बनकर तेरा साया तेरा साथ निभाउंगी….!!

बनकर तेरा साया तेरा साथ निभाउंगी,
तू जहाँ जाएगा मैं वहाँ-वहाँ आऊंगी,
साया तो छोड़ जाता है साथ अँधेरे में,
लेकिन मैं अँधेरे में तेरा उजाला बन जाउंगी

Leave a Reply

%d bloggers like this: