Salasar Balaji Status

दोस्तों आज हम सालासर बालाजी के भक्तों के लिए भक्ति भाव वाले Salasar Balaji Status का बेहतरीन कलेक्शन लेकर आये हैं, जो की आपको बहुत पसंद आएगा, तो आइये और सच्चे दिल से बोलिये – सालासर बालाजी की जय 🙂

1530531384 Salasar - Salasar Balaji Status

दोस्तों जैसा की हम सभी जानते हैं की हनुमान जी को ही बालाजी कहा जाता हैं, और भारत में बालाजी के नाम से प्रसिद्ध दो ही मंदिर हैं, एक तो तिरुपति बालाजी का मंदिर जो की आंध्र प्रदेश में स्थित हैं और दूसरा सालासर बालाजी का मंडी जो की राजस्थान में स्थित हैं। यह राजस्थान के चुरू जिले में हैं और प्रतिदिन हज़ारो की संख्या में भक्त यहाँ दर्शन और अपनी मनोकामना पूर्ति हेतु आते हैं। दोस्तों सालासर बालाजी की कथा के अनुसार, सीकर के रूल्याणी ग्राम के निवासी लच्छीरामजी पाटोदिया के सबसे छोटे पु़त्र मोहनदास बचपन से ही संत प्रवृति के थे। शुरू से ही इनका मन भक्ति भाव में था और स्वभाव से भी ये संत प्रवर्ति के थे। किसी कारन वश मोहनदास जी सालासर आकर रहने लगे और दिनों दिन इनकी ख्याति बढ़ती गयी। एक दिन सालासर को डाकुओ के आतंक से मुक्त कराने के बाद मोहनदास जी ने बालाजी का भव्य मंदिर बनवाने का संकल्प किया। और इधर पास ही के असोटा गाँव के एक किसान द्वारा खेत में बालाजी की मूर्ति निकलने की घटना सामने आयी और उसी रात मोहनदास जी को भी बालाजी ने स्वप्न में दर्शन देकर उस मूर्ति की स्थापना की बात कही। और इस तरह खेत में निकली वो मूर्ति सालासर गाँव ठाकुरो द्वारा लायी गयी, और इस तरह प्रात: ठाकुर सालम सिंह वह अनेक ग्रामवासियों ने बाबा मोहनदास जी के साथ मूर्ति का स्वागत किया और सन 1754 में शुक्ल नवमी को शनिवार के दिन पूर्ण विधि-विधान से हनुमान जी की मूर्ति की स्थापना की गई।

दोस्तों सालासर बालाजी के भक्तों के लिए आज हम एक बेहतरीन कलेक्शन शेयर कर रहे हैं, यहाँ आपको सभी प्रकार के सालासर बालाजी हिंदी स्टेटस मिलेंगे जैसे की सालासर बालाजी व्हाट्सप्प स्टेटस, संकट मोचन हनुमान जी स्टेटस, श्री राम भक्त बजरंगबली स्टेटस, दो लाइन में सालासर बालाजी शायरी फेसबुक और इंस्टाग्राम फ्रेंड्स ग्रुप के लिए, मोटिवेशनल सालासर बालाजी कोट्स इमेजेस, Motivational Lord Hanuman Quotes in Hindi Language, Short Hanuman Shayari in Hindi Fonts, Hanuman Jayanti Status Images, Lord Hanuman Attitude Lines for Boys, Bajrangbali Status in Hindi, दो लाइन में हनुमान जी शायरी, Salasar Balaji Shayari in Two Lines, Salasar Balaji Attitude Status

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 278 - Sanwariya Seth Status

Sanwariya Seth Status

दोस्तों आज हम सांवरिया सेठ के भक्तों के लिए बहुत सुन्दर कलेक्शन Sanwariya Seth Status शेयर करने जा रहे हैं जो की सांवरिया सेठ के भक्तों को बहुत पसंद आएगा और साथ ही ये सभी स्टेटस अपने व्हाट्सप्प ऑर फेसबुक जैसी सोशल साइट्स पर अपडेट भी जरूर करेंगे।

