shayarisms4lovers mar18 45 1 - तुम वो दुआ हो – ईद शायरी

तुम वो दुआ हो – ईद शायरी

मेरी मुहब्बत अब तो मेरी मुहब्बत भी मुझसे खफा हो गयी अब तो जो होगा मेरी जान बस तमाशा होगा   Meri Mohabbat Ab to Meri Mohabbat bhi mujse khfa ho gayi Ab to Jo hoga meri jaan bas tamasha hoga     दिल से किसी को चाहा था अपनी फितरत बदली है मैंने तुम्हे अपना बनाने के लिए करेगें याद लोग सदियों तक किसी ने दिल से किसी को चाहा था   Dil Se kisi ko Chaha Tha Apni Fitrat Badli Hai meine Tumhe Apna Banane Ke liye Karegein Yaad log Sadiyun Tak Kisi Ne Dil Se kisi ko Chaha Tha     मेरे दिल को गिला रहा मेरे मुक़द्दर को भी यह गिला रहा मुझसे के किसी और का होता तो सँवर गया होता   Mere Dil ko Gila Raha Mere Muqaddar Ko Bhi Yeh Gila Raha Mujh Se Ke Kisi Aur Ka Hota To Sanwar Gaya Hota     तुम मुझे भूल जाओगी अपनी डायरी के किसी बर्क पे मुझे तहरीर कर लो न मैं डरता हूँ मैं नहीं रहूँगा तो तुम मुझे भूल जाओगी   Tum Mujhe Bhol Jaogi Apni Diary Ke Kisi Waqr Pe Mujhe Tehreer Kardo Na Mai Darta Hon Mai Nahi rahunga to […]

Continue Reading