Padmanabhaswamy Temple History In Hindi | पद्मनाभस्वामी मंदिर का रहस्य

नमस्कार दोस्तों “shayarisms4lovers.in” में आपका स्वागत है | दोस्तों वैसे तो केरला में कई सारे मंदिर है जिनकी कलाकृति अद्वितीय है और जिन्हे गिन पाना भी बहुत मुश्किल है, हर एक मंदिर अपने आप में एक अनोखी आस्था की छाप छोड़ता है और जिनके पीछे अपनी एक कहानी छिपी है आज हम ऐसे ही एक मदिर के बारे में बात करने जा रहे है जो भारत के केरल राज्य के तिरुअनन्तपुरम में स्थित, भगवान विष्णु का प्रसिद्ध हिन्दू मंदिर, उस प्रसिद्ध मंदिर का नाम है पद्मनाभस्वामी मंदिर | यह भारत के प्रमुख वैष्णव मंदिरों में से एक है मंदिर के गर्भ गृह में भगवान विष्णु की विशाल मूर्ति है। इस प्रतिमा में भगवान विष्णु शेष नाग पर विराजमान है। यह ऐतिहासिक मंदिर तिरुअनंतपुरम के अनेक पर्यटन स्थलों में से एक है | यह मंदिर विश्व के धनवान मंदिरो में से एक है, यहाँ विश्व भर से लाखो लोग विष्णु भगवान् के दर्शन के लिए यहाँ पहुंचते है | पद्मनाभस्वामी मंदिर विष्णु-भक्तों की प्रख्यात आराधना-स्थली है। यहां केवल हिन्दू ही प्रवेश कर सकते है. इस मंदिर में प्रवेश के लिए पुरुषों को सिर्फ धोती, जबकि औरतों को साड़ी पहनना जरुरी होता है, यह बहुप्रतिस्थित मंदिर प्राचीन वास्तु शिल्प कारीगरी का एक […]

Continue Reading

Stephen Hawking Quotes in Hindi & English Interesting Facts

स्टीफन हॉकिंग के अद्भुत विचार Stephen Hawking Quotes Hindi अत्यंत प्रतिभाशाली वैज्ञानिक और आज के न्यॅूटन, स्टीफन हाकिंग(Stephen Hawking) ने साबित कर दिया है कि जब उद्देश्य बड़ा हो और संकल्प दृढ़ हो और जीने के लिये उद्देश्यपूर्ण चाहत हो तो मौत को भी मोहलत देना पड़ती है और स्टीफन हॉकिंग वह व्यक्ति हैं, जिसकी ज़िद के आगे मौत भी हार गयी| ऐसा ही हुआ स्टीफन हॉकिंग(Stephen Hawking) ने शारीरिक अक्षमताओं को दर किनार करते हु्ए यह साबित किया कि अगर इच्छा शक्ति दृढ हो तो व्यक्ति ऐसा कुछ नहीं है जिसे वो हासिल कर नहीं सकता । 21 वर्ष की उम्र में एक भयानक बिमारी की चपेट में आ जाने के बाद डॉक्टरों ने कह दिया था कि वे 2 वर्ष से ज्यादा जी नहीं पायेंगे| उनकी बिमारी ने उनके शरीर जिन्दा लाश बना दिया लेकिन स्टीफन हाकिंग(Stephen Hawking) ने अपनी विकलांगता को कभी अपने पे हावी होने नहीं दिया| विकलांग होने के बावजूद उन्होंने अन्तरिक्ष के कुछ ऐसे रहस्यों से पर्दा उठाया है जिस पर दुनिया आश्चर्य करती है. उनकी किताब “A Brief History of Time” अपने तरह की सबसे फमेस बुक्स में गिनी जाती है. उनका जीवन वाकई में लाखों लोगों के लिए एक प्रेरणा और उनके विचार वाकई में हमारे जीवन […]

Continue Reading

Amazing New Year Facts in Hindi | नववर्ष पर रोचक तथ्य

Interesting /Amazing New Year Facts in Hindi  नववर्ष से जुड़े 20+ आश्चर्यजनक तथ्य नमस्कार दोस्तों “shayarisms4lovers.in” में आपका स्वागत है | shayarisms4lovers.in  की तरफ से आप लोगों को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनायें – साल 2018 आपके लिए मंगलमय हो, ईश्वर आपकी रक्षा करे, और आपकी सारी इच्छाएं पूरी करे | आज हम आप लोगों के साथ नववर्ष से सम्बंधित कुछ आश्चर्यजनक तथ्य पेश कर रहे हैं, उम्मीद है आपको बेहद पसंद आएँगी | Fact 1) 1582 को 1 जनवरी को नववर्ष पुनर्जीवित किया गया था, जो ग्रेगोरियन कैलेंडर के अनुसार आज भी सभी देशो में बनाया जाता है। 1 जनवरी एक बड़े त्यौहार के रूप में पूरी दुनिया में बनाया जाता हैं। Fact 2) New Year के दिन करीब दुनिया में लगभग 1 अरब लोग टीवी देखते हैं। Fact 3) 153 ई.पू. रोमन सीनेट ने नए साल को 1 जनवरी के रूप में घोषित किया था। Fact 4) दुनिया में लगभग 61% लोग New Year के दिन प्रार्थना करते हैं। Fact 5) स्पेन में नए साल की परम्परा के अनुसार लोग नए साल की पूर्व संध्या पर आधी रात को घर से बाहर अंगूर खाने जाते हैं। Fact 6) दुनिया में केवल और केवल 22% लोग ही आधी रात से पहले सोते हैं। Fact […]

Continue Reading

Interesting Facts about Christmas in Hindi | Amazing Facts

क्रिसमस पर कुछ मजेदार रोचक तथ्य Interesting Facts About Christmas In Hindi नमस्कार दोस्तों “shayarisms4lovers.in” में आपका स्वागत है | हम सब जानते है की लगभग संपूर्ण विश्व में 25 दिसम्बर के दिन को क्रिसमस के रूप में मनाया जाता है, यह त्यौहार ईसाई समुदाय का सबसे बड़ा त्यौहार है, आइये दोस्तों जानते है ईसाइयों (क्रिश्चंस) के इस सबसे बड़े त्यौहार से जुड़ी बहुत सी दिलचस्प बातें हैं: क्यों मनाते हैं क्रिसमस का यह पर्व? क्रिसमस का आरंभ करीबन चौथी सदी में हुआ था। यीशु के पैदा होने और मरने के सैकड़ों साल बाद जाकर कहीं लोगों ने 25 दिसम्बर को क्रिसमस या बड़ा दिन, ईसा मसीह या यीशु के जन्म की खुशी में मनाया जाने वाला त्यौहार है। 25 दिसम्बर के दिन लगभग संपूर्ण विश्व मे अवकाश रहता है। मगर इस तारीख को यीशु का जन्म नहीं हुआ था क्यूंकि सबूत दिखाते हैं कि वह अक्टूबर में पैदा हुए थे। दिसम्बर में नहीं। ईसाई होने का दावा करने वाले कुछ लोगों ने बाद में जाकर इस दिन को चुना था | क्रिसमस से 12 दिन के उत्सव “Christmastide” की भी शुरुआत होती है। एन्नो डोमिनी काल प्रणाली के आधार पर यीशु का जन्म, 7 से 2 ई.पू. के बीच हुआ […]

Continue Reading