shayarisms4lovers mar18 13 - तू जो नहीं तो बिन तेरे शामें उदास हैं

तू जो नहीं तो बिन तेरे शामें उदास हैं

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

छलक पड़ेंगे आँसू 

जो ज़रा किसी ने छेड़ा छलक पड़ेंगे आँसू
कोई मुझ से यूँ न पूछे तेरा दिल उदास क्यों है

Chalak Padegein Aansoo

Jo zara kisi ne cheda chalak padegein aansu
Koi mujh se yun na pooche tera dil Udas kyon hai


गुलाबों में खुशबू

तारों में है चमक न गुलाबों में खुशबू है
तुम क्या गए हो शहर की हर शह् उदास है
खुशीओं की मुझ को दोस्तों कोई तलब नहीं
मुझ को है ग़म से प्यार मुझे ग़म ही रास है

Gulabon mein khosboo

Taron mein hai chamak na Gulabon mein khosboo hai
Tum kya gaye ho Shehar ki har sheh udas hai
Khushyon ki mujh ko doston koi talab nahi
Mujh ko hai gham se pyar mujhe Gham hi raas hai


आँखें उदास हैं

तू जो नहीं तो बिन तेरे शामें उदास हैं
ढूंढें तुझे कहाँ कहाँ आँखें उदास हैं
इक चाँद ही नहीं है जो पूछे तेरा पता
देखा नहीं है जो तुझे मेरी राहें उदास हैं

Aankhein udas hain

Tu jo nahi to bin tere shamein udas hain
Dhoondein tujhe kahan kahan aankhein udas hain
Ik chand hi nahi hai jo pooche tera pata
Dekha nahi hai jo tujhe rahein udas hain


जो तुम चाहो

जो तुम बोलो बिखर जाएं
जो तुम चाहो संवर जाएं ..
मगर यूं टूटना जुडना बुहत तकलीफ देता है

Jo Tum Chaho

Jo tum  Bolo Bikhar Jayein,
Jo tum  Chaho Sanwar Jayein..
Magar Yoon Tootna Judna Bahut Takleef Deta Hai


तुम भी एक क़ातिल हो

तुम्हे मालूम है सनम के तुम भी एक क़ातिल हो
मेरे अंदर का हँसता हुआ इंसान तुमने मार डाला है

Tum bhi Ek Qaatil ho

Tumhe maloom hai sanam ke tum bhi Ek Qaatil ho,
Mere andar ka hansta hua insaan tumne maar dala hai…

Continue Reading