shayarisms4lovers June18 278 - Aaj phir e tanhai lag ja gale, Shayari

Aaj phir e tanhai lag ja gale, Shayari

Aaj phir e tanhai lag ja gale, ke tujhse lipat ke rone ka bahut dil hai, ek too hee to hai hamsaya zindagi ka meri.. varna yahan to har rishta, meri rooh ka katil hai! आज फिर ए तन्हाई लग जा गले, के तुझसे लिपट के रोने का बहुत दिल है, एक तू ही तो […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 202 - इश्क़ और तन्हाई शायरी

इश्क़ और तन्हाई शायरी

तन्हाई कितनी अजीब है मेरे अंदर की तन्हाई भी ,​ ​हज़ारों अपने हैं मगर याद तुम ही आते हो ..​ Tanhai Kitni Ajeeb Hai Mere Andar Ki Tanhai Bhi,​ ​Hazaron Apne Hain Magar Yaad Tum Hi Atey Ho..​ तन्हाईयाँ तन्हाईयाँ कुछ इस तरह से डसने लगी मुझे मैं आज अपने पैरो की आहट से डर […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 94 - ग़म इसका नहीं की आप मिल न सकोगे – याद शायरी

ग़म इसका नहीं की आप मिल न सकोगे – याद शायरी

तन्हाई में आंसू करोगे याद एक दिन साथ बिताए ज़माने को चले जाएंगे जिस दिन हम कभी वापिस न आने को करेगा महफ़िल में ज़िकर हमारा कोई तो चले जाओगे तन्हाई में आंसू वहाने को . Tanhai Mein Aansu Karoge Yaad Ek Din Saath Beete Zamane Ko Chale Jaayenge Jis Din Hum Kabhi Wapas Na […]

Continue Reading