आज भी भारत के एक रेलवे ट्रैक को साल की पूरी कमाई ब्रिटेन को क्यों देनी पड़ती हैं?

What Royalties does India still pay after Independence from Britain भारत आज दुनिया के सबसे विकासशील देशों में से एक है लेकिन हम सभी जानते हैं की भारत 200 साल ब्रिटिश हुकुमत का गुलाम रहा है जिसे भारत को 15 अगस्त 1947 को आजादी मिली थी। और हुकुमत के 200 साल जो ब्रिटिश ने नुकसान किया उसकी भरपाई भारत आज भी कर रहा है हालांकि अंग्रेज तो देश छोड़कर चले गए। लेकिन उनकी बहुत सी चीजें ऐसी है जो आज भी भारत में है भारत में रेल भी अंग्रजों ने ही शुरु की थी। लेकिन आजादी के बाद रेलवे पर भारत सरकार का अधिकार हो गया। और भारत सरकार ने रेलवे का विकास किया। य़ही वजह है कि बजट सत्र में रेलवे का अलग बजट पेश किया जाता है। क्योंकि रेलवे भारत में यातयात का साधन है जिस पर सभी वर्ग के लोग सफर करते हैं। रेलवे हर साल भारत सरकार करोड़ो का पैसा भी कमाती है जिसे रेलवे स्टेशन की मरम्मत और जनकल्याण के कार्यों में लगाया जाता है। लेकिन क्या आप जानते है कि भारतीय रेल के एक रेलवे ट्रैक की पूरी सालाना कमाई हर साल ब्रिटेन को जाती है। आज भी भारत के एक रेलवे ट्रैक को […]

Continue Reading

क्या आप जानते हैं टेलीफोन का अविष्कार किसने किया? | Who Invented the Telephone

Who Invented the Telephone आज के टाइम में शायद ही कोई ऐसा व्यक्ति होगा जिसके पास मोबाइल फोन यानी स्मार्टफोन नहीं होगा या वो इसके बारे में नहीं जानता होगा। आधुनिकता के कारण आज हर किसी की जिंदगी इतनी सिमिट कर रह गई जिसकी शायद कभी किसी ने कल्पना तक नहीं की होगी। आज हम मोबाइल फोन्स के जरिए न केवल बात कर सकते हैं बल्कि वीडियो कॉल, ऑडियो रिकॉर्डिंग, मैसेज भेजना, गेम खेलना, डक्यूमेंट बनाना, गाने सुनना, फिल्में देखना ओर भी बहुत कुछ कर सकते है, जिन सब के लिए एक जमाने में अलग – अलग डिवाइज हुआ करते थे। और हम सब जानते है कि मोबाइल फोन्स के बाजार में आने से पहले लोग टेलीफोन के जरिए बात किया करते थे। और इन टेलीफोन्स में भी समय – समय पर अलग – अलग तरह के बदलाव देखने को मिले। आमतौर पर घरों में इसे लैंडलाइन फोन भी कहा जाता है जो अब केवल ऑफिस और कुछ घरों में देखने को मिलता है। लेकिन ये हम सब जानते है कि टेलीफोन के बिना मोबाइल फोन का अस्तित्व नहीं है टेलीफोन की टेक्नॉलोजी में ही बदलाव करके मोबाइल फोन का अविष्कार हुआ। लेकिन क्या आप जानते टेलीफोन का अविष्कार किसने […]

