जब पिता जी को मेरे लव अफेयर का पता चला…..First Love Story in Hindi

First Love Story in Hindi

Submitted by Karanveer Kanwar

मैं पंजाब के एक छोटे से शहर में रहता हू और ये है मेरे pehle pyaar ki kahani. मैंने ज़िन्दगी में पहली बार प्यार किया लेकिन मेरी first love story in hindi में twist थे. मैं राजपूत परिवार से हू और जिस लड़की से मैं प्यार करता हू वो ब्राह्मण फॅमिली से है. मेरे पिता जी बचपन से ही काफी सख्त और गुस्सैल किस्म के व्यक्ति है. जब उन्हें मेरे लव अफेयर के बारे में पता चला तो उन्होंने मुझे सीधा सीधा बोल दिया था कि ब्राह्मण परिवार में शादी नहीं हो सकती. लेकिन मैं भी अड़ियल किस्म का आदमी हू, मैंने भी कहा कि शादी करूँगा तो सिर्फ उसी से.

First Love Story in Hindi

First Love Story in Hindi

मेरे माँ और पिता के बार बार समझाने पर भी जब मैं नहीं माना तो मेरे पिता ने मुझसे बात करनी बंद कर दी. मैंने भी अपने पिता को ज़्यादा नहीं समझाया क्यूंकि मैं जानता था कि वो इस शादी के लिए नहीं मानेंगे. इस सब में जो सबसे ज़्यादा पीस रही थी वो थी मेरी माँ. मेरी माँ कभी मुझे समझती तो कभी मेरे पिता को. लेकिन मैं टस से मस नहीं हुआ, होता भी कैसे, आखिर वो मेरा पहला प्यार जो था और उस लड़की से मैं बहुत प्यार करता था, किसी भी हालत में उसे खोना नहीं चाहता था.

First Love Story in Hindi

इसी तरह कई दिन बीत गए. अब मुझे और पिता जी को बात किये को लगभग एक महीना होने को आया था. एक दिन मैं कमरे में बैठा हुआ था कि माँ मेरे पास आयी और बोली “करण बेटा…तुम्हे पापा ने गार्डन में बुलाया है… कोई बात करनी है तुमसे.”

Pehle Pyaar ki Kahani

मैंने सोचा अब क्या बात करनी है… मैं सेहमा हुआ सा उनके पास गार्डन में गया और खड़ा हो गया… मैंने पुछा “पापा..क्या हुआ..आपने बुलाया था”

पापा ने मुझे बैठने को कहा और कहा…

First Love Story in Hindi

“करन… जब मैं कॉलेज में था तो एक उमा नाम की लड़की से बहुत प्यार करता था. पिता जी ने हमारा रिश्ता स्वीकार नहीं किया और मेरी शादी करवा दी. वो पल मेरे जीवन का बहुत दुखद पल था, मैं बहुत रोया था. और आज देखो किस्मत ने फिर से मुझे वही दिन याद करवा दिए. मुझे ख़ुशी है कि तुमने उस लड़की का साथ नहीं छोड़ा…अब जल्दी से उस लड़की के माँ बाप से मिलवाओ ताकि रिश्ते की बात कर सके”

Pehle Pyaar ki Kahani

ये सुनकर मुझे अपने कानो पर विशवास नहीं हुआ और कुछ देर के लिए तो मैं जैसे किसी सोच में ही पड़ गया था. 10 सेकंड के बाद मैंने अपने पापा को कहा “You are world’s best dad”

First Love Story in Hindi

पिता जी भी ये सुनकर हंसने लगे और तभी मेरी माँ भी बाहर आ गयी. मैंने ख़ुशी में माँ को कहा “माँ …  पापा मान गए… अपनी बहु से काम करवाने की तयारी कर लो.”

ये सुनकर माँ की ख़ुशी का ठिकाना ना रहा और वो सीधे पिता जी के पास बाते करने चली गयी.

Friends agar aapko meri ye First Love Story in Hindi achi lagi to Share zarur kare. Meri Pehle Pyaar ki Kahani hamesha mere dil ke kareeb rahegi kyunki jis ladki se maine pyar kiya zindagi me wo hi mili. I Love You Baby.

(Dosto Aapke Pas bhi Koi Kahaani ho to Hame Bheje, Use bhi Publish Kiya Jayega)

%d bloggers like this: