shayarisms4lovers June18 272 - Hindi Stories | घरु

Hindi Stories | घरु

घरु | Hindi Stories परितोष तेजवानी घर में आते ही सबसे पहले अपने पिता जगमोहन तेजवानी के पास आया| जगमोहन  तेजवानी 83 वर्ष के विधुर वृद्ध थे| सरकारी नौकरी से सेवानिवृत्त, परितोष भी प्रोढ़ अवस्था में आ चूका था और एक नामचीन पत्रकार है| {जगमोहन  अपने कमरे में अपनी कुर्सी पर बैठे नित्य की भांति […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - Fairy Tales in Hindi | कानपूर के दामाद

Fairy Tales in Hindi | कानपूर के दामाद

Fairy Tales in Hindi | कानपूर के दामाद साल 1986 की बात है… शादी के बाद, पहली बार हम अपनी श्रीमती जी को लिवाने “कानपुर धाम” पहुंचे…सूरत से ट्रेन के तीस घण्टे के लंबे सफर के बाद| ट्रेन कानपुर स्टेशन पर रुकते ही एक “कुली महाशय” हमारी सीट पर आकर बोले “पाय लागूं जीजाजी”… इससे […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - Hindi Story | भगवान का सत्कार

Hindi Story | भगवान का सत्कार

Hindi Story | भगवान का सत्कार एक गाँव में दामोदर नाम के एक गरीब ब्राह्मण रहा करते थे! ब्राह्मण को लोभ और लालच बिलकुल भी न था! वे दिन भर गाँव में भिक्षा व्रती करते और जो भी रुखा सुखा मिल जाता उसे भगवन का प्रशाद समझ कर ग्रहण कर लेते| तय समय पर भ्रम्हं […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - children story in hindi | कहानी बच्चों की

children story in hindi | कहानी बच्चों की

Children Story in Hindi | आलस्य यह एक ऐसे किसान की कहानी है जो अपने पुरखों की दी हुई ज़मीन-जायदाद के कारण था तो काफी धनि लेकिन उसमें एक कमी थी, और वह थी आलस करना| जीवन के शुरूआती दिनों से ही वह आलसी बनता गया| पहले तो उसने कई कामों को टालना शुरू कर […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - लालची राजा | Hindi Kahaniya for Kids

लालची राजा | Hindi Kahaniya for Kids

पाठकों नमस्कार, कहा गया है बच्चों को अगर उनकी ही भाषा में कोई बात समझाई जाए तो वे बेखुभी समझते हैं| लेकिन अब हर बच्चे के साथ बच्चा तो नहीं बना जा सकता| इसलिए अगर बच्चों को कोई शिक्षाप्रद बात बताना है तो उन्हें कहानी के माध्यम से बताई जा सकती है| इसीलिए आज हम […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 199 - Child Story in Hindi | ये बच्चे कब समझदार होंगे

Child Story in Hindi | ये बच्चे कब समझदार होंगे

Child Story in Hindi | ये बच्चे कब समझदार होंगे रघुवर प्रसाद जी अब सेवानिवृत्त हो चुके थे| वो अध्यापक थे| उनकी पहचान एक कर्मठ अध्यापक के रूप में थी| अपने कितने ही छात्रों से भावनात्मक रिश्ता था, रघुवर जी का| सेवा निवृत्ति के उपरांत भी कितने ही ऐसे छात्र थे जो सफल थे और […]

Continue Reading