कैलिफोर्निया का “मालिबू हिंदू मंदिर”

Public Post

Malibu Hindu Temple

हम अपने इतिहास से सीखते आ रहे है कि समय के साथ जैसे जैसे लोगों के बीच मेलजोड़ बढ़ता है उसी तरह समय के साथ साथ लोगों के बीच संस्कृति का आदान प्रदान भी होता है यानी की एक सभ्यता भले ही कहीं भी पनपी हो लेकिन आज के समय में उसकी शाखाएं आपको दुनियाभर में मिल जाएँगी। हिंदु समुदाय की संस्कृति भी उन्ही सभ्यताओ में से एक है जिसने दुनियाभर में अपनी छाप छोड़ी है। हिंदु समुदाय के भव्य और अद्भुत मंदिर मौजूद है। और उन्ही में से एक है कैलिफोर्निया में स्थित Malibu Hindu Temple – मालिबु मंदिर।

0117 - कैलिफोर्निया का “मालिबू हिंदू मंदिर”

आपने भारत में हिंदु वास्तुकला के एक से बड़कर एक अद्भुत मंदिर देखे होगें जिसकी वास्तुकला को देख कोई भी इनकी खूबसूरती का खयाल हो जाए। लेकिन भारत के बाहर ऐसे मंदिर काफी कम देखने को मिलते है जिनका डिजाइन प्राचीन हिंदु सभ्यता को दर्शाते हुए एक अद्भुत वास्तुकला की प्रदर्शनी करता हो। लेकिन जब आप कैलिफोर्निया के मालिबु हिंदु मंदिर – Malibu Hindu Temple में जाते है जो आप इस मंदिर की वास्तुकला की खूबसूरती को सिर्फ देखते ही रह जाएंगे।

पर यहां पर सोचने वाली बात ये है कि कैलिफोर्निया में हिंदु मंदिर किसने बनाया क्योंकि हिंदु समुदाय के अधिकतर प्रमाण एशिया में मिलते है। चलिए आपको बताते है मालिबू हिंदू मंदिर का इतिहास।

कैलिफोर्निया का “मालिबू हिंदू मंदिर” – Malibu Hindu Temple

मालिबू हिंदु मंदिर का संबंध तिरुपति के श्री वेंकेटश्वर मंदिर से है। क्योंकि ये मंदिर भी हिंदु देवता वेंकेटश्वर को ही समर्पित है जिसे साल 1981 में कैलिफोर्निया के कालाबस शहर के नजदीक मालिबू में सैंट मोनिका के पहाड़ बनाया गया था। तथ्य के अनुसार मालिबू मंदिर को वासन श्रीनिवासन नाम के सिविल इँजीनियर ने बनवाया था। जो भारत के दक्षिण भारत से थे। लेकिन उस दौरान लॉस एंजेलिस में रहा करते थे। श्रीनिवासन ने वहां रहने वाली भारतीयो से मंदिर के लिए चंदा इक्ट्ठा कर इस भव्य और अद्भुत मालिबू मंदिर का निर्माण करवाया था। इस मंदिर की वास्तुकला को श्रीनिवासन ने दक्षिणी भारतीय की वास्तुकला का रंग दिया था।

जिस वजह से आपको इस मंदिर को देखते ही दक्षिण भारत के मंदिरो की याद आ जाएगी। इस मंदिर के लिए पुजारियों को भी दक्षिण भारत से ही लेकर आया गया था। तभी से दक्षिण भारत के पुजारी इस मंदिर में रहते है और इस मंदिर की देखभाल करते है। मंदिर के निर्माण के बाद इसकी देखरेख का जिम्मा दक्षिण कैलिफोर्निया के हिंदु मंदिर सोसाइटी के पास है जिसके पहले मुखिया श्रीनिवासन थे लेकिन श्रीनिवासन के बाद ये जगह भारत अमेरिका टैक्स कंसल्टेंट नादादुर वर्धन को दी गई है।

मालिबू मंदिर में क्या है खास

मालिबू मंदिर वैसे तो भगवान वेकंटेश्वर को समर्पित है जो भगवान विष्णु का एक रुप है लेकिन जैसा कि हम सब जानते है कि जहां भगवान विष्णु होते है वहां भगवान शिव भी जरुर होते है। इसलिए इस मंदिर में दो परिसर है ऊपरी परिसर में भगवान वेंकेश्वर की पूजा होती है और निचली परिसर में भगवान शिव की। दोनो ही परिसरों की खूबसूरती देखने योग्य है। इस मंदिर की खूबसूरती का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि यहां पर हॉलीवुड और तमिल फिल्मों की शूटिंग हो चुकी है।

इस मंदिर में कैलिफोर्निया में रहने वाले भारतीयों की तो आस्था है ही साथ ही दूसरे धर्मों के लोगों की भी इस मंदिर में बड़ी आस्था है यही कारण है कि हॉलीवुड पॉप सिंगर ब्रिटनी स्पीयर्स अपने चार साल के बेटे को आशीर्वाद दिलाने के लिए इस मंदिर में आए थे। और एक भव्य आयोजन के साथ पूजा पाठ कर भगवान से आशीर्वाद लिया था।

मालिबू हिंदू मंदिर इस बात का प्रतीक है कि आस्था कभी जमीन नहीं देखती है वो कहीं पर भी पनप सकती है। और अमेरिका कैलिफोर्निया में रहने वाले भारतीयों के लिए मालिबू हिंदू मंदिर उन्हें अपनी संस्कृति से जोड़ता है। और एक अनजान देश में अपनेपन का एहसास दिलाता है।

Leave a Reply