shayarisms4lovers mar18 35 - हम ने भी बनाया था एक यार शीशे का

हम ने भी बनाया था एक यार शीशे का

एक यार शीशे का पत्थरों की बस्ती में कारोबार शीशे का कोई भी नहीं करता ऐतबार शीशे का कांच से बने पुतले कहाँ दूर चलते हैं चार दिन का होता है यह खुमार शीशे का बन सँवर के हरजाई आज घर से निकला है जाने कौन होता है फिर शिकार शीशे का दिल के आज़माने […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 202 - इश्क़ और तन्हाई शायरी

इश्क़ और तन्हाई शायरी

तन्हाई कितनी अजीब है मेरे अंदर की तन्हाई भी ,​ ​हज़ारों अपने हैं मगर याद तुम ही आते हो ..​ Tanhai Kitni Ajeeb Hai Mere Andar Ki Tanhai Bhi,​ ​Hazaron Apne Hain Magar Yaad Tum Hi Atey Ho..​ तन्हाईयाँ तन्हाईयाँ कुछ इस तरह से डसने लगी मुझे मैं आज अपने पैरो की आहट से डर […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 248 - ऐ दिल है मुश्किल शायरी – आज जाने की जिद न करो

ऐ दिल है मुश्किल शायरी – आज जाने की जिद न करो

ऐ दिल है मुश्किल जब प्यार में प्यार न हो जब दर्द में यार न हो जब आँसूओ में मुस्कान न हो जब लफ़्ज़ों में जुबान न हो जब साँसे बस यूं ही चले जब हर दिन में रात ढले जब इंतज़ार सिर्फ वक़्त का हो जब याद उस कमबख्त की हो क्यों वो हो […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 145 - इक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा

इक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा

कहाँ जाएंगे तेरे शहर से कहाँ जाएंगे तेरे शहर से गम जदा हो कर अभी तो जीना बाकी है अभी तो मरना बाकी है राजदार न रहा कोई किसको  सुनाए हाल -ऐ -दिल अपना जिसका जीकर हम करते वो रूहे-यार रहा न अपना अब कश्मकश यह की न बसते  बने न चलते बने कुछ यूं […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 170 - इश्क़ और जनून – शायरी

इश्क़ और जनून – शायरी

इश्क़ और जनून दौर था इश्क़ का और हम बह गए भरोसा हम गैरों पर कर गए न फ़िक्र अंजाम की हम दुश्मन जमाना कर गए होश तब आया जब भरी महफ़िल में तन्हां हम रह गए जो अँधेरे मैं गुम है वो साया कौन है तेरी आँख मैं वो शख़्श कौन है तेरे चेहरे […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 13 - तू जो नहीं तो बिन तेरे शामें उदास हैं

तू जो नहीं तो बिन तेरे शामें उदास हैं

छलक पड़ेंगे आँसू  जो ज़रा किसी ने छेड़ा छलक पड़ेंगे आँसू कोई मुझ से यूँ न पूछे तेरा दिल उदास क्यों है Chalak Padegein Aansoo Jo zara kisi ne cheda chalak padegein aansu Koi mujh se yun na pooche tera dil Udas kyon hai गुलाबों में खुशबू तारों में है चमक न गुलाबों में खुशबू […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 18 - दिल की तलाशियाँ

दिल की तलाशियाँ

ज़हर बड़ा अजीब सा ज़हर था उसकी यादों में सारी उम्र गुज़र गयी मुझे मरते मरते Zehar Bada Ajeeb sa Zehar tha uski Yaadon Mein Saari Umar Guzar Gayi Mujhe Marte Marte!!! दिल की तलाशियाँ अपने सिवा बताओ और कुछ मिला है तुम्हे  फ़राज़ ‘ हज़ार बार ली है तुमने इस दिल की तलाशियाँ Dil […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 108 - यह जरूरी तो नहीं – इश्क़-ऐ-गम

यह जरूरी तो नहीं – इश्क़-ऐ-गम

उम्र जलवो में बसर हो यह जरूरी तो नहीं हर शबे-ऐ-गम की सेहर हो यह जरूरी तो नहीं नींद तो दर्द के बिस्तर पर भी आ जाती है उसके आगोश में सर हो यह जरूरी तो नहीं आग को खेल पतंगों ने समझ रखा है सब को अंजाम का डर  हो यह जरूरी तो नहीं वो […]

Continue Reading
garden rose red pink 56866 - याद-ऐ-गम

याद-ऐ-गम

एक अजनबी चले आओ फिर से एक अजनबी हो कर मिलने तुम मेरा नाम पूछो में तुम्हारा हाल पुछू तेरी एक झलक तेरी एक झलक को दिल तरस जाता है मेरा किस्मत वाले है वो लोग जो रोज़ तेरा दीदार करते है , तुझसे बात करते है उससे इतना कहना वो लड़की नज़र आये कभी […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - फिर यही ग़ज़ल लिखोगे तुम

फिर यही ग़ज़ल लिखोगे तुम

बहुत याद आते है न जाने वो क्यों इतना याद आते है , उसकी सूरत आँखों से क्यों नहीं निकल पाती है , जितना भुलाऊँ उसको उतना याद आती है .. Bahut Yaad aate hai na jane wo kyu itna yaad aate hai, uski surat aankho se kyo nahi nikal paati hai, jitna bhulau usko […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - फिर एक बेवफा की कहानी याद आई – Love Break up Shayari

फिर एक बेवफा की कहानी याद आई – Love Break up Shayari

बेवफा की कहानी बरसात की भीगी रातों में फिर उनकी याद आई कुछ अपने जमाना याद आया कुछ उनकी जवानी याद आई फिर यादों के दौर चले फिर एक बेवफा की कहानी याद आई Bewafa Ki Kahani Barsaat ki bheegi raaton mein phir unki yaad aayi Kuch apne jamana yaad aaya kuch unki jawani yaad […]

Continue Reading