दोस्तों क्या आप जानते हैं की सांवरिया सेठ कौन हैं? और इन्हे सांवरिया सेठ ही क्यों कहा जाता हैं? तो चलिए दोस्तों आज हम आपसे सांवरिया सेठ की एक रोचक कथा भी शेयर करते हैं। दोस्तों सांवरिया सेठ और कोई नहीं बल्कि वही गिरधर गोपाल हैं जिनकी मीरा बाई सदैव पूजा किया करती थी। मीरा बाई अपने गिरधर गोपाल की पूजा मूर्ति रूप में संत महात्माओ के साथ किया करती थी और एक दिन एक संत जिनका नाम दयाराम था, उन्हें जब पता चला की मुग़ल सेना मंदिरो को तोड़ रही हैं तब उन्होंने ये सारी मूर्तियां बागुंड-भादसौड़ा के खुले मैदान में एक वट-वृक्ष के नीचे गड्ढा खोद कर छुपा दी गयी। और इस तरह वक़्त बीतने के साथ एक दिन मंडफिया ग्राम निवासी भोलाराम गुर्जर नाम के ग्वाले को उन्ही मूर्तियों के वहा छुपे होने का सपना आया, और जब उस जगह पर खुदाई की गई तो भोलाराम का सपना सही निकला और वहां से एक जैसी सभी मूर्तियां प्रकट हुईं। इस तरह उनमे से सबसे बड़ी मूर्ति को भादसोड़ा ग्राम ले जाई गई, भादसोड़ा में प्रसिद्ध गृहस्थ संत पुराजी भगत रहते थे। मंझली मूर्ति को वहीं खुदाई की जगह स्थापित किया गया, इसे प्राकट्य स्थल मंदिर भी कहा जाता हैं। सबसे छोटी मूर्ति भोलाराम गुर्जर द्वारा मंडफिया ग्राम ले जाई गई और चौथी मूर्ति निकालते समय खण्डित हो गई जिसे वापस उसी जगह पधरा दिया गया। इस तरह आज सांवरिया सेठ के प्रसिद्ध मंदिर हमारे सामने हैं जंहा हज़ारो की संख्या में भक्त प्रतिदिन दर्शन हेतु आते हैं।

दोस्तों इन्हे सांवरिया सेठ इसलिए कहा जाता हैं, क्युकी गिरधर गोपाल यानी की भगवान् श्री कृष्ण के भक्त सन्यासी नरसी को अपनी बेटी नानी बाई का मायरा काफी जोर शोर से भरना था, पर इतना मायरा भरने के लिए वो सक्षम नहीं थे और अपने भक्त की लाज रखने हेतु श्री कृष्ण ने सांवरे सेठ का वेश धारण कर नरसी जी को दर्शन दिए और उनके साथ मायरा भरने गए, जो की आज तक मिसाल बना हुआ हैं।

आज हम हमारे इस आर्टिकल में सांवरिया सेठ के लाखों भक्तों के लिए सभी तरह के सांवरिया सेठ स्टेटस इन हिंदी शेयर करने जा …

Continue Reading

Bholenath Status

दोस्तों आज हम भगवान् भोलेनाथ के भक्तों के लिए भक्ति भाव से युक्त एक बहुत ही शानदार कलेक्शन Bholenath Status आपसे शेयर कर रहे हैं, जो की शिव भक्तों को भगवान शिव शंकर के प्रति अपनी भक्ति और विश्वास को और मजबूत और दृढ़ शक्ति देगा।

