2021 Navratri Mata Kushmanda Wishes – Status Images – 31+ माँ कूष्माण्डा पर शुभकामनाएं सन्देश और विचार, वॉलपेपर

2021 Navratri Mata Kushmanda Wishes – Status – में पढेंगे माँ कूष्माण्डा पर शुभकामनाएं सन्देश और विचार, वॉलपेपर. Mata Kushmanda Caption, Mata Kushmanda Quotes, Messages, Status .

नवरात्रि का चौथा दिन – माँ कूष्माण्डा की पूजा अर्चना की जाती हैं. आज के दिन शक्ति स्वरूपा मां दुर्गा (Maa Durga) के चौथे स्‍वरूप माता कूष्‍मांडा (Kushmanda) की पूजा की जाती है.

जो भी भक्त माँ कूष्माण्डा का आज दिन पूजा अर्चना करता हैं उसके अन्दर पनप रहे तमाम तरह के राग-द्वेष और अहंकार नष्ट हो जाते हैं. और उनके जीवन में  सौभाग्य, शांति और वैभव सहित आयु, यश और बल की प्राप्‍ति होती है. 

माता कूष्‍मांडा का यह रूप अति मोहक हैं माँ के चेहरे दिव्‍य मुस्‍कान रहती हैं, माँ कूष्‍मांडा को माँ अष्‍टभुजा भी कहा जाता है. माता के आठ भुजाएं (अष्टभुजा) हैं जिनमे कमंडल, धनुष, बाण, कमल-पुष्प, कलश, चक्र और गदा है. माता का निवास स्थान सूर्य है. और इसी कारण माँ के पीछे सूर्य का तेज दिखता हैं. माता का यह पहला रूप हैं जिसे  सूर्यलोक में रहने की शक्ति प्राप्त है. 

“।। या देवी सर्वभू‍तेषु मां कूष्‍मांडा रूपेण संस्थिता। नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमस्तस्यै नमो नम:।।” –

हिन्दू शास्त्र के अनुसार जब सृष्टि की रचना नहीं हुई थी तब उस समय चारों तरफ घोर अंधकार छाया था.   तब माता के इस स्वरूप का जन्म हुआ और सृष्टि के चारो ओर फैले अन्धकार को मिटा उजालों से भर दिया था.  

“कु” का अर्थ है “कुछ”, ‘ऊष्‍मा’ का अर्थ है “ताप” और “अंडा” का अर्थ है “ब्रह्मांड” होता हैं. मां कूष्माण्डा को आदिस्वरूपा व आदिशक्ति  कहा जाता हैं. माता अपने भक्तो साधकों के सभी कष्ट रोग, शोक संतापों का नाश करती हैं.

2021 चैत्र नवरात्रि का चौथा  दिन कब हैं?…

“चैत्र नवरात्रि का चौथे दिन माँ कूष्माण्डा की पूजा की जाती हैं, यह इस वर्ष शुक्रवार, 15 अप्रैल 2021 को पड़ रहा हैं. …।” –

तो आईये अब माँ की आराधना करे और हमारे द्वारा Navratri Mata Kushmanda Quotes,  Messages, Images, Greetings के पोस्ट में दिए गए नवरात्रि – माँ कूष्माण्डा  शुभकामनाएं सन्देश को अपने प्रियजनों में वाट्सऐप फेसबुक और इंस्टाग्राम पर साझा करे और माँ से उनकी मंगलकामना करे. ।।जय माँ कूष्माण्डा।।

“ब्रह्माण्ड में छाये अँधेरे को दूर कर प्रकाशमान करने वाली माता कूष्माण्डा की जय-जयकार. नवरात्रि के चौथे दिन की हार्दिक शुभकामनायें…।” –

“माँ कूष्माण्डा की पूजा, अर्चना, आराधना के पर्व नवरात्रि की पावन शुभकामनाएं…।” –

“सूर्य चंद्र की रोशनी से जग को रौशन करने वाली माता कूष्माण्डा की जय-जयकार. नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें…।” –

माता कूष्‍मांडा मंत्र:

सुरासम्पूर्णकलशं रुधिराप्लुतमेव च।
दधाना हस्तपद्माभ्यां कुष्मांडा शुभदास्तु मे।

“सुबह सुबह लो माँ कूष्माण्डा का नाम, पूरे होंगे बिगड़े अधूरे काम. नवरात्रि के चौथे दिन की हार्दिक शुभकामनायें…।” –

“May the generous goddess Mata Kushmanda brighten your life with countless blessings. I hope your prayers bring happiness and prosperity. Happy Navratri 2021 to you…।” –

