shayarisms4lovers June18 199 - सब को दुआओं में याद रखना आदत है मेरी

सब को दुआओं में याद रखना आदत है मेरी

रिवायत माना के मरने वालों को भुला देती है यह दुनिया मुझे जीते जी को भुला कर तुम ने रिवायत ही बदल डाली Riwayat Maana ke Marnay Walon Ko Bhula Daiti hai yeah Dunya Mujhe Jite ji Ko Bhula Kar Tum Ne Riwayat Hi Badal Dali.. मोहब्बत भूल जाना भुला देना फ़क़त एक वेहम् ही […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - आरजू-ऐ-गुफ़्तगू – आतिश हैदर अली की शायरी

आरजू-ऐ-गुफ़्तगू – आतिश हैदर अली की शायरी

मुझ को इस इश्क़ के बीमार ने सोने न दिया यार को मैंने मुझे यार ने सोने न दिया रात भर ताली -ऐ -बेदार ने सोने न दिया एक शब बुल _बुल -ऐ -बेताब के जागे न नसीब पहलू -ऐ -गुल में कभी खार ने सोने न दिया रात भर की दिल -ऐ -बेताब ने […]

Continue Reading