विश्व के 10 सबसे ऊंचे पर्वत | Top 10 Highest Mountains In The World

Public Post

Top 10 Highest Mountains In The World

यह दुनिया बहुत ही अदभुत हैं। और नैसर्गिक सुन्दरता से भरी हैं यह हर प्रकार का सौन्दर्य हैं। जो हमें आकर्षित करता हैं। यहाँ आज हम विश्व के सबसे ऊँचे पर्वत – Highest Mountains In The World की कौनसे हैं ये जानेंगे।

विश्व के 10 सबसे ऊंचे पर्वत – Top 10 Highest Mountains In The World

  1. माउंट एवेरेस्ट (Mount Everest):

माउंट एवेरेस्ट दुनिया का सबसे ऊंचा पर्वत है जोकि नेपाल व तिब्बत के बॉर्डर पर स्थित है। यह समुद्र तल से 8,848 मीटर (29,029 फुट ) की ऊँचाई पर है। सर एडमंड हिलेरी व तेनज़िंग नोर्गे ने 1953 में सबसे पहले एवेरेस्ट पर चढ़ाई की थी।

  1. K2:

इसे पर्वत को Mount Godwin -Austen और Chhogori  नाम से भी जाना जाता है। इसकी समुद्र तल से ऊँचाई 8,611 मीटर (28,251 फुट) है। यह चीन व पाकिस्तान की सीमा पर स्थित है। इस पर्वत पर कोई भी व्यक्ति शीतकाल में अबतक चढ़ाई करने में कामयाब नहीं हो पाया है। इस पर्वत का ज्यादातर हिस्सा पाकिस्तान की तरफ है।

  1. कंचनजंगा (Kangchanjunga):

यह पर्वत भारत व नेपाल की सीमा पर स्थित है जिसकी ऊँचाई 8586 मीटर (28,169 फुट) है। यह एवेरेस्ट से 125 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है। 1852 तक इसे विश्व का सबसे ऊंचा पर्वत माना जाता था परन्तु कुछ गणनाये करने के बाद एवेरेस्ट को दुनिया का सबसे ऊंचा पर्वत घोषित कर दिया गया। 1955 में जो ब्राउन व व जॉर्ज ब्रांड ने इस पर सर्वप्रथम चढ़ाई की थी।

  1. ल्होत्से (Lhotse):

यह नेपाल व तिब्बत के खुम्बू नामक क्षेत्र में स्थित है व यह पर्वत माउंट एवेरेस्ट के नजदीक में है। इसकी ऊँचाई 8,516 मीटर (27,940 फुट) है। इस पर 1956 में एर्न्स्ट रिस व फ्रिट्ज लुचसिंगर ने पहली बार चढ़ाई की थी।

  1. मकालू (Makalu):

यह एवेरेस्ट से दक्षिणी पूर्व में 19 किलोमीटर दूरी पर चीन वे नेपाल की सीमा पर स्थित है जिसकी ऊँचाई 8,458 मीटर (27,838 फुट) है। यह पर्वत अपने आइकोनिक पिरामिड आकार के लिए जाना जाता है। 1955 में लिओनेल टेर्रे व जीन कॉज़ी ने इसपर सर्वप्रथम चढ़ाई की थी। इस पर्वत की चढ़ाई करना काफी मुश्किल है।

  1. चो ओयू ( Cho Oyu):

इस पर्वत की ऊँचाई 8,188 मीटर (26,864 फुट) है। अन्य पर्वतो की अपेक्षा इस पर्वत का रास्ता व चढ़ाई काफी आसान है। यह चीन व नेपाल के बॉर्डर पर स्थित है। 1954 में नेपाल के पसंग दामा लामा, ऑस्ट्रेलिया के जोसफ जोचलर व हर्बर्ट तिचेरी ने इस पर सर्वप्रथम चढ़ाई की थी।

  1. धौलागिरी (Dhaulagiri):

धौलागिरी विश्व का 7वाँ सबसे ऊंचा पर्वत है जिसकी ऊँचाई 8,167 मीटर (26,795 फुट)  है जोकि नेपाल में स्थित है। यह कंचनजंगा के अस्तित्व में आने से पहले विश्व का सबसे ऊंचा पर्वत था।

  1. मनासलू (Manasalu):

यह मध्योत्तर नेपाल के गोरखा जिले में स्थित है। जिसकी ऊँचाई 8,163 मीटर  (26,782 फुट) है। यह हिमालय के मनसिरि नामक क्षेत्र का सदस्य है। इसका नामक संस्कृत के मानस नमक शब्द पर रखा गया है जिसका मतलब होता है ‘मन का पर्वत’।

  1. नंगा पर्वत (NangaParbat):

यह विश्व का नौवां सबसे ऊँचा पर्वत है जोकि 8,126 मीटर (26,660 फुट) की ऊँचाई पर स्थित है। यह पाकिस्तान के गिलगिट बल्टिस्तान क्षेत्र में स्थित है। 1953 में हरमनं बुह्हल जोकि जर्मनी व ऑस्ट्रेलिया अभियान दल का हिस्सा थे, ने सर्वप्रथम चढ़ाई की थी। इस पर्वत की चढ़ाई सबसे खतरनाक है इसे किलर माउंटेन के नाम से भी जाना जाता है।

  1. अन्नपूर्णा (Annapurna):

यह नेपाल के उत्तरीय केंद्र बिंदु पर 8000 मीटर (26,545 फुट ) की ऊँचाई पर स्थित है। इसकी चढ़ाई काफी खतरनाक है। यह हिमालय का पर्वतीय पुंजक है। यह पर्वत पर्वतारोहियों के लिए काफी खतरनाक है। 1990 के बाद इस पर्वत पर मृत्यु दर अधिक रही है।