हिन्दू धर्म में महादेव, त्रिदेवों में सबसे महत्वपूर्ण देवता हैं जो भोलेनाथ, महादेव, शिव शंकर, नीलकंठ, महेश, रुद्र, गंगाधार, महाकाल इत्यादि सैकड़ों नामों से जाने जाते हैं। पुरे विश्व में भोले बाबा के लाखों भक्त आज भी मौजूद हैं। ये देवों के भी देव महादेव हैं, जो की कैलाश पर्वत पर अपनी अर्धांगिनी (शक्ति) माता पार्वती और अपने दोनों पुत्रों गणेश और कार्तिके के साथ निवास करते हैं। भोलेनाथ की पूजा शिवलिंग तथा मूर्ति दोनों रूपों में की जाती हैं। शिव के गले में नाग देवता विराजित हैं और हाथों में डमरू और त्रिशूल हैं और साथ ही ये त्रिनेत्रधारी हैं। भगवान् शिव कलयाणकारी तथा स्वभाव से सौम्य हैं वही दूसरी और इनका रूद्र रूप भी बहुत विनाशकारी हैं इसलिए इनके कालो के काल महाकाल के नाम से भी जाना जाता हैं और ऐसा माना जाता हैं की शिव आदि हैं और शिव ही अंत हैं, और एक दिन ये सृष्टि भी शिव में ही विलीन हो जाएगी।

दोस्तों क्या आप जानते हैं की भगवान् भोलेनाथ को भोलेनाथ क्यों कहा जाता हैं..?? जबकि ये शमशान में भी बसते हैं और जिनके शरीर पर भस्म लिपटी रहती हैं और एक क्षण में जो सब कुछ नष्ट करदे, जो की कालो के भी काल हैं, भूत प्रेत के भी ये नाथ हैं फिर भी ये भोलेनाथ हैं… ऐसा क्यों…?? तो इसका जवाब ये हैं की सबसे पहले भोलेनाथ का दार्शनिक मतलब हैं – भोले यानी बच्चे जैसी मासूमियत, नाथ मतलब भगवान या फिर मालिक। त्रिदेवों में भगवान् शिव ही एक ऐसे देव हैं जो भक्त की भक्ति से बहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं और मनचाहा वरदान प्राप्त करते हैं, फिर चाहे वो देवता हो, या राक्षस हो, दानव हो या कोई भी जीव हो, भोलेनाथ सबकी मनोकामना पूर्ण करते हैं। भगवान शिव के अंदर ना अहं हैं ना ही चालाकी, उन्हें अपनी शक्ति पर बिल्कुल भी अभिमान नहीं हैं इसीलिए वह भोलेनाथ हैं। भोलेबाबा को कोई राजनीति नहीं आती, और ना ही किसी के आदेशों का पालन करते हैं, और किसी भी प्रकार की कोई भी सांसारिक मोह माया भोलेबाबा को नहीं हैं। वे तो बस सदैव ध्यानमग्न रहते हैं, इसलिए भोलेनाथ कहलाते हैं। भोलेनाथ …

Continue Reading

Mahakal Attitude Shayari

दोस्तों आज हम महादेव के भक्तों के लिए बहुत ही शानदार और दमदार कलेक्शन Mahakal Attitude Shayari आप सभी से शेयर करने जा रहे हैं जिसमे आपको देवा दी देव महादेव और भोलेनाथ शिव शंकर के महाकाल होने की एक झलक देखने को मिलेगी। ये कलेक्शन उन सभी शिव भक्तों के लिए हैं जो शिव भक्ति करते हैं, शिव को अपना आराध्य मान उन्हें पूजते हैं और दिन रात महादेव की उपासना करते हैं।