Continue Reading

भारतीय इतिहास की महान महिलाये | Great women of India

Great women of India भारत एक ऐसा देश जहाँ औरत को दुर्गा का दर्जा दिया गया है और औरतो ने भी इस इस दर्जे की अहमियत रखते हुए इस देश को बहुत कुछ दिया है। अलग अलग क्षेत्रो की ऐसी बहुत सारी महिलाये है जिन्होंने भारत के इतिहास में अपना नाम दर्ज करवाया। भारत की वो महिलाएं जो हमेशा हमेशा के लिए लोगो में जेहन में बसी हुई है। भारतीय इतिहास की महान महिलाये – Great women of India रानी लक्ष्मीबाई – Rani Lakshmibai “खूब मादी मर्दानी वो तो झाँसी वाली रानी थी” ये कविता शायद ही किसी ने ना पढ़ी हो और ऐसा था भी। अंग्रेजो के नाक में दम कर देने वाली रानी लक्ष्मीबाई को उनके साहस, युद्ध कौशल और जोशीले अंदाज के लिए जाना जाता है। विजय लक्ष्मी पंडित – Vijaya Lakshmi Pandit दुनिया की पहली महिला जो संयुक्त राष्ट्र महासभा की अध्यक्ष बनी। भारत की पहली महिला जो केन्द्रीय मंत्री बनी। विजय लक्ष्मी पंडित का नाम आज भी यादगार है। मीराबाई – Mirabai अपनी भक्ति के दम पर भगवान् का आस्तित्व बता पाना वो भी कलियुग में ऐसा शायद ही किसी के साथ हुआ हूँ लेकिन मीराबाई उन्ही में से एक थी। भगवान् श्री कृष्ण की […]

Continue Reading

आख़िर कैसे हुई मानवों की उत्पत्ति…

History of Human Evolution इंसान क्या है? कैसे वह पृथ्वी पर आया?  उसका इतिहास क्या है? क्या वास्तव में बंदर था  आज का इंसान? ऐसे अनेक सवाल हर मनुष्य के मन में अपने जीवन काल के दौरान आते ही हैं। पर इस विषय पर धर्म और विज्ञान के द्वारा सटीक जवाब नहीं मिल पायें हैं। इसी कारण वैज्ञानिकों और धर्म गुरुओं के बीच में इस मुद्दे को लेकर बहस भी होती रहती है। विज्ञान और धर्म अपने-अपने तरीके से मानव शरीर की रचना के पीछे तथ्य देते हैं। आख़िर कैसे हुई मानवों की उत्पत्ति – History of Human Evolution वैज्ञानिक दृष्टि से मानव की उत्पत्ति – Human Evolution in Science विज्ञान ने मानव जाति के आविष्कार को समझने के लिए कई प्रयास किये हैं जिसके सफल परिणाम भी प्राप्त हुए हैं। विज्ञान के अनुसार मानव का इतिहास समुंद्र से जुड़ा है। सबसे पहले पानी में रहने वाली प्रजातियों ने जन्म लिया जैसे मछली, पानी में रहने वाले कीटाणु आदि। धीरे धीरे समय का चक्र बढ़ता रहा। जल एवं थल में रहने वाले जीव आये और अपना जीवन यापन करने लगे ये जीव थे जैसे मेंढ़क, केकड़ा आदि। समय बदलता रहा और प्रकृति अपना काम कर रही थी कभी बाढ़ तो […]

Continue Reading

संत एकनाथ का जीवन परिचय – Sant Eknath Information in Hindi

Sant Eknath Information महाराष्ट्र महान लोगो की जन्मभूमि है। महाराष्ट्र एक ऐसा महान राज्य है जहा आज तक हजारों महान लोग जन्म ले चुके है। इसे संत लोगो की जन्मभूमि भी कहा जाता है। संत ज्ञानेश्वर से लेकर संत तुकाराम महाराज, संत नामदेव तक, और संत जनाबाई से लेकर संतगाडगे महाराज तक सभी ने लोगो को सुधारने की कोशिश की। आज महाराष्ट्र हर क्षेत्र में सबसे आगे है। लेकिन इसका सारा श्रेय उन सब संत लोगो को जाता हैं क्योंकी उन्होंने अपने ग्रंथ और कविताओ के माध्यम से लोगो को मार्गदर्शन किया। इन सबसंत और ऋषि में संत एकनाथ महाराज – Eknath Maharaj  का भी बड़ा महत्वपूर्ण योगदान रहा है। उन्होंने समय रहते लोगो को भगवान और भक्ति का महत्व समझाया। हिन्दू धर्म में भक्ति आन्दोलन को आगे ले जाने में उन्होंने जो योगदान दिया वह बहुमूल्य है। आज इसी महान संत और ऋषि एकनाथ के बारे में हम आपको बतानेवाले है। इस महान संत की सारी महत्वपूर्ण जानकारी निचे दी गयी है। संत एकनाथ का जीवन परिचय – Sant Eknath Information in Hindi नाम संत एकनाथ महाराज जन्म  ई. स. 1533 जन्मस्थान पैठन माता रुक्मिणी पिता सूर्यनारायण मृत्यु ई. स. 1599 गुरु जनार्दन स्वामी संत एकनाथ के जीवन बारे […]

