Ishq Ki Keemat Hindi Shayari Wallpaper Lines

Sareaam Hokar Bhi Dikhta Hi Nahi
Ishq Bahut Mehenga Hai Dukaan Me Bikta Nahi

सरेआम होकर भी दिखता ही नहीं
इश्क़ बहुत महंगा है दुकान में बिकता नहीं