महाकाल जो की भगवान् शिव का रूद्र और प्रचंड रूप हैं और जो काल का भी काल हैं, वो महाकाल हैं। जिसमे सिर्फ आग, गुस्सा, पापी का सर्वनाश, दुष्टों का संहार, धर्म और सत्य की विजय समाहित हैं। शिव के प्रमुख अवतारों में पहला अवतार महाकाल को माना जाता हैं। इस अवतार की शक्ति माँ महाकाली मानी जाती हैं। वर्तमान में महाकाल के रूप में भगवान भोलेनाथ तीर्थ नगरी उज्‍जैन में विराजमान हैं। वेदों में शिव का नाम ‘रुद्र’ रूप में आया हैं। रुद्र का अर्थ होता हैं भयानक। रुद्र संहार के देवता और कल्याणकारी हैं। महादेव, जिन्हे भोलेनाथ, भोले बाबा, कालो के काल महाकाल, त्रिलोकीनाथ, नीलकंठ, शिव शंकर, शिव शम्भू, जटाधारी, अर्धनारेश्वर आदि कई नामो से जाना जाता हैं, भगवान शिव ने धरती पे कई बार अवतार लिया हैं, और पूरी दुनिया में इनके भक्त फैले हुए हैं और हर तरफ से इस ब्रह्माण्ड में महादेव की गूंज सुनाई देती हैं। जब इस धरती पे कुछ भी नहीं था, उससे पहले से ही महादेव का अस्तित्व था, और आदि से अंत तक महादेव का ही वास रहेगा क्युकी शिव ही आदि हैं और शिव ही अंत हैं, सब कुछ शिव में ही जाकर मिल जाता हैं। भगवान शिव को त्रिनेत्र धारी भी कहा जाता हैं और जब भोलेनाथ की ये तीसरी आँख खुलती हैं तो महाप्रलय आती हैं और तीनो लोक में हाहाकार होता हैं और इस महाप्रलय के विनाश से सिर्फ सर्वनाश होता हैं। भगवान् शिव को देवो के देव महादेव भी कहा गया हैं और सभी देवी देवता महादेव का पूजन कर आशीर्वाद प्राप्त करते हैं। शिव जितने भोले हैं उनका गुस्सा भी उतना ही प्रलयकारी हैं, इसलिए पुराणों में इनका नाम रूद्र भी हैं। जटाजूटधारी, भस्म भभूत शरीर पर लगाए, गले में नाग लपेटे, रुद्राक्ष की मालाएं पहने, जटाओं में चंद्र, गंगा की धारा, हाथ में त्रिशूल एवं कटि में बाघम्बर और नंगे पांव रहने वाले शिव कैलाश में निवास करते हैं। माता पार्वती उनकी पत्नी अथवा शक्त्ति हैं और गणेश और …

Continue Reading

Jai Shri Ram Status

जय श्री राम दोस्तों, आज हम आप सभी राम भक्तों के लिए भगवान राम का भक्ति भाव से युक्त एक बेहतरीन कलेक्शन Jai Shri Ram Status शेयर कर रहे हैं जो की राम भक्तों को भगवान राम जी के प्रति अपनी भक्ति और विश्वास को और मजबूत और दृढ़ शक्ति देगा।

भारत के इतिहास में हिन्दू धर्म को प्राचीनतम धर्म कहा जाता हैं जहा अनेक देवी देवताओं की पूजा की जाती हैं जिनमे से प्रमुख ब्रह्मा, विष्णु और शिव हैं। हिन्दू मान्यताओं के अनुसार एक तरफ जहा शिव काल और ब्रह्मा सृष्टिकरता हैं वही भगवान् विष्णु पालनहार हैं, और समय समय पर भगवन शिव और विष्णु जी इस पावन धरती पर कई बार अवतरित हुए हैं। एक और जहा भगवान् विष्णु जी का कृष्णा अवतार जग विख्यात हैं वही दूसरी और श्री राम का अवतार भी विश्व प्रसिद्ध हैं। रघुकुल में जन्मे मर्यादा पुरुषोत्तम श्री राम जी, अयोध्या के राजा दशरथ और रानी कौशल्या के सबसे बड़े पुत्र थे। इनके तीन भाई लक्ष्मण, भरत और शत्रुघ्न थे तथा इनकी पत्नी का नाम सीता था। बजरंगबली या हनुमान जी इनके प्रिये भक्त हैं, इनका परिवार आदर्श भारतीय परिवार का प्रतिनिधित्व करता हैं। वे स्वाभाव से भी बहुत विनम्र थे और उनके शौर्य, शालीनता व मर्यादा की दुहाई हर कोई देता था। वही दूसरी तरफ वे एक कुशल शासक और महान शक्तिशाली यौद्धा के साथ जन प्रिय राजा भी थे। उनकी प्रजा को उनसे बहुत स्नेह था और श्री राम भी अपनी प्रजा से बहुत प्यार करते थे, इसलिए जब लंकापति रावण का वध कर लंका से भगवान् राम, माता सीता और लक्ष्मण चौदह वर्ष के वनवास से अयोद्धया लोटे तो नगरवासियों ने चारो तरफ घी के दिए जलाकर उनका स्वागत किया, और इस दिन को आज भी हम सभी दिवाली के रूप में मनाते हैं। श्री राम ने सदैव सत्य और धर्म के मार्ग पर अग्रसर रहते हुए जन कल्याण किया और अपनी प्रजा के प्रिय रहे। आज भी करोड़ो हिन्दू भक्तों के लिए पुरुषोतम भगवान जय श्री राम आस्था और विश्वास का केंद्र हैं।

