shayarisms4lovers June18 238 - मेरी चाहत का वजूद – Chahat Shayari

मेरी चाहत का वजूद – Chahat Shayari

मेरी चाहत का वजूद  टूट सा गया है मेरी चाहत का वजूद अब कोई अच्छा भी लगे तो हम इज़हार नहीं करते . Meri Chahat Ka Wajood Toot sa gaya hai meri chahat ka wajood ab koi accha bhi lage to hum izhaar nahi karte. दस्तूर चलती हैं दिल के शहर में यूँ उसकी हुकूमतें […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 152 - छोड़कर तेरी चाहत पराई लगे दुनिया सारी – तेरे इश्क़ में

छोड़कर तेरी चाहत पराई लगे दुनिया सारी – तेरे इश्क़ में

बला है इश्क़ कहर है , मौत है , सजा है इश्क़ सच तो यह है बुरी बला है इश्क़ करते सब है पर सब से हारा है इश्क़ Blaa Hai IshQ Kehar Hai, Mout Hai, Saja Hai IshQ Sach To Yeh Hai Buri Blaa Hai IshQ karte sab hai par sab se hara hai […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - Hindi Shayari, Wo Shama Ki Mehfil Hi Kya

Hindi Shayari, Wo Shama Ki Mehfil Hi Kya

Wo Shama Ki Mehfil Hi Kya, Jisme Parvana Jal Kar Khaak Na Ho, Maza To Tab Aata Hai Chahat Ka Jab Dil To Jale Magar Raakh Na Ho. वो शमा की महफ़िल ही क्या, जिसमे दिल खाक ना हो.. मज़ा तो तब है, चाहत का जब दिल तो जले पर राख ना हो।

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 101 - ऑंखें तो प्यार में दिल की ज़ुबान होती है – इश्क़ बेवफा

ऑंखें तो प्यार में दिल की ज़ुबान होती है – इश्क़ बेवफा

बड़े शौक़ से मर जाएँगे आओ किसी रोज़ मुझे टूट के बिखरता देखो मेरी रगो में ज़हर जुदाई का उतरता देखो किस किस तरह से तुझे माँगा है खुद से हमने आओ कभी मुझे सजदों में सिसकता देखो तेरी तलाश में हम ने खुद को खो दिया है मत आओ सामने मगर कहीं छुप के […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 45 1 - Tere Har Gam Ko Rooh Me Utar Lun, Shayari

Tere Har Gam Ko Rooh Me Utar Lun, Shayari

Tere Har Gam Ko Rooh Me Utar Lun, Zindagi Apni Teri Chahat Me Sanwar Lun, Mulakaat Ho Tujhse Kuch Is Kadar Meri, Saari Umr Bas Ek Mulakaat Me Gujar Lun. तेरे हर ग़म को अपनी रूह में उतार लूँ, ज़िंदगी अपनी तेरी चाहत में सवार लूँ, मुलाक़ात हो तुझसे कुछ इस तरह मेरी, सारी उम्र […]

Continue Reading
Wasi Shah - Sochta hoon ke usay neend bhi ati hogi..

प्यार, मोहबत और चाहत शायरी – Shayari of Love and Romance

चाहत की महफ़िल ग़म न कर ज़िन्दगी बहुत बड़ी है चाहत की महफ़िल तेरे लिए सजी है बस एक बार मुस्कुरा कर तो देख तक़दीर खुद तुझसे मिलने बाहर खड़ी है   Chahat Ki Mehfil Gham Na Kar Zindagi Bahut Badi Hai, Chahat Ki Mehfil Tere Liye Saji Hai, Bas Ek Baar Muskura Kar Tho […]

Continue Reading