shayarisms4lovers June18 239 - हम ने एक इंसान को चाहा और गुनहगार हो गए – Hindi Shayari

हम ने एक इंसान को चाहा और गुनहगार हो गए – Hindi Shayari

मैं अश्क़ हूँ मैं अश्क़ हूँ मेरी आँख तुम हो मैं दिल हूँ मेरी धडकन तुम हो मैं जिस्म हूँ मेरी रूह तुम हो मैं जिंदा हूँ मेरी ज़िन्दगी तुम हो मैं साया हूँ मेरी हक़ीक़त तुम हो मैं आइना हूँ मेरी सूरत तुम हो मैं सोच हूँ मेरी बात तुम हो मैं मुकमल हूँ […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 199 - यारों की इनायत – ख्वाजा मीर दर्द की शायरी

यारों की इनायत – ख्वाजा मीर दर्द की शायरी

यारों की इनायत न कोई इलज़ाम , न कोई तंज़ , न कोई रुस्वाई मीर , दिन बहुत हो गए यारों ने कोई इनायत नहीं की Yaron ki Inayat Na koi ilzaam, Na koi tanz, Na koi ruswai Mir, din bohat hogaye yaron ne koi inayat nahi ki.. ज़ोर आशिक़ मिज़ाज है कोई जब मैंने […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 120 - दिल नहीं आप धड़कते हैं मेरे सीने में – WASI SHAH SHAYARI

दिल नहीं आप धड़कते हैं मेरे सीने में – WASI SHAH SHAYARI

मेरी वफ़ाएँ कोई कहे उसे मेरी दुनिया याद करती हैं उसे कहना उसे मेरी वफ़ाएँ याद करती हैं मैं अक्सर आईने के सामने बेचैन रहती हूँ किसी ने खत में लिखा है अदाएं याद आती हैं उसे कहना खिजाएं आ गई हैं अब तो लौट आए उसे कहना दिसंबर की हवाएँ याद करती हैं उसे […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 204 - Best Collection of Pakistani Two Lines urdu Shayari

Best Collection of Pakistani Two Lines urdu Shayari

कोई ऐसा शख्स जो पुकारता था हर घड़ी , जो जुड़ा था मुझसे लड़ी लड़ी कोई ऐसा शख्स अगर कभी , मुझे भूल जाये तो क्या करूं Koi Aisa Shakhs Jo Pukarta Tha Har Ghadi, Jo Juda Tha Mujhse Ladi Ladi Koi Aisa Shakhs Agar Kabhi, Mujhe Bhool Jaye To Kya Krun जान देने की […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 215 - जिंदगी की रंग-ओ-बू – Shayari of Life

जिंदगी की रंग-ओ-बू – Shayari of Life

मंजूर कब थी हमको वतन से दूरियां आईना-ऐ-ख़ुलूस-ऐ-वफ़ा चूर हो गए जितने चिराग-ऐ-नूर थे बे नूर हो गए मालूम यह हुआ की वो रास्ते का साथ था मंज़िल करीब आई और हम दूर हो गए मंजूर कब थी हमको वतन से यह दूरियां हालात की जफ़ाओं से मजबूर हो गए कुछ आ गयी हमे एहले-ऐ-वफ़ा […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 188 - फ़राज़ की दिल फरेब उर्दू शायरी – Erratic collection of Fazar Shayari

फ़राज़ की दिल फरेब उर्दू शायरी – Erratic collection of Fazar Shayari

किसी से जुदा होना किसी से जुदा होना अगर इतना आसान होता “फ़राज़” जिस्म से रूह को लेने कभी फरिश्ते न आते   Kissi Se Juda Hona Kissi Se Juda Hona Agar Itna Asan Hota “FARAZ” Jism Se Rooh Ko Leney Kabhi Farishtay Na Aate प्यासे गुज़र जाते हैं तू किसी और के लिए होगा […]

Continue Reading