shayarisms4lovers June18 152 - छोड़कर तेरी चाहत पराई लगे दुनिया सारी – तेरे इश्क़ में

छोड़कर तेरी चाहत पराई लगे दुनिया सारी – तेरे इश्क़ में

बला है इश्क़ कहर है , मौत है , सजा है इश्क़ सच तो यह है बुरी बला है इश्क़ करते सब है पर सब से हारा है इश्क़ Blaa Hai IshQ Kehar Hai, Mout Hai, Saja Hai IshQ Sach To Yeh Hai Buri Blaa Hai IshQ karte sab hai par sab se hara hai ishq आप की मुस्कुराहट मेरी किसी खता पर नाराज़ मत होना अपनी प्यारी सी मुस्कान कभी न खोना सकून मिलता है देख कर आप की मुस्कुराहट को मुझे मौत भी आये तो भी तुम मत रोना Aap ki Muskurahat Meri kisi khata par naraz mat hona Apni pyari si muskan kabhi kabhi na khona Sakoon milta hai dekh kar aap ki muskurahat ko Mujhe mout bhi aaye to bhi tum mat rona मेरा इंतज़ार मुझे भी कोई याद कर रही होगी अपने सपनो मैं वो मुझे सजा रही होगी कोई कहे या न कहे मगर वो मेरा इंतज़ार ज़रूर कर रही होगी Mera Intezar Mujhe bhi koi yaad kar rahi hogi Apne sapno main wo mujhe saja rahi hogi Koi kahe ya na kahe magar Wo mera intezar zaroor ka rahi hogi ज़िन्दगी तेरे नाम हर बला से खूबसूरत तेरी शाम कर दूँ प्यार अपना […]

Continue Reading