honto ko us ne choom kar khamosh kar diya.


बिछडने का सलीका

उस को तो बिछडने का सलीका भी नहीं आया ” फ़राज़ “
जाते हुए वो खुद को यहीं छोड़ गया

Bicharne ka Saleeka

Us ko to Bicharne ka Saleeka bhi nahi ayaa “Faraz”
Jate hue Khud ko yahin Chor gaya.


तेरे जाने के बाद

अकेले तो हम पहले भी जी रहे थे ” फ़राज़ “
क्यों तन्हा से हो गए है तेरे जाने के बाद

Tere Jane Ke Baad

Akele To Hum Pehle Bhi Ji Rahe The “Faraz”
Kyon Tanha Se Ho Gaye Hai Tere Jane Ke Baad


दो गज़ कफ़न

ऐ इंसान इब्न-ऐ -आदम से नंगा आया है तू ” फ़राज़ ”
कितना सफर किया है तूने दो गज़ कफ़न के लिये

Do Ghaz Kafan

Ae Insaan Ibn-E-Aadam Se Nanga Aya Hai To “Faraz”
Kitna Safar Kiya Hai tune do Ghaz Kafan Ke Liye.


वफ़ा

मेरे शिकवों पर उस ने हँस के कहा ” फ़राज़ “
किस ने की थी वफ़ा जो हम करते

Wafa

Mere Shikwon Par Us Ne Hans Ke Kaha
Kis Ne Ki thi Wafa Jo Hum Karte


बेवफाई का क़िस्सा

हम सुना रहे थे अपनी बेवफाई का क़िस्सा ” फ़राज़ “
अफ़सोस इस बात का है लोगो ने तो वाह वाह कहा , उन्होंने भी वाह वाह कहा

Bewafai Ka Qissa

Hum Suna Rahe The Apni Bewafai Ka Qissa “Faraz”
Afsos is Baat Ka hai logo Ne To Wah Wah kaha,Unhone Bhi Wah Wah Kaha…

Continue Reading
shayarisms4lovers may18 41 - तेरे वादे पर सितमगर – Daag Dehlvi

तेरे वादे पर सितमगर – Daag Dehlvi

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

तेरे वादे पर सितमगर अभी और सब्र करते

अजब अपना हाल होता जो विसाल-ऐ-यार होता
कभी जान सदके होती कभी दिल निसार होता

न मज़ा है दुश्मनी में न है लुत्फ़ दोस्ती में
कोई गैर गैर होता कोई यार यार होता

यह मज़ा था दिल्लगी का के बराबर आग लगती
न तुम्हें क़रार होता न हमें क़रार होता

तेरे वादे पर सितमगर अभी और सब्र करते
अगर अपनी ज़िन्दगी का हमें ऐतबार होता

Tere Waade Par Sitamgar Abhi Aur Sabr Karte

Ajab Apna Haal Hota Jo Visaal-AE-Yaar Hota
Kabhi Jaan Sadqe Hoti Kabhi Dil Nisaar Hota

Na Mazaa Hai Dushmani Main Na Hai Lutf Dosti Main
Koi Gair Gair Hota Koi Yaar Yaar Hota

Ye Mazaa Tha Dillagi Ka Ke Barabar Aag Lagti
Na Tumhen Qaraar Hota Na Hamein Qaraar Hota

Tere Waade Par Sitamgar Abhi Aur Sabr Karte
Agar Apni Zindagi Ka Hamein Aitbaar Hota…

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 39 - Sad Shayri

Sad Shayri

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

Kyun pyaar karne ki hadein hoti hein,
Kyun dil dene ki waje hoti hein,
Kyun jazbaaton ko dabana padta hai,
Kyun iss dil ko samjana padta hai,
Kyun har dil ko ye mehsoos nahin hota,
Kyun sabko ye manzoor nahin hota,
Kyun dil se dil nahin milta,
Kyun pyaar ka phool nahin khilta,
Kyun dil ke naghme dil nahin gaata,
Dil mein kya hai ye keh nahin pata,
Kya dil dene ki yahi saza hai,
Kya pyaar karne mein yahi mazaa hai.

Baat din ki nahi ab raat se dar lagta hai,
Ghar hai kaccha mera, barsaat se dar lgta hai,
Tere tohfe ne to bas khoon ke aansoo hi diye,
Zindagi ab teri saugaat se dar lagta hain!!
Pyaar ko chhod kar tum aur koi baat karo,
Ab mujhe pyar ki har baat se dar lagta hai!!

Sabhi ko sab kuchh nahi milta,
Nadi ki har lehar ko sahil nahi milta,
Yeh dil walo ki duniya hain dost,
Kisi se dil nahi milta to koi dil se nahi milta.