Continue Reading

रहस्यों से भरा “नॉर्थ सेंटिनल द्वीप”

North Sentinel Island उत्तर सेंटिनल द्वीप – North Sentinel Island बंगाल की खाड़ी में स्थित अंडमान द्वीप समूह का एक द्वीप है। यह  नॉर्थ सेंटिनल द्वीप, भारतीय संघ राज्य क्षेत्र के अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के दक्षिण अंडमान प्रशासनिक जिले के अंतर्गत आता है। रहस्यों से भरा “नॉर्थ सेंटिनल द्वीप” – North Sentinel Island उत्तर सेंटिनल द्वीप ख़ूबसूरती से भरपूर द्वीप है। यह किसी जन्नत से कम नही है यहां खुला नीले रंग का आसमान और शांतिपूर्ण माहौल है, बर्फ की चादर ओढ़े सफेद पहाड़ हैं, हरे भरे जंगल और पानी की लहरों की आवाजें मन को काफी शांत और सकारात्मक ऊर्जा पहुंचाती हैं। यह प्रकृति का एक आकर्षक चेहरा है। इतनी ख़ूबसूरती का जिक्र सुनकर यहां हर कोई आना पसंद करेगा। पर सेंटिनल द्वीप पर आना मौत को गले लगाने जैसा है। इसकी वजह है यहां पर रहने वाली एक खतरनाक जनजाति – (North Sentinel Island Natives )। जनजाति, जनसंख्या अनुमानित 100-200 के करीब – North Sentinel Island People इस ख़ूबसूरती भरे द्वीप पर एक जनजाति कई सालों से अपना कब्ज़ा जमाये हुए है। यहां रह रहे लोगों ने अपनी ही एक ऐसी दुनिया बसा ली है जहां किसी भी बाहरी व्यक्ति का हस्तक्षेप वे लोग बर्दाश तक […]

Continue Reading

रहस्य भरी दुनिया का एक और हिस्सा “बरमूडा ट्रायंगल” क्या हैं इसका रहस्य?

Bermuda Triangle ka Rahasya संसार में अनगिनत रहस्य हैं जो एक ऐसी पहेलियाँ बन गयी हैं जिन्हें आधुनिक तकनीकों की मदद से भी सुलझाया नही जा सका है। ऐसे ही रहस्यों में छिपा है अमेरिका के दक्षिण पूर्वी तट पर बना बरमूडा ट्रायंगल। इस इलाके में आज तक बड़े से बड़े हवाई जहाज़ आश्चर्यजनक रूप से गायब हो गये हैं व दल और बल दोनों की सहायता से आज तक उनका पता नही लगाया जा सका है। रहस्य भरी दुनिया का एक और हिस्सा “बरमूडा ट्रायंगल” क्या हैं इसका रहस्य? – Bermuda Triangle बरमूडा ट्रायंगल क्या हैं – What is Bermuda Triangle बरमूडा को यह नाम 1964 में मिला था। बरमूडा त्रिभुज अमेरिका के फ्लोरिडा,प्यूर्टोरिको और बरमूडा द्वीप इन तीनों जगहों को जोड़ने वाला एक काल्पनिक ट्रायंगल है। इसे शैतान के त्रिकोण यानी Devil’s Triangle भी कहते हैं। हादसा: अचानक जहाज़ और यात्री गायब – Bermuda Triangle Stories बरमूडा ट्रायंगल पर 05 दिसंबर 1945 में एक ऐसा हादसा हुआ था। जिससे दुनिया भर के वैज्ञानिक सिर्फ सोच विचार ही करते रह गए थे। हुआ यूँ था की अमेरिका नेवी के पांच पेशेवर पायलट अपनी प्रशिक्षण अभ्यास के दौरान बरमूडा त्रिकोण की ओर निकल पड़े थे। लेकिन सिर्फ एक घंटा 45 […]

Continue Reading

क्या आप जानते हैं आख़िर क्या हैं हरित क्रांति?

