shayarisms4lovers mar18 11 - Feel My Pain

Feel My Pain

By DP Too young to communicate what’s going through my brain My lips move, but words, they never seem to escape Am I f****d up? Or am I just too young to communicate my pain? My pops isn’t the blame! As a child, I was just too ashamed to share my pain I’m all grown […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 36 - जब बचपन याद आता है – Childhood

जब बचपन याद आता है – Childhood

बचपन का जमाना बचपन का जमाना होता था खुशियों का खज़ाना होता था चाहत चाँद को पाने की दिल तितली का दीवाना होता था रोने की वजह न होती थी ना हसने का बहाना होता था खबर न थी कुछ सुबह की न शामो का ठिकाना होता था मट्टी के घर बनते थे बस उनको […]

Continue Reading