बॉलीवुड के वो कलाकार जिन्हें आप नाम से नहीं बल्कि काम से जानते…

बॉलीवुड के वो कलाकार जिन्हें आप नाम से नहीं बल्कि काम से जानते – Unknown Actors Bollywood

Unknown Actors Bollywood

बॉलीवुड में ऐसे बहुत सारे अभिनेता है जो ना के बराबर एक्टिंग करके बहुत अधिक मशहूर हो जाते है तो वही इसके उलट बहुत सारे ऐसे अभिनेता ही जो एक्टिंग बहुत शानदार करते है लेकिन वो इतना मशहूर नहीं हो पाते और लोग उनका नाम भी नहीं जानते।

ऐसे कई सारे अभिनेता है जिन्हें देखकर आप कहते होगे “अरे ये भी है क्या इस फिल्म में” आप उन्हें उनके नाम से नहीं जानते लेकिन उनका नाम आपको बहुत पसंद आता है। ऐसे ही कुछ अभिनेताओ के बारे में हम आपको बता रहे है।

संजय मिश्रा – Sanjay Misra

एक ऐसा एक्टर जो नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा से निकला और कोई किरदार कर दे तो उसकी छाप लोगो के मन में बन जाए लेकिन कभी मुख्य भूमिका नहीं मिली इसीलिए लोग नाम नहीं जानते। इन्हें लोग बाबूजी कहते है।

आपने आल दा बेस्ट फिल्म देखी होगी उसमे एक किरदार आपके मन में घर कर गया होगा जो बार बार बोलता है “धोंडू जस्ट चिल” ये वही है संजय मिश्रा। सरल शांत और बिना किसी दिखावे वाली जिन्दगी जीने वाले संजय मिश्रा ने कई सारे ऐसे रोल किये जो लोगो को आज भी याद है लेकिन लोग उनका असली नाम शायद ही जानते हो।

उन्होंने फिल्म आल दा बेस्ट में “रघुनन्दन दास”, फिल्म आँखों देखी में “बाबूजी” फिल्म गोलमाल में एक डॉन का रोल, धमाल में बाबुभाई, वन टू थ्री में पिंटो जैसे यादगार रोल किये। संजय मिश्रा को पहचान पहले नहीं मिली अब वो मिल रही है और यूथ के बीच बहुत अधिक मशहूर हो रहे है।

पंकज त्रिपाठी – Pankaj Tripathi

हर किसी ने शायद फिल्म गैंग्स ऑफ़ वासेपुर देखी होगी और उसमे एक किरदार जो कहता है की “ये वासेपुर है और यहाँ कबूतर भी एक्के पंख से उड़ता है और दुसरा से अपना इज्जत बचाता है”। ये डायलाग बोलने वाले भाईसाहब का नाम है पंकज त्रिपाठी जिन्हें सुल्तान के नाम से जानता है।

कई सारी फिल्मो में अपने अभिनय की छाप छोड़ने वाले पंकज आज युवाओ के दिल में बसते है और एक के बाद हिट फ़िल्में दे रहे है लेकिन बहुत कम लोग इनका नाम जानते है। गैंग्स ऑफ वासेपुर के बाद फिल्म न्यूटन में इनका डायलाग था “लिख के लेलो कोई नहीं आ रहा”। इस डायलाग के सोशल मीडिया में खूब मीम्स बने लेकिन इनका नाम जानने वाला कोई नहीं था।

पंकज त्रिपाठी बिहार के है और एक ऐसे गाँव से है जहाँ अभी तीन साल पहले बिजली पहुची है और सड़क अभी भी नहीं है। इन्होने गैंग्स ऑफ़ वासेपुर, स्केयर्ड गेम, न्यूटन, बरेली की बर्फी जैसी फिल्मो में अपने अभिनय से कमाल किया है।

दीपक डोबरियाल – Deepak Dobriyal

आप नाम पढ़ते ही ही नहीं जानेगे की हम किसकी बात कर रहे है लेकिन अब आपको इनका और एक नाम बताते है और वो है “पप्पी जी” तनु वेड्स मनु वाले। जय माता दी, याद आया कुछ, ये वही शख्स है जिसके दम से ही वो फिल्म हिट हुई और पूरा क्रेडिट इन्हें मिल गया।

आर. माधवन और कंगना से ज्यादा चर्चा में ये रहे। दीपक को बहुत कम लोग इनके नाम से जानते है बल्कि इनके काम से जानने वाले बहुत सारे लोग है। दीपक ने कई सारी फिल्मो में काम किया है।