रामायणकाल से से जय श्री राम और जय सियाराम के नारे चलन में हैं, और आज के दौर में भी उनके विश्वभर में करोड़ो भक्त मौजूद हैं, इसी भक्ति भाव को कायम रखने हेतु हम राम भक्तों के लिए श्री राम स्टेटस का बेहतरीन कलेक्शन आप सभी से शेयर करने जा रहें हैं जो की राम भक्तों को भगवान राम जी के लिए अपनी भक्ति और …

Continue Reading

Sai Baba Status in Hindi

दोस्तों आज हम हमारे इस आर्टिकल में साई बाबा के भक्तों के लिए Sai Baba Status in Hindi का बेहतरीन कलेक्शन आपसे शेयर करने जा रहे हैं जो की आपको बेहद पसंद आएगा।

साईं बाबा का जन्म 1838 शिरडी में हुआ था वह एक फ़क़ीर गुरु व योगी थे। सांईं बाबा के पिता का नाम परशुराम भुसारी और माता का नाम अनुसूया था जिन्हें गोविंद भाऊ और देवकी अम्मा भी कहा जाता था। इनके भक्तो ने इन्हे भगवान् का दर्जा दे दिया था। 15 अक्टूबर 1918 (दशहरे के दिन) को बाबा ने शिरडी में समाधि ली थी। उन्होंने दुनिया छोड़ने का संकेत पहले ही दे दिया था, उनका कहना था कि दशहरा धरती से विदा होने के लिए सबसे अच्छा दिन है। वे साधारण लोगों के बीच रहकर ही साधारण जीवन जीना पसंद करते थे। उन्होंने प्रेम, क्षमा, दुसरो की सहायता, दान, संयम, आत्मिक शांति, भगवान ओर गुरु के लिए समर्पण की नैतिक शिक्षा दी। माना जाता हैं साई बाबा ने जीवन भर जरुरत मंदों की सेवा की जिसे लोग चमत्कार भी कहते हैं। बाबा की सेवा में कोई दिखावा नहीं था पर उनके नेक कामों ने हर किसी के दिल में उनके लिए श्रद्धा भाव जाग्रत किये। उनका आदर्श वाक्य था “सबका मालिक एक”। मुस्लिम ओर हिन्दू दोनों ही उनके जीवन काल में ओर उसके बाद भी उनका सम्मान करते हैं। माना जाता हैं साई बाबा के लिए परमात्मा एक थे, जिस वजह से वो मंदिरों में अल्लाह के बारे में गाते थे और मस्जिदों में भजन सुनाते थे। उनके बारे में कई किस्से मशहूर हैं जो आस्था का विषय हैं और आज भी लोग अगर उनसे दिल से किसी चीज के लिए प्रार्थना करते हैं तो वह जरूर पूरा होती हैं। आज के समय का इनका सबसे बड़ा मंदिर में शिरडी में स्थित हैं। हर साल शिरडी में लाखों भक्तों की भीड़ जिस प्रकार जुटती हैं आप अंदाजा लगा सकते हैं की साई बाबा की महिमा कितनी अपरम्पार हैं। भक्तों को विश्वास हैं की जो भी साईं बाबा के ऊपर विश्वास करता हैं, बाबा उसका कल्याण जरूर करते हैं।

