shayarisms4lovers mar18 28 - हालात-ऐ-इश्क़ – दो लाइन उर्दू पाकिस्तानी शायरी

हालात-ऐ-इश्क़ – दो लाइन उर्दू पाकिस्तानी शायरी

मासूम सा चेहरा किस क़दर मासूम सा चेहरा था उस का ग़ालिब धीरे से जान कह कर बेजान कर गया Masoom Sa Chehra Kis Kadar Masoom Sa Chehra Tha Uss Ka Ghalib Dheere se Jaan Keh kar Bejaan Kar Gaya ऐसी बेरुखी ऐसी बेरुखी भी देखी  है, हम ने आज कल के लोगों में आप […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 28 - लफ़्ज़ों की शरारत – शरारत उर्दू शायरी

लफ़्ज़ों की शरारत – शरारत उर्दू शायरी

वो शरारत भी तेरी थी वो मोहब्बत भी तेरी थी , वो शरारत भी तेरी थी अगर कुछ बेवफाई थी , तो वो बेवफाई भी तेरी थी हम छोड़ गए तेरा शहर , तो वो हिदायत भी तेरी थी आखिर करते तो किस से करते तुम्हारी शिकायत वो शहर भी तेरा था और वो अदालत […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 47 - उलटे ही चलते है यह इश्क़ के कारवां

उलटे ही चलते है यह इश्क़ के कारवां

प्यार , इनकार और इकरार इनकार वो करते है इकरार के लिए नफरत भी करते है तो प्यार के लिए उलटे ही चलते है यह इश्क़ के कारवां आँखों को बंद  करते है  दीदार के लिए Pyar , Inkaar Aur  Ikraar Inkaar woh karte hai ikraar ke liye, Nafrat bhi karte hai to pyar ke liye, Ulte hi […]

Continue Reading

शायरी-ऐ-मोहब्बत – उर्दू पाकिस्तानी शायरी

मुझे तुम से मुहब्बत है मैं आज भी रखती हूँ अपने दोनों हाथो का ख्याल न जाने उसने कौन सा हाथ पकड़ कर कहा होगा मुझे तुम से मुहब्बत है ..!! हो सकती है मोहब्बत हो सकती है मोहब्बत ज़िन्दगी में दोबारा भी बस हौसला हो एक दफा फिर बर्बाद होने का.. हर एक लफ्ज़ आसान […]

Continue Reading