Green Revolution भारत जो की एक कृषि प्रधान देश है। भारत कृषि के क्षेत्र में दुनिया भर में 15 वें स्थान पर आता है। इसका श्रेय किसी न किसी रूप में हरित क्रांति को भी जाता है। हरित क्रांति के फलस्वरूप देश के कृषि क्षेत्र में महत्त्वपूर्ण प्रगति है। हरित क्रांति  से कृषि उत्पादन में एक बहुत बड़ा बदलाव आया है। क्या आप जानते हैं आख़िर क्या हैं हरित क्रांति – Green Revolution कृषि में परम्परागत तरीकों से हट कर उसकी जगह नवीनतम तरीके अपनाये गए जैसे आधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल किया जाने लगा, कीटनाशक दवाइयों प्रयोग में आई, उन्नत बीजों का समावेश किया गया, विस्तृत सिंचाई परियोजनाओं आदि के प्रयोग को बढ़ावा मिला। हरित क्रांति  से एक नये युग का निर्माण हुआ है। हरित क्रांति  के आने से उत्पादकों में भी काफी वृद्धि हुई साथ ही अधिक मात्रा में बेहतरीन गुणवत्ता के साथ उत्पादन किया जाने लगा। हरित क्रांति की शुरुआत – Green Revolution in India 1947 में देश आजाद होने के बाद देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने भी कृषि क्षेत्र में बढ़ोतरी के लिए काफी प्रयास किया था। लेकिन उस समय भी किसानों को खेती पुराने तरीकों से करनी पड़ रही थी जिसके परिणाम नकारात्मक […]

Continue Reading

एक शहीद सैनिक जो आज भी देश सेवा में डयूटी पर हैं…

Baba Harbhajan Singh अपनी जान की परवाह किए बिना सीमा पर तैनात होकर, देश का वीर जवान, सरहद की रक्षा करते हैं, ताकि हम सुकुन से रह सकें और बिना किसी डर के अपना जीवन व्यतीत कर सकें। लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि कोई सैनिक शहीद होने के बाद भी अपने देश की रक्षा के लिए सीमा पर मुस्तैद हो और पूरी कर्तव्य निष्ठा से अपनी ड्यूटी निभा रहा हो। ये बात सुनने में अटपटी और बेतुकी जरूर है। लेकिन आज हम आपको अपने इस आर्टिकल में भारतीय सेना के एक ऐसे साहसी सैनिक की दास्तान बता रहे हैं जो वास्तविक होकर भी अविश्वनीय है। एक शहीद सैनिक जो आज भी देश सेवा में डयूटी पर हैं – Baba Harbhajan Singh सिक्किम से सटी भारत-चीन सीमा पर एक ऐसे शहीद वीर जवान की दास्तान जिसने अपने जीवन में पूरी निष्ठा और कर्तव्य के साथ देश की सुरक्षा की लेकिन मौत के बाद, आज भी उसकी आत्मा सरहद की सुरक्षा बड़े ही मुस्तैदी से कर रही है। हैरत करने वाली बात तो यह है कि इसके लिए उसे सैलरी भी मिलती है और उसका प्रमोशन भी होता है और तो और इस शहीद सैनिक की याद में एक मंदिर […]

Continue Reading

जानिए भारत के यातायात के कौनसे नियम हैं?

Traffic Rules in India दुनिया भर में वाहनों के लिए अलग अलग नियम कायदे बनाये गए है। जिसका मुख्य उद्देश्य होता है की हर नागरिक अपनी सिमा में रह कर सड़क पर वाहन चलाये व अपनी और दुसरो की जान जोखिम में ना डाले। भारत में भी यातायात को सही रूप देने के लिए निम्न लिखित नियम और कायदे है जिनका उल्लंघन करने पर आरोपी को औपचारिक तरिके से जुर्माना देना पड़ता है। जानिए भारत के यातायात के कौनसे नियम हैं? – Traffic Rules in India वन वे – One Way इस नियम के तहत आपको अपने वाहन को एक ही दिशा में चलाना है वो भी अपनी ही साइड में नाकि अपने से विपरीत दिशा में। भारत में सिंगल रोड पर बाएं ओर गाड़ी चलाने का नियम है। ऐसा ना करने पर सड़क पर चल रहे दूसरे वाहन के लिए भी खतरा बन सकते हो और भारी चालान भी झेलना पड़ सकता है। यू टर्न – U Turn भारत में ज्यादा तर लोग यू टर्न का नियम तोड़ते है कुछ ही वक्त बचाने के कारण जल्दबाज़ी में बीच सड़क पर गाड़ी घुमा देते है और ट्रैफिक पुलिस की पकड़ में आ जाते है। साथ ही किसी बड़ी दुर्घटना का […]

