नटखट कविताएं – Kids Naughty Poems

Hindi Poems Poetry Public Post

मोटा पेट

मोटा पेट , सड़क पर लेट
गाड़ी आयी फट गया पेट
गाड़ी का नंबर 563
मोटा बोला हाय मेरा पेट

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – मोटा पेट , सड़क पर लेट

नाच मोर का

नाच मोर का सब को भाता
​जब वह पंखो को फैलाता ,
​कूँ -कूँ कर के शोर मचाता
​घूम -घूम कर नाच दिखाता
नाच मोर का सब को भाता

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – नाच मोर का सब को भाता

सुबह सवेरे आती तितली

सुबह सवेरे आती तितली
फूल -फूल पर जाती तितली
रंग बिरंगे पंख सजाये
सबके मन को भाती तितली

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – सुबह सवेरे आती तितली

मछली जल की रानी है

मछली जल की रानी है ,
जीवन उसका पानी है ,
हाथ लगाओ , डर जायेगी
बाहर निकालो , मर जायेगी

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – मछली जल की रानी है

हम प्यारे प्यारे बच्चे

हम प्यारे प्यारे बच्चे हैं
हम दिल के बिल्कुल सच्चे हैं
हम दिल लगा कर पढ़ते हैं
लड़ना नहीं है काम हमारा
हम देश से प्यार भी करते हैं
हम प्यारे प्यारे बच्चे हैं

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – हम प्यारे प्यारे बच्चे हैं

पापा लाये मोटर कार

पापा लाये मोटर कार .
उस के पीछे पहिये चार
चाबी से वो चलती है
पों पों पों पों करती है
आगे जाये पीछे जाये
दाएं बाएं ये मुड़ जाये

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – पापा लाये मोटर कार

बच्चे ने खायी मछली

बच्चे ने खायी मछली
मछली में निकला कांटा
अम्मी ने मारा चांटा
चांटा बड़े जोर का
हम ने खायी कुल्फी
कुल्फी बड़ी ठंडी
हम गए मंडी
मंडी से लाये आलू
आलू के पीछे लग गया भालू

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – बच्चे ने खायी मछली

लकड़ी की काठी

लकड़ी की काठी
काठी पे घोड़ा
घोड़े की दुम पे जो मारा हथौड़ा
दौड़ा दौड़ा दौड़ा घोड़ा दुम उठा के दौड़ा .

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – लकड़ी की काठी

भाई की दुल्हन काली

भाई की दुल्हन काली , 100 नखरे वाली
एक नखरा टूटा बाबू  जी का लोटा टूटा
लोटे में पानी मेरी अम्मी रानी
मेरे अबू राजा सोने का दरवाज़ा
दरवाज़े में छेद , भाभी है एक भेद

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – भाई की दुल्हन काली , 100 नखरे वाली

नाना जी बड़े अच्छे

अठने की छलिया , अठने का पान ​
चल मेरे घोड़े हिंदुस्तान
हिंदुस्तान की पहली गली, उस में रहता आम्रपाली
आम्रपाली को गोली लगी , सारी दुनिया रोने लगी ​
रोते रोते भूख लगी ​, हम ने खाई मुगफली
मुगफली में दाना नहीं , हम तुम्हारे नाना नहीं
नाना गए दिल्ली , दिल्ली से ले लाये बिल्ली
बिल्ली ने दिये दो बच्चे , नाना जी बड़े अच्छे

Kids Naughty Poems – नटखट कविताएं – नाना जी बड़े अच्छे