उसके बदन पर लगे दाग देख मैं रो दिया – Real Hindi Kahani Love

Real Hindi Kahani

Submitted by Arjun Dixit

ये बात 4 साल पहली की है. मैं कॉलेज में नया था. 1 महीना हो गया था लेकिन अभी तक मेरा कोई दोस्त नहीं बना था कॉलेज में. एक दिन एक सुबह के टाइम मैं कॉलेज गया और मैंने अपना बैग एक खाली डेस्क पर रख दिया. तभी क्लास में एक लड़की आयी जिसने कि अपना बैग खाली डेस्क पर रखा, वो डेस्क बिलकुल मेरे पीछे था. जब टीचर क्लास में आयी तो उन्होंने कहा कि जो भी क्लास में अकेले बैठे है, वे एक दूसरे के साथ बैठ जाए. वो लड़की मेरे साथ आ कर बैठ गयी.

real hindi kahani

Real Hindi Kahani

उसने अपना नाम अंजू बताया, वो काफी शर्मीली लग रही थी. गर्मी का मौसम था किन फिर भी उस लड़की ने फुल स्लीव की टी शर्ट पहनी हुई थी. मैंने अक्सर नोट किया कि वो हमेशा फुल स्लीव की टी शर्ट ही पहनती है.

पहले ही दिन हममे काफी बातचीत हुई और अगले दिन वो लड़की फिर से मेरे साथ बैठ गयी. अब हम एक दूसरे के साथ काफी घुल मिल गए थे. साथ में खाना खाते थे और कॉलेज के बाद भी हमारी फोन पर बात होने लगी. और सबसे अजीब बात ये थी कि वो लड़की मुझमे काफी इंटरेस्ट लेने लगी थी और मैं इस बात से हैरान इसलिए था क्यूंकि मैं देखने में ज़्यादा हैंडसम नहीं हू.

Real Hindi Kahani

खैर, अब हम कॉलेज के बाद भी मिलने लगे और कुछ ही दिनों में एक दूसरे से प्यार करने लगे.

मुझे अंजू के साथ टाइम बिताना अच्छा लगने लगा. वो बहुत ही मासूम और बड़ी बड़ी आँखों वाली लड़की थी.

एक दिन शाम को अंजू ने मुझे फ़ोन किया और कहा  “आज मैं घर पर अकेली हू, तुम आ जाओ हम साथ में पिज़्ज़ा खाते है.”

उस दिन मेरे दिल में वो ख़याल आया जो हर लड़के के दिल में एक ना एक दिन आता है. मैंने सोचा कि अंजू के करीब आने का अच्छा मौका है, मैं तुरंत उसके घर के लिए निकल गया.

Real Hindi Kahani

मैं अंजू के घर पहुंचा, हमने पिज़्ज़ा मंगवाया और साथ में खाया। फिर हम साथ में बैठ कर सोफे पर बात कर रहे थे …..मैं अंजू के थोड़ा करीब आया. तभी अंजू ने मुझे कहा “तुम्हे पता है कि तुम मेरे तीसरे बॉयफ्रेंड हो… मेरा अफेयर किसी के साथ एक महीने से ज़्यादा नहीं चला”. मैंने इस बात पर ज़्यादा गौर नहीं किया,      तभी मैंने अंजू से पुछा “तुम हमेशा ये फुल स्लीव की टी शर्ट ही क्यों पहनती हो, तुम्हे गर्मी नहीं लगती?”

Real Hindi Kahani

अंजू ने उस वक़्त अपनी टी शर्ट को ऊपर किया और मैंने देखा कि उसके बाजू (arm), गले और कलाई पर जलने (burn marks) के निशान थे, वो निशान इतने गंदे लग रहे थे कि मैं देख कर सेहम गया. अंजू ने रोते हुए मुझे बताया “जब मैं 12 साल की थी तो घर में आग लग गयी थी और उस वक़्त मेरे शरीर का काफी हिस्सा जल गया था. इसलिए कोई मुझसे दोस्ती नहीं करता और कोई मुझे प्यार नहीं करना चाहता… मुझे पता है कि ये देख कर तुम भी मुझसे डोरी बना लोगे”

Real Hindi Kahani

ये सुनकर मैं 1 मिनट के लिए चुप रहा और मेरे आंसू निकल गए. मैंने अंजू को टाइट hug किया और कहा कि “मुझे नफरत है ऐसे लोगो से जो किसी का सुन्दर दिल छोड़कर उसके शरीर की सुंदरता देखता है. मेरे लिए तुम कल भी सुन्दर थी और हमेशा सुन्दर रहोगी… तुम्हे कोई ज़रूरत नहीं फुल स्लीव टी शर्ट पहननी की….. ज़रूरत है लोगो को अपनी सोच बदलने की.”

उस दिन मुझे अंजू से सच्चा प्यार हो गया और आज भी हम एक साथ है. अब हम दोनों नौकरी कर रहे है और एक साल तक शादी भी करने वाले है.

%d bloggers like this: