१२ साल डिप्रेशन से घिरा व्यक्ति कैसे ६० साल की उम्र में बना सुपर मॉडल? (Model Dinesh Mohan Success Story)

Dinesh Mohan Model Inspirational Story In Hindi : मॉडल और एक्टर दिनेश मोहन (Dinesh Mohan) को ६० साल का जवान कहा जाये, तो गलत नहीं होगा. इस उम्र में भी उनकी फ़िटनेस और एनर्जी युवाओं को मात देती नज़र आती है.

देश के नामी-गिरामी फैशन डिज़ाइनर्स के लिए रैंप वाक (Ramp Walk) और मॉडलिंग (Modeling) कर चुके दिनेश मोहन (Dinesh Mohan Model)को देख हर कोई यही सोचता है कि ये बंदा चकाचौंध की दुनिया का ही बाशिंदा रहा होगा. लेकिन उनके जीवन की गहराई में उतरकर झांकने पर एक अलग ही तस्वीर नज़र आती हैं. 

फैशन जगत की चकाचौंध में रहकर भी दिनेश मोहन अपनी जिंदगी के वे साल नहीं भूलते, जो उन्होंने अंधेरे में गुजारे. १२ साल एक लंबा अरसा होता है. १२ साल तक डिप्रेशन के अंधेरे में रहने वाले दिनेश ने फैशन की जगमगाती दुनिया का जो सफ़र तय किया है, वो वास्तव में प्रेरणादायक है.

Dinesh Mohan Model Inspirational Story In Hindi
Dinesh Mohan Model Inspirational Story : Image Source : thehindu.com

आइये जानते हैं १२ साल तक डिप्रेशन (Depression) के शिकार रहे दिनेश मोहन की ६० की उम्र में सुपर मॉडल बनने की प्रेरणादायक कहानी (Motivational Story) :

दिनेश मोहन (Dinesh Mohan) की जिंदगी एक आम व्यक्ति की तरह ही थी. पढ़ाई पूरी कर अच्छी नौकरी, पैसा, शादी और व्यवस्थित जिंदगी. दिनेश ने पढ़ाई पूरी कर एक अच्छी सरकारी नौकरी हासिल की. वे चंडीगढ़ (Chandigarh) में स्वास्थ्य विभाग में प्रथम श्रेणी ऑफिसर थे.

माता-पिता ने अच्छी लड़की देख शादी कर दी और बस यहीं से दिनेश की जिंदगी बदल गई. एक बेहतर शादी-शुदा जिंदगी की उनकी चाहत पूरी नहीं हो पाई. उनके और उनकी पत्नि के विचारों में अक्सर टकराव होता रहा, जो कहीं न कहीं पारिवारिक कलह का कारण बना. इसका असर यह हुआ कि दिनेश तनाव में रहने लगे.

१० साल तक पारिवारिक तनावपूर्ण वातावरण में रहने के बाद आखिरकार उन्होंने अपनी पत्नि से तलाक लेने का फ़ैसला किया. तलाक के बाद उनके बेटे की कस्टडी उनकी पत्नि को मिली और वे अकेले रह गए.

कुछ अरसा गुजरा और एक रोज़ उनका बेटा उनके पास वापस आ गया. कारण, उनकी पत्नि का देहांत. बेटे के मन में पिता के प्रति कड़वाहट भरी हुई थी, जो धीरे-धीरे ही सही पिघलने लगी. दिनेश भी अपने बेटे के साथ ख़ुश रहने लगे.

लेकिन शायद ये ख़ुशी उनकी किस्मत में नहीं थी. होनी को कुछ और ही मंजूर …

Continue Reading