Continue Reading

1993 के बम धमाके की कहानी | 1993 Mumbai Blast Story

1993 Mumbai Blast Story अक्सर कई ऐसी घटनाएं घटित हो जाती है जो एक बुरी याद होकर भी कभी भुलाई भी नहीं जा पाती। ऐसी ही घटना की गवाह मुंबई साल 1993 में बना था। महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई के लिए कहा जाता है कि मायानगरी मुंबई की रफ्तार के साथ किसी के लिए भी चलाना काफी मुश्किल है लेकिन एक बार जिसे इस मायानगरी की आदत लग जाती है फिर वो चाह कर भी इसे दूर नहीं रह पाता। 1993 के बम धमाके की कहानी – 1993 Mumbai Blast Story ग्लैमर, बॉलीवुड और अंडरवर्ल्ड की कहानियों से भरी मुंबई पर कई अंडरवर्ल्ड डॉन ने राज किया जिनमें कभी हाजी मस्तान, करीम लाला और वरदराजन मुदलियार का नाम शामिल था। जिनके बीच मे अक्सर मुंबई पर राज करने के लिए गैंगवार होती रहती थी। लेकिन मुंबई के आंतक की कहानी उस दिन खुलकर आई जब साल 1993 में मुंबई बम ब्लास्ट मे एक ऐसा हमला हुआ। जिसमें 257 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई वहीं 713 लोग गंभीर रुप से घायल हो गए। इस ब्लास्ट में इतना आरडीएक्स इस्तेमाल किया गया था जितना शायद इसे पहले सिर्फ दूसरे विश्वयुद्ध में हुआ था। इस बम धमाके में करीब 189 […]

Continue Reading

आखिर क्या हैं “नीली क्रांति” जो भारत में तेजी से बढ़ रही…

आखिर क्या हैं “नीली क्रांति” जो भारत में तेजी से बढ़ रही – Blue Revolution in India Blue Revolution in India देश के अलग अलग क्षेत्रो को बढ़ावा देने और उसमे उत्पादन बढाने के लिए अलग अलग क्रांतियाँ शुरू की गई, जिनमे खेती के लिए हरित क्रांति, अधिक दुग्ध उत्पादन के लिए श्वेत क्रांति तो वैसे ही मछली के अधिक से अधिक उत्पादन के लिए शुरू की गई “नीली क्रांति” – Nili Kranti  जो की अपने आप में एक बड़ी क्रांति कही जा सकती है| इस क्रांति का उद्देश्य भारी मात्रा में मछलियों के उत्पादन को बढ़ाना और उन्हें बाज़ार में बेचकर मुनाफा कमाना था| भारत के गाँव स्तर तक इस क्रांति को पहुचाने के लिए अलग अलग प्रयास किये जा रहे है| भारत में नीली क्रांति की शुरुआत किसने की – Who Started Blue Revolution in India नीली क्रांति की शुरुआत में भारत में अरुण कृष्णन ने की थी लेकिन बाद में सरकार ने खुद इसे एक बड़ा प्रोजेक्ट बना दिया| अगर देखा जाय तो देश और विदेश समेत पूरी दुनिया में मछली खाने और इसकी सहायता से अलग अलग उत्पाद बनाने वाले लोगो की संख्या बहुत अधिक है और वो अलग अलग तरह की मछलियाँ चाहते है| मछली […]

