shayarisms4lovers June18 199 - True Love Story in Hindi, Sad Romantic Story, सच्चे प्यार की दर्द भरी कहानी

True Love Story in Hindi, Sad Romantic Story, सच्चे प्यार की दर्द भरी कहानी

Love Story

नमस्कार दोस्तों “shayarisms4lovers.in/” में आपका स्वागत है |

दोस्तों आज मैं बात करने जा रहा हूँ एक सच्ची प्रेम कहानी के बारे में, हर कहानी की तरह इस कहानी में भी एक लड़का करन और लड़की सोनम है|

करन एक बहुत ही स्मार्ट, डैशिंग लड़का था | जितना वह स्मार्ट था उतना ही ईमानदार | न किसी से बात करना और न ही किसी से फालतू बोलना बस अपने काम से काम रखना |

करन और सोनम दोनों ही एक क्लास में पढ़ते थे, सोनम भी बहुत सूंदर थी और करन को मन ही मन पसंद करती थी लेकिन करन से कहने से डरती थी क्योकि वह एक लड़की थी और ये सोचती थी कभी तो करन उसके दिल की Feelings को समझेगा और उसे “I Love You” बोलेगा लेकिन ऐसा न हुआ|

वैसे तो करन और सोनम अच्छे दोस्त थे और करन, सोनम की काफी सहायता करता था जिससे सोनम को बहुत खुशी मिलती थी |

एक बार की बात है दोनों घर जा रहे थे और तभी जोरदार बारिश होने लगी तो दोनों एक ही पेड़ के निचे खड़े हो गए लेकिन पेड़ बहुत छोटा था, बारिश से बचने के लिए दोनों एक दूसरे के बेहद करीब आ गए, सोनम से अब रहा न गया और उसने करन से “I Love You” बोल दिया, करन भी सोनम को चाहता था इसलिए वह भी राजी हो गया और इस तरह दोनों का प्यार परवान चढ़ने लगा |

अब दोनों अक्सर उसी पेड़ के निचे मिलते और उसी पेड़ के निचे बैठ के घंटो बाते किया करते थे, एक दिन करन उसी पेड़ के नीचे बैठ के सोनम का इंतजार कर रहा था | सोनम बहुत देर से आई | उसे देखकर करन गुस्से से बोला की इतनी देर से क्यों आये? मेरी तो जान ही निकल गयी थी |

यह सुनकर सोनम बोली मैं आपसे दूर ही कहा गयी थी मैं तो आपके दिल में ही रहती हूँ आपको यकीन न हो तो अपने दिल से पूछ के देख लो | सोनम की इतनी प्यारी सी बात सुनकर करन अपना सारा गुस्सा भूल गया और दौड़कर सोनम को गले से लगा लिया |

एक दिन दोनों उसी पेड़ के नीचे बैठ के बात कर रहे होते है तभी करन, सोनम से बोलता है की अब मैं आपसे एक भी पल दूर नहीं रहे पता हूँ आपसे एक पल की भी जुदाई सदियों जैसे लगती है ये बात सुन कर सोनम, करन से बोलती की आप चिंता मत करो मैं अपने घर वालो से बात करुँगी |

इसी तरह धीरे धीरे समय बीत गया और एक दिन दोनों उसी पेड़ के नीचे बैठे हुए थे, सोनम का चेहरा उतरा हुआ देख, करन ने पूछा की मेरा बाबू इतना उदास क्यों है, सोनम रोते हुए बोलती है की बाबू मैंने अपने घर वालो को बहुत समझाया लेकिन वो नहीं मने और मेरी शादी अगले महीने की 25 तारीख को तय कर दी है|

यह बात सुन कर करन रोना चाह रहा था लेकिन उसने अपने जज्बातो को काबू किया और बोला मैं आपसे सच्चा प्यार करता हूँ और मैं आपको कभी भी भुला नहीं सकता |

“प्लीज मुझे माफ़ कर देना” सोनम धीरे से बोली, वैसे आप चाहो तो अब हम एक अच्छे दोस्त बनकर रहे सकते है|

यह बात सुन कर करन अपने जज्बातो पर काबू न कर पाया और जोर जोर से रोने लगा | करन को रोता देख कर सोनम भी रोना चहा रही थी लेकिन वो रो भी न सकी और करन को उसने समझाया और फिर दोनों रोते रोते अपने घर चले गए|

देखते ही देखते सोनम की शादी का दिन आ ही गया। सोनम को यकीन था की करन उसकी शादी में जरूर आएगा पर ऐसा ना हुआ पर उसका भेजा हुआ एक गिफ्ट पैक जरूर आया जिसे सोनम ने डरते हुए अपने कांपते हांथों से खोला। उसे देखते ही सोनम बेहोश हो गई | गिफ्ट पैक में और कुछ नहीं खून से लथपथ, करन का दिल रखा हुआ था, साथ ही में थी एक चिट्ठी, जिसमें लिखा हुआ था | अरे पगली, अपना दिल तो लेती जा वरना अपने पति को क्या देगी|

“दोस्तो हमारी जिन्दगी का सबसे खुबसुरत एहसास प्यार ही है”

जो हमको आपको हर किसी को होता है पर क्या उसको हम अपना पाते हैं कभी हम गलत तो कभी साथी गलत दोनो सही तो घरवाले गलत पर क्या प्यार गलत होता है नही”तो”मित्रों प्यार करो लेकिन खिलवाङ मत करो |

Note—» दोस्तों आपको ये प्यार की ये एक सच्ची कहानी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताना और इस पोस्ट को अपने दोस्तों में ज्यादा से ज्यादा शेयर करना ताकि वो भी अपनी जिंदगी में सही फैसला ले सके और हम आपको बता दे की हम ऎसी ही प्यार की कहानिया आप तक पहुंचाते रहेंगे|