गम का बादल और तेरी याद, तेरी मुलाकात

जब जब गम का बादल छाया
तब तब तेरी यादों की बरसात हुयी
एक दफा फिर तुझसे ख़्वाबों में मुलाक़ात हुयी

~ अनुज

Leave a Reply