सलमान खान की फिल्म प्रेम रतन धन पायो में वो खूब बेहतर एक्टिंग करके सबके सामने उन्हरे थे और अपनी एक्टिंग का लोहा मनवाया था।

मुहम्मद जीशान आयूब – Mohammed Zeeshan Ayyub

फिल्म राँझना में धनुष(कुंदन) जितनी पॉपुलैरिटी नहीं कमा पाए उससे अधिक क्रेडिट ले गया मुरारी। मोहल्ले का प्यार अक्सर डाक्टर और इंजिनियर उठा ले जाते है, साला प्यार ना हुआ यूपीएससी की एग्जाम हो गया दस साल से क्लियर नहीं हो रहा, जैसे डायलाग फिल्म में बोलने वाले मुरारी उर्फ़ जेशान आयूब को बहुत कम लोग जानते है।

एक के बाद अपने फनी रोल करते करते इन्होने लोगो के दिलों में जगह बना ली है। ये राँझना, रईस, शाहिद, ट्यूबलाइट, फैंटम जैसी बड़ी बड़ी फिल्मो में काम कर चुके है।

कुमुद मिश्रा – Kumud Mishra

इन्हें अब जाकर इनकी मेहनत का फल मिला है। आज के समय में लगभग सभी फिल्मो में दिख जाते है। सलमान खान के साथ टाइगर जिन्दा है में राकेश के रोल में नजर आये थे। कुमुद ने कई सारी फ़िल्में की है। सलमान खान के साथ टाइगर जिन्दा है, अक्षय कुमार के साथ  एयरलिफ्ट, इसके बाद ऐय्यार, सुल्तान जैसी बड़ी फिल्मो में एक के बाद इन्हें रोल मिले लेकिन बहुत कम लोग इनका नाम जानते है क्योकि इनका काम इनके नाम पर हमेशा भारी हो जाता है।

मनोज पाहवा – Manoj Pahwa

मनोज पाहवा थिएटर के एक मंझे हुए कलाकार है जो कोई भी रोल कर ले उसमे जान डाल देते है। मनोज ने कई सारी बॉलीवुड फिल्मो में अभिनय किया है लेकिन लोग उन्हें उनके फ़िल्मी नाम से जानते है जबकि असल नाम से नहीं। खजूर पे अटके, मुल्क, वांटेड, शादी में जरूर आना, सिंह इज किंग जैसी बड़ी बड़ी फिल्मो में काम करने वाले मनोज आज के समय में हर एक फिल्म में दिख जाते है।

सीमा पाहवा – Seema Pahwa

मनोज पाहवा की पत्नी और आज के समय में बॉलीवुड अभिनेत्रियों की अम्मा। मिडिल क्लास में बनने वाली फिल्मो में अम्मा का रोल निभाने वाले ये अभिनेत्री आज के समय में चर्चा में है। बरेली की बर्फी, दम लगा के हईसा, शुभ मंगल सावधान, जैसी फिल्मो में दिखने वाली सीमा बहुत चर्चा में है।

यशपाल शर्मा – Yashpal Sharma

लगान फिल्म का लाखा तो आपको याद होगा जो भुवन को धोखा दे देता है। ये वही है यशपाल शर्मा जिन्हें लोग उनके फ़िल्मी नामो से जानते है। यशपाल ने हजारो ख्वाहिशें ऐसी, गंगाजल, अपहरण, आरक्षण, रावड़ी राठौर, नीली छतरी वाले और लगान जैसे बड़ी बड़ी फिल्मे कर चुके है।

सौरभ शुक्ला – Saurabh Shukla

अब जाकर लोग इनका असली नाम काफी हद तक जानने लगे है। नहीं तो इन्हें सत्या वाले अभिनेता के नाम से जानते थे। रेड में इनके रोल को खूब सराहा गया। इसके अलावा जॉली एलएलबी के दोनों पार्ट में इन्होने गजब अभिनय किया। कई सारी फिल्मो में काम कर चुके सौरभ शुक्ला बहुत सरल इंसान है और इन्हें बहुत सारे सम्मान भी मिल चुके है।

इसके अलावा कुछ और नाम है जिनके बारे में आपको सर्च करके देखना चहिये जैसे की विजय राज, मनोज जोशी, वृजेश हिरजी, रजत कपूर आदि।

Leave a Reply