बिछड़ के तुम से ज़िंदगी सज़ा लगती है,
यह साँस भी जैसे मुझ से ख़फ़ा लगती है ।
तड़प उठता हूँ दर्द के मारे,
ज़ख्मों को जब तेरे शहर की हवा लगती है ।
अगर उम्मीद-ए-वफ़ा करूँ तो किस से करूँ,
मुझ को तो मेरी ज़िंदगी भी बेवफ़ा लगती है।
Bichad Ke Tum Se Zindagi Saza Lagti Hai,
Yeh Saans Bhi Jaise Mujh Se Khafa Lagti Hai,
Tadap Uthte Hain Dard Ke Maare,
Zakhmon Ko Jab Tere Sheher Ki Hawa Lagti Hai,
Agar Umeed E Wafa Karun To Kis Se Karun,
Mujh KoToh Meri Zindagi Bhi Bewafa Lagti Hai.

Yaad toh har koi karega jaane ke baad,
Sache pyar ka pata chal jaayega waqt aane ke baad,
Kaun kitni mohabbat karta hai,
Nazar aajayega mere marr jaane ke baad.

Har khushi Hai Logon Ke Daman Mein,
Par Ek Hansi Ke Liye Waqt Nahi.
Din Raat Daudti Duniya Mein,
Zindagi Ke Liye Hi Waqt Nahi.
Maa Ki Loree Ka Ehsaas To Hai,
Par Maa Ko Maa Kehne Ka Waqt Nahi.
Saare Rishton Ko To Hum Maar Chuke,
Ab Unhe Dafnane Ka Bhi Waqt Nahi.
Saare Naam Mobile Mein Hain,
Par Dosti Ke Lye Waqt Nahi.
Gairon Ki Kya Baat Karen,
Jab Apno Ke Liye Hi Waqt Nahi.
Aankhon Me Hai Neend Badee,
Par Sone Ka Waqt Nahi.
Dil Hai Ghamon Se Bhara Hua,
Par Rone Ka Bhi Waqt Nahi.
Paison ki …

Continue Reading
shayarisms4lovers may18 76 - Sad Shayari in Hindi for Life

Sad Shayari in Hindi for Life

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

Bewafa Shayari

A.1:-क्यों नाम दूँ उसे बेवफ़ा का वो तो वक़्त था जिसे मेरी हँसी देखी नही गयी !!

A.2:-Ik rishta tha, do dil thay.. Aur mohabbat b..! Deeware thi, mazhab tha… Aab muqaamaal judai hai..!

A.3:-कतरा कतरा आग बन के जला रही है यादे तेरी••• बरस के इश्क तू भी दिल की लगी बुझा•••○

A.4:-तरा कतरा आग बन के जला रही है यादे तेरी••• बरस के इश्क तू भी दिल की लगी बुझा•••○

A.5:-ना_जाने_क्यों ये दिल इतना नादान बेवफा के लिए ही रोता है अश्क बहाता है आँखों से पर लब खामोश

A.6:-हर किसी के नसीब में कहा लिखी होती हे चाहतें कुछ लोग दुनिया में आते हे सिर्फ तन्हाइयों के लिए.

A.7:-आसान ये भी नहीँ, कि तुम किसी के लिये जियो, और वो किसी और के लिये…!!!

A.8:-मुँह फेर कर बैठे हो यूं बेरुखी से पल ही बीता हैं पर लगा रहा है सदियों से

A.9:-तन्हाई सौ गुना बेहतर है …. झूठे वादों से ….. झूठे लोगों से .

A.10:-जरा परदे मेँ रहकर बाहोँ मेँ समाओ किसी गैर की, कहीँ कोई देख ना ले तुम्हेँ, मेरी खुशियोँ का कत्ल करते हुये…!!

A.11:-इस दुनिया मेँ अजनबी रहना ही ठीक है…. लोग बहुत तकलीफ देते है अक्सर अपना बना कर !!

A.12:-‐ कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी।

A.13:-उसकी दर्द भरी आँखों ने जिस जगह कहा था अलविदा आज भी वही खड़ा है दिल उसके आने के इंतज़ार में.

A.14:-बेहद हदें पार की थी हमने कभी किसी के लिए, आज उसी ने सिखा दिया हद में रहना….!!

A.15:-इन्सान सब कुछ भूल सकता हैं सिवये उन पलों के जब उसे अपनो की ज़रूरत थी और वे साथ नहीँ थे …..

A.16:-Jeene ki khwahish me har roz mrte hain… Wo aaye na aaye hum “intezar” krte hain… Jhutha hi sahi mere yaar ka waada… Hum aaj bhi sach maankar unpar etbaar krte hain…

A.17:-Jisne kabhi chahton ka paigaam likha tha, Jisne apna sab kuch mere naam likha tha, Suna hai aaj use mere zikr se bhi nafrat hai, Jisne kabhi apne dil par mera naam likha tha.

