मुश्किलें राह पर मिलती रहेंगीं

प्यार से रिश्ता निभाना चाहिए।
सोचकर के दिल लगाना चाहिए।
मुश्किलें राह पर मिलती रहेंगीं।
कर्म पथ पर चलते जाना चाहिए।

~ जितेंद्र मिश्र ‘भरत जी’

%d bloggers like this: