shayarisms4lovers June18 218 - Ek tara bole adhuri prem khani – Mohan rulaniya

Ek tara bole adhuri prem khani – Mohan rulaniya

कुछ दिनो पहले कि बात है । जो  मेरे जान से प्यारे भाई के साथ हुआ उसे मै आज बया करने जा रहा हुँ । ये कहानी एक प्यार ओर दोस्ती की जंग को बया करती है । एक ऐसा शक्स जो अपनी सारी जींवन सच्चे प्यार कि तलास में गुजार देता है । और […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 26 - Kuch samjh nhi aaya – Rishi

Kuch samjh nhi aaya – Rishi

कुछ साल पहले मुझे कोई डेट नही याद रहता था, यहां तक की मुझे मेरा जन्मदिन भी नही याद रहता था, लेकिन जब तुम आयी तो सब कुछ याद रहने लगा। पहले हम लोगो में कुछ बाते होनी शुरू हुई ये पहली बार था जब मैं किसी लड़की से बात कर रहा था पता नही […]

Continue Reading