shayarisms4lovers mar18 70 - किसी के दिल में तेरी धड़कन आज भी है

किसी के दिल में तेरी धड़कन आज भी है

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

मुलाक़ात

काश सूरत आपकी इतनी प्यारी न होती
काश आपसे मुलाक़ात हमारी न होती
सपनो में ही हम देख लेते आपको
तो आज मिलने की इतनी बेकरारी न होती !!

Mulaqat

Kaash Surat Apki Itni Pyari Na Hoti
Kaash Aapse Mulaqat Hamari Na Hoti
Sapno Me Hi Hum Dekh Lete Aapko
To Aaj Milne Ki Itni Bekarari Na Hoti !!


दामन

चाहत ही मिले तुझे मायूसी न मिले ,
आँसूओ को तेरी आँखों में इजाज़त न मिले ,
इतनी खुशिया भर जाये दामन में तुम्हारे
रोने की तुझे कभी फुर्सत न मिले

Daman

Chahat Hi mile Tujhe Mayusi Na Mile,
Aansuvon Ko Teri Ankhon Me Ijazat Na Mile,
Itni Khushiya Bhar Jaye Daman Me,
Rone Ki Tujhe Kabi Fursat Na Mile !!


दीदार

किसी के दिल में तेरी धड़कन आज भी है ,
किसी की नज़र में तेरा दीदार आज भी है ,
अगर ज़िन्दगी से हो शिकायत तो याद करना ,
किसी की ज़िन्दगी में तेरी कमी आज भी है !!

Didar

Kisi Ki Dil Me Teri Dhadkan Aj Bhi Hai,
Kisi Ki Nazar Me Tera Didar Aj Bhi Hai,
Agar zindagi Se Ho Shikayat To Yaad Karna,
Kisi Ki zindagi Me Teri Kami Aj Bhi Hai!!


मेहबूब

प्यार का जज़्बा भी क्या ख्वाब दिखा देता है
अजनबी चेहरे को मेहबूब बना देता है !!​

Mehboob

Pyar Ka Jazba Bhi Kya Khwaab Dikha Deta Hai
Ajnabi Chehre Ko Mehboob Bana Deta Hai !!​…

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 45 1 - तुम वो दुआ हो – ईद शायरी

तुम वो दुआ हो – ईद शायरी

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

मेरी मुहब्बत

अब तो मेरी मुहब्बत भी मुझसे खफा हो गयी
अब तो जो होगा मेरी जान बस तमाशा होगा

 

Meri Mohabbat

Ab to Meri Mohabbat bhi mujse khfa ho gayi
Ab to Jo hoga meri jaan bas tamasha hoga

 


 

दिल से किसी को चाहा था

अपनी फितरत बदली है मैंने तुम्हे अपना बनाने के लिए
करेगें याद लोग सदियों तक किसी ने दिल से किसी को चाहा था

 

Dil Se kisi ko Chaha Tha

Apni Fitrat Badli Hai meine Tumhe Apna Banane Ke liye
Karegein Yaad log Sadiyun Tak Kisi Ne Dil Se kisi ko Chaha Tha

 


 

मेरे दिल को गिला रहा

मेरे मुक़द्दर को भी यह गिला रहा मुझसे
के किसी और का होता तो सँवर गया होता

 

Mere Dil ko Gila Raha

Mere Muqaddar Ko Bhi Yeh Gila Raha Mujh Se
Ke Kisi Aur Ka Hota To Sanwar Gaya Hota

 


 

तुम मुझे भूल जाओगी

अपनी डायरी के किसी बर्क पे मुझे तहरीर कर लो न
मैं डरता हूँ मैं नहीं रहूँगा तो तुम मुझे भूल जाओगी

 

Tum Mujhe Bhol Jaogi

Apni Diary Ke Kisi Waqr Pe Mujhe Tehreer Kardo Na
Mai Darta Hon Mai Nahi rahunga to Tum Mujhe Bhol Jaogi

 


 

खुदा याद नहीं

अपनी ज़िल्लत का सबब यही है शायद
सब कुछ है याद मगर सिर्फ खुदा याद नहीं

 

Khuda Yaad Nahi

Apni Zillat Ka Sabab Yehi Hai Shayad
Sab Kuch Hai Yaad Magar Sirf Khuda Yaad Nahi

 


 

यह मेहँदी

तेरे कहने पे लगायी है यह मेहँदी मैंने
ईद पर अब न तू आया तो क़यामत होगी

 

Yeh Mehndi

Tere Kehney Pe Lagayi Hai Yeh Mehndi Mainne
EID Par Ab Na Tu Aya To Qayamat Hogi

 


 

दर -ओ -दीवार

ईद के दिन सब मिलेंगे अपने अपने महबूब से
हम गले मिल मिल के रोएंगे दर -ओ -दीवार से .

 

Dar-o-Deewar

Eid Ke Din Sab Milainge Apne Apne mehboob Se
Hum Galy Mil Mil Ke Royenge Dar-o-Deewar Se.

 


 

तुम वो दुआ हो

तुम वो दुआ हो जिसके मांगने के बाद
यह दुआ भी मांगी जाती है के यह किसी और के हक़ में कबूल न हो

 

Tum Wo Dua Ho

Tum Wo Dua Ho Jiske Mangne Ke Baad
Yeh DUA Bhi Mangi Jati Hai Ke Yeh Kisi Or Ke Haq Mai Qabool Na Ho…

Continue Reading
Wasi Shah - Sochta hoon ke usay neend bhi ati hogi..

प्यार, मोहबत और चाहत शायरी – Shayari of Love and Romance

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>
चाहत की महफ़िल

ग़म न कर ज़िन्दगी बहुत बड़ी है
चाहत की महफ़िल तेरे लिए सजी है
बस एक बार मुस्कुरा कर तो देख
तक़दीर खुद तुझसे मिलने बाहर खड़ी है

 

Chahat Ki Mehfil

Gham Na Kar Zindagi Bahut Badi Hai,
Chahat Ki Mehfil Tere Liye Saji Hai,
Bas Ek Baar Muskura Kar Tho Dekh,
Taqdeer Khud Tujhse Milne Bahar Khadi Hai

 


आप के नाम

मंज़िलों की हर राह आप के नाम ,
मोहब्बत की हर अदा आप के नाम
प्यार भरी हर निगाह आप के नाम
और आज लबों पर आने वाली हर दुआ आपके नाम

Aap Ke Naam

Manzilo ki har sadak aap ke naam
Mohabbat ki har adda aap ke naam
Pyaar bhari har nigah aap ke naam
Aur aaj labon par aaane wali har dua aapke naam

 


प्यार की तड़प

प्यार की तड़प को दिखाया नहीं जाता
दिल में लगी आग को बुझाया नहीं जाता
कितनी भी दूरी हो प्यार में मगर
आप जैसे दोस्त को भुलाया नहीं जाता

 

Pyaar ki Tadap

pyaar ki tadap ko dikhaya nahi jata
dil mein lagi aag ko bhujaya nahi jata
kitni bhi doori ho pyaar mein magar
aap jaise dost ko bholaya nahi jata

 


तेरी  तस्वीर

न दिल को “बहलाने” के लिए .
न घर मैं “सजाने” के लिए .
बस आपकी एक “तस्वीर” चाहिए हमें .
अपने सूने घर को “बसाने” के लिए

 

Teri Tasveer

Na Dil Ko “BEHLANEY” Ke Liye.
Na Ghar Main “SAJANEY” Ke Liye.
Bus Aapki Ek “TASVEER” Chahiye Humain.
Apne Sune Ghar ko “BASANE” ke Liye…

Continue Reading