Shirdi Sai Baba Status in Hindi 2 Line for Whatsapp & Facebook

बोलो सुबह शाम साईं का नाम,
बन जायेंगे बंदे सारे बिगड़े काम।


जिस पे भी हाथ रख दे मेरा साईं फकीरा,
वो पत्थर भी बन जाये पल में नायाब हीरा।


साई कहते हैं, पल में अमीर हैं, पल में फ़क़ीर हैं,
अच्छे करम कर ले बन्दे, ये …

Continue Reading

Hanuman Ji Status

जय श्री राम दोस्तों, आज हम आप सभी हनुमान भक्तों के लिए Hanuman Ji Status का बेहतरीन कलेक्शन लेकर आये हैं, जैसे की Bajrangbali Status in Hindi, दो लाइन में हनुमान जी शायरी, श्री राम हिंदी स्टेटस फॉर व्हाट्सप्प और फेसबुक, हनुमान जयंती शायरी, बजरंगबली की शायरी और भी बहुत कुछ।

दोस्तों भगवान हनुमान जी को कौन नहीं जानता, हनुमान जी को कई नामो से जाना जाता हैं जैसे की बजरंग बली, मारुति, अंजनि सुत, पवनपुत्र, संकटमोचन, केसरीनन्दन, महावीर, कपीश, शंकर सुवन के नाम से भी जाना जाता हैं। महावीर हनुमान को भगवान शिव का 11वां रूद्र अवतार कहा जाता हैं और वे प्रभु श्री राम के अनन्य भक्त हैं। हनुमान जी ने वानर जाति में जन्म लिया। हनुमानजी के पिता सुमेरू पर्वत के वानरराज राजा केसरी थे और माता अंजनी थी। इसी कारण इन्हें आंजनाय और केसरीनंदन आदि नामों से पुकारा जाता हैं। हनुमान जी जिस दिन को पैदा हुए थे उस दिन को हनुमान जयंती के नाम से जाना जाता है और यह दिन हर साल चैत्र माह की पूर्णिमा के दिन पड़ता हैं। भगवान् हनुमान ने इस धरती को पाप से मुक्त तथा अच्छाई की बुराई पर जीत दिलाने के लिए माता अंजनी के गर्भ से जन्म लिया था जिन पर सभी देवताओ का आशीर्वाद था। दानवीय शक्तिया बालाजी से भय खाती हैं। वे वेदों और धार्मिक ग्रंथो के महा पंडित भी हैं। राजस्थान के सालासर व मेहंदीपुर धाम में इनके विशाल एवं भव्य मन्दिर हैं।

आज आप यहाँ हनुमान जी के स्टेटस हिन्दी में पढ़ सकते हैं जैसे की बजरंगबली स्टेटस,  Motivational Lord Hanuman Quotes in Hindi Language, Short Hanuman Shayari in Hindi Fonts, Hanuman Jayanti Status for Whatsapp, Facebook & Instagram Friends Group, Lord Hanuman Attitude Lines for Boys and many more.

hanuman ji statue 500x500 - Hanuman Ji Status

Hanuman Ji Status | Bajrangbali Attitude Shayari | हनुमान जी स्टेटस

जय बजरंगबली स्टेटस हिंदी में | हनुमान जी स्टेटस इमेज

Hanuman Ji Status for Whatsapp in Hindi Langauge

दुनिया रचने वाले को भगवान कहते हैं,
और संकट हरने वाले को हनुमान कहते हैं।


स्वर्ग में देवता भी उनका अभिनंदन करते हैं
जो हर पल हनुमान जी का वंदन करते हैं..।


यहाँ क्लिक किजिये –


कण कण में विष्णु बसें जन जन में श्रीराम
प्राणों में माँ जानकी मन में बसे हनुमान।


जिनको श्रीराम का वरदान हैं, गदा धारी जिनकी शान हैं
बजरंगी जिनकी पहचान हैं, संकट मोचन वो हनुमान हैं।


बजरंग जिनका नाम हैं, सत्संग जिनका काम हैं,
ऐसे …

Continue Reading