A.18:-Har gum ki dawaa nahi hoti, kya hota jo dua nahi hoti, Be-khauff log tod dete hai dil,ye soch kar ki is jurm ki koi …

Continue Reading
shayarisms4lovers may18 30 - Ladkiya bewafa nahi hoti | Short Hindi Poems on Girls

Ladkiya bewafa nahi hoti | Short Hindi Poems on Girls

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

Larkiyaan Bewafaa nahi hoti
Wo to majburiyo mein lipti hain

Apne shiddat bhare khyaloon mein
Apne ander chhupi ek aurat mein

Wo hamesha hi darti rehti hain
Na to jeeti hain na to marti hain

Apne reet or rawajoon se
Aane wale naye azaboon se

Zarurat mein khile ghulaboon se
Pyaar karti hain or chhupati hain

Larkiyaan Bewafaa nahi hoti
Kyu k majborioon mein lepti hain

Aur har lamha darti rehti hain
Apne pyaar se, apne saye se

Apne rishton se, dil ki dharkan se
Apni khwahish, se apni kushioon se……

Continue Reading
shayarisms4lovers may18 83 - Awesome Dard Bhari Hindi Poetry

Awesome Dard Bhari Hindi Poetry

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

Mere pehlu mein bhi ek shama jala karti h
Jiski lou se teri tasveer bana karti hain,

Samne tere zuban band hi rehti hai magar,
Dil ki jo baat hai wo aankh bayan karti hai,

Chup kyu ho humse koi baat karo ae-dilwar,
Aise khamoshi se to takleef badaa karti hai,

Shamma jalti h to zamane ko pata chalta h,
Dil k jalne ki khabar aakhir kisko hua karti h

Continue Reading

Nafrat Shayari Collection

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

Mohabbat Hai Ki Nafrat Hai,
Koi Itna Toh Samjhaye,
Kabhi Main Dil Se Larti Hun,
Kabhi Dil Mujh Se Larta Hai..!

Mohabbat Hai Ki Nafrat Hai,
Koi Itna Toh Samjhaye,
Kabhi Main Dil Se Larti Hun,
Kabhi Dil Mujh Se Larta Hai..!

Teri Nafrat Ma Wo Dam Nahi,
Jo Meri Chahat Ko Mita De Aye Sanam,
Ye Mohabbat Hai Koi Khel Nahi,
Jo Aaj Hans Ke Khela Aur Kal RoKe Bhula Dein..!

Agar itni hi nafrat hai humse toh,
Dil se kuch aisi Dua kro,
Ki aaj hi tumhari Dua bhi puri ho jaye,
Aur hamari zindagi bhi..!!

Jab Aap Kisi Se Rooth Kar Nafrat Se Baat Karo,
Aur fir bhi Wo Uska Jawab Mohabbat Se de,
To Samajh Jaana Ki Wo Aapko Khud Se Zyada Pyar Karta Hai.

Ek Nafrat hi hai jisey,
Duniya chand Lamho mein jaan Leti hai,
Warna..
Chahat ka yakin Dilane mein to Zindagi Beet jaati hai..

Nafrat b pyar ki buniyad hoti hai..
Mulaqaat se achi kissi ki yaad hoti hai..
Rishto me faslo ka wajud nahi hota ..
Kyuki Dil ki duniya to khayalo se abaad hoti hai..!!

Mujh Se NAFRAT Ki Ajab Raah Nikali Us Nay
Hasta Basta Dil Kar Diya Khali Us Nay
Meray Ghar Ki Riwayat Se Woh Khoob Waqif Tha
JUDAI Mang Li Ban K SAWALI Us Nay!

Wo inkaar karte hain ikraar ke liye,
Nafrat bhi karte hain to pyar ke liye,
Ulti chaal chalte hain ye ishq karne wale,
Ankhein band karte hain deedar ke liye.

Ye Mat Kahna Ki Teri Yaad Se Rishta Nahi Rakha,
Mai Khud Tanha Raha Dil Ko Magar Tanha Nahi Rakha,
Tumhari Chahton Ke Phool To Mehfooz Rakhe Hai,
Tumhari Nafrato Ki Peedh Ko Zinda Nahi Rakha.

Mohabbat Hai Ki Nafrat Hai,
Koi Itna Toh Samjhaye,
Kabhi Main Dil Se Larti Hun,
Kabhi Dil Mujh Se Larta Hai..!

Teri Nafrat Ma Wo Dam Nahi,
Jo Meri Chahat Ko Mita De Aye Sanam,
Ye Mohabbat Hai Koi Khel Nahi,
Jo Aaj Hans Ke Khela Aur Kal RoKe Bhula Dein..!

Agar itni hi Nafrat hai humse toh,
Dil se kuch aisi Dua kro,
Ki aaj hi tumhari Dua bhi puri ho jaye,
Aur hamari zindagi bhi..!!

Jab Aap Kisi Se Rooth Kar Nafrat Se Baat Karo,
Aur fir bhi Wo Uska Jawab Mohabbat Se de,
To Samajh Jaana Ki Wo Aapko Khud Se Zyada Pyar Karta Hai.

Ek Nafrat hi hai jisey,
Duniya chand …

Continue Reading