चिंगारी आज़ादी की सुलगी मेरे जश्न में हैं……!!

चिंगारी आज़ादी की सुलगी मेरे जश्न में हैं,
इन्क़लाब की ज्वालाएं लिपटी मेरे बदन में हैं,
मौत जहाँ जन्नत हो ये बात मेरे वतन में हैं,
कुर्बानी का जज़्बा जिन्दा मेरे कफ़न में हैं..!!

Leave a Reply

%d bloggers like this: