बुलबुलों की तरह है दोस्ती

मेरी दोस्ती का हिसाब जो लगाओगे
तो मेरी दोस्ती को बेहिसाब पाओगे,
पानी के बुलबुलों की तरह है हमारी दोस्ती,
अगर जरा सी ठेस पहुँची तो ढूंढ़ते रह जाओगे ||

Meri Dosti Ka Hisab Jo Lagaoge;
To Meri Dosti Ko Behisab Paoge;
Pani Ke bulbulo Ki Tarah Hai Hamari Dosti;
Jara Si Thens Pahuchi To Dhundhte Rah Jaoge !!

Leave a Reply

%d bloggers like this: