shayarisms4lovers June18 291 - काश ! के  होते  वो  मेरे

काश ! के  होते  वो  मेरे

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

काश ! के  होते  वो  मेरे
उनकी  आगोश  में  गुजरती  शामें
उनकी  बाँहों  में  होते  मेरे  सवेरे

      न  रहती  बाकि  कोई  आरज़ू , कोई हसरत
      न  होते  जीवन  में  अँधेरे

  जाने  क्यों  मेरी  राहों  में
किस्मत  ने  कांटे  बिखेरे

      है  दिल  का  बगीचा  वीरान
      वो  फूल      सका  आंचल में  मेरे

बड़ी  खुश  किस्मत  होगी  वो
आएगी  जो  जीवन  में  तेरे

      इस  कदर  हम  तन्हा    हुए  होते
      अगर  होते  वो  मेरे
      हाँ  ! काश  होते  वो  मेरे

लेखिका – जसविंदर कौर उर्फ़ जस्सी (नकोदर पंजाब)


Kash ! Ke Hote Wo Mere
Unki Agosh Mein Gujrati Shaame
Unki Bahon Mein Hote Mere Savere

                    Na Rehti Baki Koi Arzoo, Na Koi Hasrat
                    Na Hote Jeevan Main Andhere

Na Jane Kyon Meri Rahon Mein
Kismat Ne Kante Bikhere

                   Hai Dil Ka Bagicha Viran
                   Wo Phool Na Aa Saka Aanchal Mein Mere

Badi Kush Kismat Hogi Wo
Ayegi Jo Jivan Main Tere

                   Is Kadar Hum Tanha Na Hue Hote
                   Agar Hote Wo Mere
                   Haan Kash Hote Wo Mere

Written By – Jaswinder Kaur “Jassi” (Nakodar Punjab)

 …

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 209 - प्यार का इज़हार शायरी – Valentine’s Romantic Shayari

प्यार का इज़हार शायरी – Valentine’s Romantic Shayari

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

“उन्हें ये ख्वाहिश के हम ज़ुबाँ से इज़हार करे
हमें यह आरज़ू के वो दिल की ज़ुबाँ समझ लें“

प्यार का इज़हार

उन को चाहना मेरी मोहब्बत है
उन्हें कह न पाना मेरी मजबूरी है
वो खुद क्यों नही समझता मेरे दिल की बात को
क्या प्यार का इज़हार करना ज़रूरी है

Pyar Ka Izhaar

Un ko chahna meri mohabbat hai
Unhe keh na pana meri majboori hai
Wo khud kyon nhi samjhta mere dil ki baat ko
Kya pyar ka izhaar karna zaroori hai


मोहब्बत का इज़हार

दिल यह मेरा तुमसे प्यार करना चाहता हैं
अपनी मोहब्बत का इज़हार करना चाहता है
देखा हैं जब से तुम्हे ऐ मेरे हमदम
सिर्फ तुम्हारा ही दीदार करना चाहता है

Mohabbat Ka Izhaar

Dil yeh mera Tumse Pyar karna chahta hain
Apni Mohabbat ka izhaar karna chahta hai
Dekha hain jab se Tumhe ae mere humdam
Sirf tumhara hi Dedaar karna chahta hai..


दिल की आवाज़

दिल की आवाज़ को इज़हार कहते है
झुकी निगाह को इकरार कहते है
सिर्फ पाने का नाम मोहब्बत नहीं है यारो
कुछ खो कर पाने को भी प्यार कहते है

Dil Ki Awaaz

Dil ki awaaz ko izhaar kehte hai
Jhuki nigaah ko ikarar kehte hai
Sirf paane ka naam mohabbat nahi hai
Kuch kho kar pane ko bhi pyaar kehte hai..


तुझसे इज़हार किया

हर घडी तेरा दीदार किया करते हैं
हर ख्वाब में तुझसे इज़हार किया करते हैं
दीवाने हैं तेरे हम यह इक़रार करते हैं
जो हर वक़्त तुझसे मिलने की दुआ किया करते हैं

Tujse Izhaar Kiya

Har Ghadi Tera Dedaar Kiya Karte Hain
Har Khwaab Mein tujse izhaar Kiya Karte Hain
Diwaane hain Tere Hum Yeh Iqraar Karte Hain
Jo Har Waqat Tujse Milne Ki Dua Kiya Karte Hain..


