shayarisms4lovers June18 98 - तेरा आना मेरी जिंदगी में एक ख्वाब सा लगता है

तेरा आना मेरी जिंदगी में एक ख्वाब सा लगता है

तेरा आना मेरी जिंदगी में एक ख्वाब सा लगता है तेरा आना मेरी जिंदगी में एक ख्वाब सा लगता है ऐतबार नहीं है मुझे अपनी किस्मत पे एक धोखा सा लगता है जब भी तुझे करीब पता हूँ एक सकून सा लगता है फिर न जाने क्यों एक डर सा लगता है तुझे पाकर जहाँ मुकमल सा लगता है फिर भी न जाने कहीं एक कोना अधूरा सा लगता है जमानो चले जिस के साथ हर एक पल का साथ फिर भी न जाने क्यों यह सफर अधूरा लगता है रहेंगे तलबगार तेरे सारी उम्र का है फिर भी न जाने यह वादा अधूरा लगता है देखे सारे ख्वाब हर ख्वाब को जिया हमने फिर भी न जाने क्यों एक सपना अधूरा लगता है कहीं तो कुछ खाली है कहीं तो कुछ अधूरा है फिर भी न जाने क्यों तेरा साथ मुकमल लगता है Tera Aana Meri Zindagi Mein Ek Khwab Aa Lagta Hai Tera aana meri jindagi mein ek khwab sa lagta hai aitbaar nahi hai mujhe apni kismat pe ek dhokha sa lagta hai Jab bhi tujhe karib pata hoon ek sakoon sa lagta hai phir na jane kyon ek dar sa lagta hai tujhe pake jahan mukamal […]

Continue Reading