मेरी पहली प्रेगनेंसी थी सबसे ख़ास, गर्भावस्था की कहानी – Pregnancy Story in Hindi

Pregnancy Story in Hindi

ये मेरी रियल Pregnancy Story in Hindi है जो मैं इस वेबसाइट पर शेयर करने जा रही हूँ. हालांकि ये प्रेगनेंसी मेरे लिए बहुत खास है लेकिन मैं अपना असली नाम यहाँ शेयर नहीं करुँगी क्यूंकि हम चाहे कितने भी एडवांस्ड हो गए हो, कुछ लोगों की सोच आज भी पुराने ज़माने की है. खैर, मैं ये गर्भावस्था की कहानी खासकर उन महिलाओं के लिए शेयर करना चाहती हूँ जो प्रेग्नेंट होना चाहती है या पहली बार प्रेग्नेंट है. उन महिलाओं को ये कहानी काफी रोचक लगेगी, इसलिए अंत तक ज़रूर पढ़ना. तो आईये पढ़ते है ये दिलचस्प पहली प्रेगनेंसी पर कहानी।

मेरा नाम मीरा है और मैं इंदौर से हूँ. मेरी शादी को 3 साल हो चुके है और सच बताऊ तो मेरी पहली प्रेगनेंसी बहुत मुश्किल से हुई थी.

Pregnancy Story in Hindi

मैं और मेरे पति को 2 साल तक बच्चा नहीं हुआ था, हमने बहुत try किया, कई तरह की दवाईया खाई और कई तरह के इलाज भी करवाए लेकिन फिर भी बच्चा नहीं हो रहा था. शादीशुदा होते हुए मुझे पता है कि जब किसी महिला को बच्चा ना हो तो उसे कितनी मानसिक पीड़ा होती है और आस पास के लोग जो ताने मारते है, वो अलग !

मुझे याद है कि मेरी सास हर दूसरे दिन कोई ना कोई बच्चा होने का उपाय बताती थी लेकिन सब व्यर्थ. वो कहते है ना जब सही समय होता है तभी सब काम बनते है.

उस समय शायद मेरा शरीर प्रेगनेंसी के लिए तैयार नहीं था. 2 साल तक कोशिश करने के बाद हमें एक बेटा हुआ लेकिन उसके पीछे भी एक कहानी है.

pregnancy story in hindi

Pregnancy Story in Hindi

दीवाली का दिन था और मैं और मेरे पति शाम को पूजा के बाद घर में बैठे बाते कर रहे थे. अचानक मेरे पेट में थोड़ा दर्द सा उठा और मुझे थोड़ी उलटी भी आयी.

उस समय मुझे प्रेगनेंसी की बिलकुल भी उम्मीद नहीं थी, मैंने सोचा की त्यौहार का दिन है, शायद कुछ गलत खाने की वजह से पेट गड़बड़ है.

जब मैं वाशरूम से वापिस आयी तो मेरे पति ने मुझसे पुछा की क्या हुआ तो मैंने बताया कि पेट थोड़ा गड़बड़ है और थोड़ी उलटी भी आई है.

मेरे पति को जैसे एक उम्मीद की किरण दिख रही थी लेकिन मैंने कहा कि कुछ गलत खा लिया होगा।

पति ने मेरी बात नहीं मानी और फ़ौरन प्रेगनेंसी चेक करने वाली किट बाज़ार से ले आये. मैं जब बाथरूम से टेस्ट करके वापिस आई तो आईने के आगे खड़ी थी और मेरे पति मेरे पीछे.

Pregnancy Story in Hindi

प्रेगनेंसी किट दिखा रही थी कि मैं प्रेग्नेंट हूँ और मैं शीशे में देख कर मुस्कुराई, मेरे पति ने आईने में मेरी मुस्कराहट देखी और वो समझ गए कि मैं प्रेग्नेंट हूँ.

उस दिन ख़ुशी के मारे मुझे नींद नहीं आयी क्यूंकि अभी लैब का टेस्ट करवाने के बाद ही पक्का होना था कि मैं वाकई में प्रेग्नेंट हूँ या नहीं.

अगले दिन मैं और पति सुबह ही लैब में टेस्ट के लिए चले गए और शाम को जो रिपोर्ट आई उसने हमारी ज़िन्दगी खुशियों से भर दी थी.

पहली प्रेगनेंसी बहुत special होती है खासकर तब जब आप काफी वक्त से कोशिश रहे हो. 

उसके बाद मेरे पति इतने खुश हुए कि उन्होंने सभी करीबी रिश्तेदारों ये खबर सुना डाली. मुझे नहीं पता कि मेरे पति को कैसे अंदाज़ा हुआ मेरी प्रेगनेंसी का और यही नहीं उन्हें ये भी यकीन था कि हमें लड़का ही होगा. उन्होंने पहले से ही लड़के के कपडे और खिलोने ले रखे थे.

मेरी ये पहली Pregnancy Story in Hindi है और अभी हमारा एक ही बच्चा है और हम अभी दूसरे बच्चे के लिए तैयार नहीं है. मेरा मानना है कि आज के टाइम में एक बच्चे की परवरिश भी बहुत मुश्किल है. खैर, शायद कुछ सालो के बाद दूसरे बच्चे की कोशिश करेंगे लेकिन अभी ऐसा कोई प्लान नहीं है.

Read More:

अगर आप भी पहली प्रेगनेंसी के लिए कोशिश कर रहे है तो मेरा सुझाव यही है कि कम से कम 5 साल तक इंतज़ार करे. कई बार स्त्री का शरीर प्रेगनेंसी के लिए तैयार नहीं होता और हाँ, किसी अच्छे डॉक्टर से मशवरा ज़रूर ले ये जानने के लिए कि कही कोई सीरियस बात तो नहीं.

कई बार छोटी मोटी दवाई से भी शरीर की कमज़ोरी ठीक हो जाती है और औरत का शरीर प्रेगनेंसी के लिए तैयार हो जाता है.

%d bloggers like this: