shayarisms4lovers June18 199 - Hindi Gazal

Hindi Gazal

अगर आप शायरी और ग़ज़ल प्रेमी हैं तो आपके इस लेख में एक से बढ़कर एक अच्छी अच्छी ग़ज़ल या लम्बी शायरिया पढ़ने को मिलेगी| सभी गज़ले बहुत ही प्रसिद्ध कवियों द्वारा लिखी गयी हैं जो की दिल की गहराईयो को छूती हैं Hindi Gazal By Famous Poet Hindi Gazal 1) मुक्कमल किताब हूँ Gazal […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 202 - Impress to someone-express yourself with shayari in hindi & urdu

Impress to someone-express yourself with shayari in hindi & urdu

hi दोस्तों , Shayari SMS 4 Lovers में आपका स्वागत है ,बोहोत बार होता है की हम अपनी दिल की बात नहीं कह पते ,किसी को impress कैसे करे सोचते ही रह जाते है,गर्लफ्रेंड को impress कैसे करे ये लड़का सोचता है और boyfriend को impress कैसे करे ये लड़की सोचती है ,मेरा मानना है […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 12 - जब कभी हँसते है तो आंखें छलक पड़ती हैं

जब कभी हँसते है तो आंखें छलक पड़ती हैं

याद -ऐ -माझी यूं ही आज याद -ऐ -माझी ने रुला दिया है मुझे मौत से भी पहले ज़िन्दगी ने सुला दिया है मुझे पास रह के भी मेरे दोस्त क्यों हैं दूर इसी सोच ने अंदर तक हिला दिया है मुझे बिछड़े हुए यारों की याद आई है इतनी इन यादों की तपीश ने […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 98 - तेरा आना मेरी जिंदगी में एक ख्वाब सा लगता है

तेरा आना मेरी जिंदगी में एक ख्वाब सा लगता है

तेरा आना मेरी जिंदगी में एक ख्वाब सा लगता है तेरा आना मेरी जिंदगी में एक ख्वाब सा लगता है ऐतबार नहीं है मुझे अपनी किस्मत पे एक धोखा सा लगता है जब भी तुझे करीब पता हूँ एक सकून सा लगता है फिर न जाने क्यों एक डर सा लगता है तुझे पाकर जहाँ […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 92 - तुझे ऐ बेवफा हम ज़िंदगी का आसरा समझे

तुझे ऐ बेवफा हम ज़िंदगी का आसरा समझे

तुझे ऐ बेवफा हम ज़िंदगी का आसरा समझे तुझे ऐ बेवफा हम ज़िंदगी का आसरा समझे बड़े नादान थे हम हाय समझे भी तो क्या समझे मुहब्बत में हमें तक़दीर ने धोखे दिए क्या क्या जो दिल का दर्द था इस दर्द को दिल की दवा समझे हमारी बेबसी ये कह रही है हाय रो रो […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 263 - आज फिर दिल है कुछ उदास उदास – जावेद अख्तर

आज फिर दिल है कुछ उदास उदास – जावेद अख्तर

दर्द अपनाता है पराये कौन कौन सुनता है और सुनाए कौन कौन दोहराए वो पुरानी बात गम अभी सोया है जगाए कौन वो जो अपने हैं क्या वो अपने हैं कौन दुःख झेले आज़माए कौन अब सुकून है तो भूलने में है लेकिन उस शख्स को भुलाए कौन आज फिर दिल है कुछ उदास उदास […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 220 - बरसों के इंतज़ार का अंजाम लिख दिया

बरसों के इंतज़ार का अंजाम लिख दिया

बरसों के इंतज़ार का अंजाम लिख दिया बरसों के इंतज़ार का अंजाम लिख दिया काग़ज़ पे शाम काट के फिर शाम लिख दिया बिखरी पड़ी थी टूट के कलियाँ ज़मीन पर तरतीब दे के मैंने तेरा नाम लिख दिया आसान नहीं थी तर्क -ऐ -मुहब्बत की दास्ताँ दो आंसूओं ने आखरी पैग़ाम लिख दिया अल्लाह […]