इज़हार-ऐ-इश्क़

इश्क़ वही है जो हो एकतरफा हो
इज़हार-ऐ-इश्क़ तो ख्वाहिश बन जाती है
है अगर मोहब्बत तो आँखों में पढ़ लो
ज़ुबान से इज़हार तो नुमाइश बन जाती है

Izhaar-Ae-Ishq

Ishq wahi hai jo ho ektarfa ho
Izhaar-ae-Ishq to khwahish ban jaati hai
Hai agar mohabbat to aankho mein pad lo
Zuban se izhaar to numaish ban jaati hai..


इज़हार-ऐ-मोहब्बत

दिल की आवाज़ को इज़हार-ऐ-इश्क़ कहते हैं
झुकी निगाहों को इक़रार-ऐ-इश्क़ कहते हैं
सिर्फ ज़ुबान से कहना ही इज़हार-ऐ-मोहब्बत नहीं होता
दबे होंटों की मुस्कराहट को भी इक़रार-ऐ-इश्क़ कहते हैं

Izhaar-Ae-Mohabbat

Dil Ki Aawaz Ko Izhaar-ae-Ishq Kahte Hain
Jhuki Nighahon Ko Iqraar-ae-Ishq Kahte Hain
Sirf zuban se kahna hi IZHAR-ae-Mohabbat Nahi …

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 141 - इश्क़ की कीमत पूछ लो मुझ से – Passionate Shayari

इश्क़ की कीमत पूछ लो मुझ से – Passionate Shayari

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

तुम्हारा साथ

जी चाहता है तुम से प्यारी सी बात हो
हसीं चाँद तारे हो , लम्बी सी रात हो
एहसास हो , बात हो और तुम्हारा साथ हो
यही सिलसिला तमाम रात हो , तुम्हारा साथ हो
तुम मेरी ज़िन्दगी हो , तुम मेरी कायनात हो .

Tumhara Sath

Jee Chahta Hai Tum Se Pyari Si Baat Ho
Haseen Chand Tare Ho, Lambi Si Raat Ho
Ehsaas ho, baat ho aur tumhara sath ho
Yahi silsila tamam raat ho, tumhare sath ho
Tum Meri Zindagi Ho, Tum Meri Kayinat Ho.


तेरे क़दमों में

तुम न जाओ कहीं
बस एक नज़र देख लेने की इजाज़त दे दो
कुछ वक़्त गुज़ार लू तेरे क़दमों में
इक ज़िन्दगी जीने की इजाज़त दे दो

Tere Kadmo Mein

Tum na jao kahin..
Bas ek nazar dekh lene ki ijazat de do
Kuchh waqt guzar lo tere Kadmo mein
Ik zindagi jeene ki ijaazat de do


ऐतबार

किसी को प्यार इतना देना की हद न रहे
पर ऐतबार भी इतना रखना की शक न रहे
वफ़ा इतनी करना की बेवफाई न हो
और दुआ बस इतनी करना की जुदाई न हो

Aitbaar

Kisi ko pyar itna dena ki had na rahe
par aitbaar bhi itna rakhna ki shak na rahe
wafa itni karna ki bewafai na ho
aur dua bus itni karna ki judai na ho


इश्क़ की कीमत

मौत के पास जा कर भी देखा है
मैंने दिल लगा कर भी देखा है

चाँद को लोग दूर से देखते है
मैंने चाँद को पास बुला कर भी देखा है

इश्क़ की कीमत पूछ लो मुझ से
मैंने घर तक लुटा कर भी देखा है

प्यार तो भीख में भी मिल जाता है
मैंने तो दामन को भी फैला कर देखा है

एक शख्स है जो भूलता नहीं मुझसे
मैंने तो सारी दुनिया को भुला कर भी देखा है

Ishq Ki Kimat

Mout ke paas ja kar bhi Dekha hai
Meine Dil Laga kar bhi dekha hai

Chaand ko log Door se Dekhte hai
Meine chaand ko Pass Bula kar bhi Dekha hai

Ishq Ki Kimat Puch loo mujh say
Meine Ghar Tak Luta kar bhi Dekha hai

pyar to bhekh mein bhi mil jata hai
Meine to daaman ko bhi Pehla kar dekha hai

Ek shaks hai jo bhulta nhi mujh say
Meine to Sari dunya ko bhula kar bhi dekha hai…

Continue Reading