shayarisms4lovers June18 259 - त्रिशा- कहानी डबल धोखे की Part I – Nawab

त्रिशा- कहानी डबल धोखे की Part I – Nawab

< ?xml encoding="utf8mb4" ?>

चैप्टर 1
कॉलेज के दोस्त

जिनकी जिंदगी बहुत तकलीफों से गुजरती है,उनकी कहानियां शानदार होती हैं।तकलीफदेह जिंदगी का एक फायदा तो कम से कम जरूर होता है ,वो ये कि इंसान को जिंदगी के बहुत कीमती सबक मिल जाते हैं जो उसको जिंदगी भर काम आते हैं।
कहानी के कई पहलू हैं, कौन सही था कौन गलत बताना मुश्किल है। त्रिशा ने अनिल को धोखा दिया या नही । ये ठीक ठीक नही कह सकते पर त्रिशा के बॉयफ्रेंड ने जरूर अनिल को धोखा दिया।पढ़ने के बाद आप खुद फैसला करिये।
बात उस वक़्त की है जब अनिल कॉलेज में पढ़ रहा था। कॉलेज खत्म होने में 1 साल बाकी था अभी। कॉलेज अच्छा जा रहा था। पढ़ाई के पॉइंट ऑफ व्यू से नही, बल्कि मौज मस्ती के पॉइंट ऑफ व्यू से। अनिल के बहुत दोस्त थे लेकिन  सुदीप , ऋषभ ,अनुराग और सिद्धांत से अनिल की बहुत खास बनती थी। इनके रूम पे ही बातों का दौर चलता, या तो मूवीज की बातें या फिर प्रोफेसर्स को गाली देने का काम , हर कोई यही बताता की कैसे उनके प्रोफेसर्स ,उनको डंडा किये रहते हैं।
सुदीप को कंप्यूटर्स की अच्छी नॉलेज थी, तो वो अपने कंप्यूटर पर कुछ कुछ करता रहता था। कुछ नही तो हॉलीवुड के सीरिअल्स या मूवीज ही देखता था।
ऋषभ की कई सारी गर्लफ्रैंडस थी तो वो उन्हें ही मैनेज करता रहता था। हालॉकि उसकी एक गर्लफ्रैंड थी जिसको वो सीरियस वाली केटेगरी में रखता था। उसका नाम शिवानी था।
अनुराग मस्तमौला टाइप का था, लेकिन दिमाग से बहुत शार्प, जो पढ़ ले या सुन ले , दस साल बाद भी वैसे का वैसे ही सुना दे। उसको हम लोग विकिपीडिया बोलते थे। उसको भोजपुरी गाने का बहुत शौक था।
सिद्धांत पढ़ाकू टाइप का था।सिद्धांत पहले उतना अच्छा दोस्त नही था, लेकिन जब अनिल की लाइफ करवट ले रही थी , उस वक़्त वो सिद्धांत के साथ ही रहता। उस बीच दोनो में अच्छी बॉन्डिंग हो गयी। सिद्धांत की गर्लफ्रैंड को सिद्धान्त की गर्लफ्रैंड बनवाने में भी अनिल का ही हाथ था। वो दूसरी कहानी है, उसके बारे में बाद में बात करेंगे।
फिलहाल अनिल की बात करते हैं।अनिल को दीन दुनिया से ज्यादा मतलब नही था,उसको आज पता नही होता की कल क्या करना है।उसकी जिंदगी मोमेंट्स में कटती थी। उसका बस एक ही काम फेसबुक पे स्टेटस अपलोड करना और लैब में जाके मूवीज डाउनलोड करना क्योंकि वहाँ नेट की स्पीट अच्छी आती …

Continue Reading