Continue Reading

बॉलीवुड के वो कलाकार जिन्हें आप नाम से नहीं बल्कि काम से जानते…

बॉलीवुड के वो कलाकार जिन्हें आप नाम से नहीं बल्कि काम से जानते – Unknown Actors Bollywood Unknown Actors Bollywood बॉलीवुड में ऐसे बहुत सारे अभिनेता है जो ना के बराबर एक्टिंग करके बहुत अधिक मशहूर हो जाते है तो वही इसके उलट बहुत सारे ऐसे अभिनेता ही जो एक्टिंग बहुत शानदार करते है लेकिन वो इतना मशहूर नहीं हो पाते और लोग उनका नाम भी नहीं जानते। ऐसे कई सारे अभिनेता है जिन्हें देखकर आप कहते होगे “अरे ये भी है क्या इस फिल्म में” आप उन्हें उनके नाम से नहीं जानते लेकिन उनका नाम आपको बहुत पसंद आता है। ऐसे ही कुछ अभिनेताओ के बारे में हम आपको बता रहे है। संजय मिश्रा – Sanjay Misra एक ऐसा एक्टर जो नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा से निकला और कोई किरदार कर दे तो उसकी छाप लोगो के मन में बन जाए लेकिन कभी मुख्य भूमिका नहीं मिली इसीलिए लोग नाम नहीं जानते। इन्हें लोग बाबूजी कहते है। आपने आल दा बेस्ट फिल्म देखी होगी उसमे एक किरदार आपके मन में घर कर गया होगा जो बार बार बोलता है “धोंडू जस्ट चिल” ये वही है संजय मिश्रा। सरल शांत और बिना किसी दिखावे वाली जिन्दगी जीने वाले संजय मिश्रा […]

Continue Reading

आखिर क्या होता है आपातकाल?

आखिर क्या होता है आपातकाल? – What is Emergency in India? Emergency in India भारत में आपातकाल, भारतीय राजनीति का वो काला अध्याय है जिसने भारतीय राजनीति को हिलाकर रख दिया था और तो और आजादी के बाद भी भारत की जनता को भारत सरकार की ही गुलामी का दंश झेलना पड़ा था। क्योंकि भारत की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी द्घारा आपातकाल की घोषणा के बाद से ही जनता के सारे मौलिक अधिकारों को छीन लिया गया था। इतना ही नहीं आपातकाल के समय सरकार जो चाहती थी सिर्फ और सिर्फ वही होता था। कुछ प्रमुख अखबारों को ही खबरें प्रकाशित करने की अनुमति दी गई थी, सरकार के मुताबिक ही खबरें प्रकाशित होती थी। दिग्गज और अनुभवी विपक्षी नेताओं और सरकार के खिलाफ बोलने वाले नेताओं को जेल के सलाखों के पीछे डाल दिया गया था यानि कि पूरी तरह से भारतीय लोकतंत्र की मान्यताओं का हनन करते हुए इंदिरा गांधी ने भारत में आपातकाल लागू किया था। 26 जून 1975 को भारत में आपातकाल की घोषणा की गई थी। जबकि देश से 21 मार्च 1977 तक पूरे 21 महीने बाद आपातकाल हटाया गया था। ये वो दौर था जब भारतीय लोकतंत्र की मूल्यों की पूरी तरह से धज्जियां […]

Continue Reading

क्या आप जानते हैं विश्व के सबसे अधिक आबादी वाले देश कौनसे है?

List of Most Densely Populated Countries दुनिया में बढ़ती जनसँख्या हर किसी के लिए चिंता का विषय है। चीन व भारत की जनसँख्या विश्व में सबसे अधिक है, दोनों ही देश अपनी जनसँख्या अरब से ऊपर रखे हुए है। 325 मिलियन जनसँख्या के साथ संयुक्त राज्य अमेरिका तीसरे स्थान पर आता है। ब्रिक देश जैसे की ब्राजील, रूस, भारत और चीन को आम तौर पर 21 वीं शताब्दी में चार प्रमुख उभरती अर्थव्यवस्थाओं में माना जा रहा है, जोकी शीर्ष दस सबसे अधिक आबादी वाले देशों में से एक हैं। तो आइये जानते है Most Populous Countries in the World – विश्व के 10 सबसे अधिक जनसँख्या वाले देशो के बारे में। क्या आप जानते हैं विश्व के सबसे अधिक आबादी वाले देश कौनसे है? – List of Most Densely Populated Countries चीन– चीन विश्व का सबसे ज्यादा जनसँख्या वाला देश है। चीन की जनसँख्या लगभग 1.3 बिलियन यानी 1 अरब 39 करोड़ 49 लाख 70 हजार है। अकेले चीन देश की जनसंख्या विश्व में पूरी आबादी की 18.2% है। भारत- भारत देश चीन से ज्यादा पीछे नहीं है, भारत में दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी आबादी लगभग 1,339,080,000 निवास करती है। भारत व चीन में विश्व की कुल मानव […]

Continue Reading