shayarisms4lovers mar18 38 - वो मेरा है मगर इस एहसास से इंकार करता है ​- ग़ज़ल

वो मेरा है मगर इस एहसास से इंकार करता है ​- ग़ज़ल

वो मुझ से मांगता है उम्र भर की वफ़ा का वादा वो मेरा है मगर इस एहसास से इंकार करता है भरी महफ़िल मैं मुझ को रुसवा वो हर बार करता है यूँ तो करता है ज़माने भर की बातें मुझ से मगर जब बात मोहबत की हो तो तकरार करता है सितम् जब अपने […]

Continue Reading