Continue Reading
shayarisms4lovers mar18 55 - मस्ती भरी नज़र का नशा है मुझे अभी

मस्ती भरी नज़र का नशा है मुझे अभी

मस्ती भरी नज़र का नशा है मुझे अभी ये जाम दूर रख दो पी लूँगा फिर कभी दिल को जला के बज़्म को रौशन ना कीजिए उस महजबीन को आने में कुछ देर है अभी हम ने तो अश्क पी के गुज़री है सारी उम्र हम से खफा है किस लिए आखिर ये ज़िंदगी जाम-ए-सुबू […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 284 - आदतन तुम ने कर दिए वादे

आदतन तुम ने कर दिए वादे

आदतन तुम ने कर दिए वादे आदतन हम ने ऐतबार किया तेरी राहों में बारहा रुक कर हम ने अपना ही इंतज़ार किया अब ना माँगेंगे ज़िंदगी या रब ये गुनाह हम ने एक बार किया -गुलज़ार

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 170 - वफ़ा के शीश महल में सज़ा लिया मैं ने

वफ़ा के शीश महल में सज़ा लिया मैं ने

वफ़ा के शीश महल में सज़ा लिया मैं ने वो एक दिल जिसे पत्थर बना लिया मैं ने ये सोच कर की ना हो तक में खुशी कोई गमों की ओट में खुद को छुपा लिया मैं ने कभी ना ख़त्म किया मैं ने रोशनी का मुहाज़ अगर चिराग बुझा, दिल जला लिया मैं ने […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 166 - वक़्त के साथ गर हम भी बदल जाते तो अच्छा था

वक़्त के साथ गर हम भी बदल जाते तो अच्छा था

वक़्त के साथ गर हम भी बदल जाते तो अच्छा था … बहुत अरमान थे दिल में निकल जाते तो अच्छा था … न शीशे के रह पाये न पत्थर के हो पाये … किसी अच्छे से साँचे में जो ढल जाते तो अच्छा था … गिरे तो यूँ गिरे के गिराया सब ने नज़रों […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 210 - सुना है लोग उसे आँख भर के देखते है – फ़राज़ की शायरी

सुना है लोग उसे आँख भर के देखते है – फ़राज़ की शायरी

सुना है लोग उसे – फ़राज़ अहमद सुना है लोग उसे आँख भर के देखते है तो उसके शहर में कुछ दिन ठहर के देखते है सुना है राफत है उसे खराब हालो से तो अपने आप को बर्बाद कर के देखते है सुना है दर्द की गाहक है चस्मे नाज़ उसकी तो हम भी […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 140 - उसे बारिशों ने चुरा लिया के वो बादलों का मकीन था

उसे बारिशों ने चुरा लिया के वो बादलों का मकीन था

उसे बारिशों ने चुरा लिया  उसे बारिशों ने चुरा लिया के वो बादलों का मकीन था कभी मुड़ के यह भी देखा के मेरा वजूद ज़मीन था वही एक सच था और उस के बाद तमाम तोहमतें झूट हैं मेरे दिल को पूरा यक़ीन है वो मुबात्तों का आमीन था उसे शौक़ था के किसी […]

Continue Reading
shayarisms4lovers June18 97 - Hindi Potery, Kuchh dabi hui khvaahishen hai

Hindi Potery, Kuchh dabi hui khvaahishen hai

इसी का नाम ज़िन्दगी है कुछ दबी हुई ख़्वाहिशें है, कुछ मंद मुस्कुराहटें.. कुछ खोए हुए सपने है, कुछ अनसुनी आहटें.. कुछ सुकून भरी यादें हैं, कुछ दर्द भरे लम्हात.. कुछ थमें हुए तूफ़ाँ हैं, कुछ मद्धम सी बरसात.. कुछ अनकहे अल्फ़ाज़ हैं, कुछ नासमझ इशारे.. कुछ ऐसे मंझधार हैं, जिनके मिलते नहीं किनारे.. कुछ […]

Continue Reading