“आपको  एवं आप के परिवार को चैत्र नवरात्रि के चौथे  दिन की हार्दिक मंगल कामनाएं जय माँ कूष्माण्डा …।” –

“नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें जय माँ कूष्माण्डा …।” –

“निर्भीकता और सौम्‍यता की देवी माँ कूष्माण्डा आपको सदैव उर्जावान रखे. 2021 नवरात्रि की पावन शुभकामनाएं…।” –

“May the true Mother Kushmanda  bless you and your family with all her wonderful blessings. 2021 Happy Navratri from my family to yours….।” –

“आदिस्वरूपा व आदिशक्ति  माता  कूष्माण्डा के कदम आपके घर में आएं, आप खुशी से नहाएं परेशानियां आपसे आंखें चुराए नवरात्रि की आपको ढेरों शुभकामनाएं  ।। जय माता दी ।।…।” –

“मां कूष्मांडा के आशीर्वाद से भरे नवरात्रि के चौथे दिन की हार्दिक मंगल कामनाएं…।” –

 माता कूष्‍मांडा ध्‍यान
वन्दे वांछित कामर्थे चन्द्रार्घकृत शेखराम्।
सिंहरूढ़ा अष्टभुजा कूष्माण्डा यशस्वनीम्॥
भास्वर भानु निभां अनाहत स्थितां चतुर्थ दुर्गा त्रिनेत्राम्।
कमण्डलु, चाप, बाण, पदमसुधाकलश, चक्र, गदा, जपवटीधराम्॥
पटाम्बर परिधानां कमनीयां मृदुहास्या नानालंकार भूषिताम्।
मंजीर, हार, केयूर, किंकिणि रत्नकुण्डल, मण्डिताम्॥
प्रफुल्ल वदनांचारू चिबुकां कांत कपोलां तुंग कुचाम्।
कोमलांगी स्मेरमुखी श्रीकंटि निम्ननाभि नितम्बनीम्॥

“माँ कूष्माण्डा की आराधना करने और भक्ति के दिये दिल में जलाने का पर्व नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें..।” –

कूष्‍मांडा ध्‍यान

“वन्दे वांछित कामर्थे चन्द्रार्घकृत शेखराम्। सिंहरूढ़ा अष्टभुजा कूष्माण्डा यशस्वनीम्॥…।” –

“भक्ति का दीया दिल में जलाने का पर्व है नवरात्र की शुभकामनाएं   शुभ नवरात्र जय मां कूष्माण्डा…।” –

“The very best wishes for a joyous Navratri with lots joy, happiness, peace, prayer and prosperity during these auspicious days. Jai Maa Kushmanda. Have an auspicious Navratri….।” –

“कुमकुम भरे कदमों से आए मां कूष्माण्डा आपके द्वार, सुख संपत्ति मिले आपको अपार, मेरी ओर से नवरात्र की शुभकामनाएं करें स्वीकार। – शुभ नवरात्र मां कूष्माण्डा…।” –

“उर्जा शक्ति से भरे नवरात्रि चौथे दिन की आप सभी के लिए मंगलमय हो. 2021 नवरात्रि की पावन शुभकामनाएं…।” –

“May the great goddess Maa Kushmanda  provide you the strength, wisdom, and courage to overcome all obstacles in life. Have an auspicious Navratri….।” –

“असाध्य से असाध्य रोगों से मुक्ति और अच्छी सेहत का आशीर्वाद प्रदान करने माता कूष्माण्डा की जय. …।” –

“सुख, शान्ति एवम समृध्दि की मंगलमय कामनाओं के साथ आप एवं आपके पूरे परिवार को चैत्र नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें जय माँ कूष्माण्डा …।” –

“माँ कूष्मांडा आपको एक अच्छा स्वास्थ्य और उज्जवल भविष्य दे. हैप्पी शुभ नवरात्र ।।माँ कूष्मांडा ।। 2021…।” –

कूष्‍मांडा स्त्रोत
दुर्गतिनाशिनी त्वंहि दारिद्रादि विनाशिनीम्।
जयंदा धनदां कूष्माण्डे प्रणमाम्यहम्॥
जगन्माता जगतकत्री जगदाधार रूपणीम्।
चराचरेश्वरी कूष्माण्डे प्रणमाम्यहम्॥
त्रैलोक्यसुंदरी त्वंहि दु:ख शोक निवारिणाम्।
परमानंदमयी कूष्माण्डे प्रणमाम्यहम्॥

“आदिस्वरूपा व आदिशक्ति  माता कूष्माण्डा आपके जीवन में छाये अंधेरो को दूर कर उजालों से भर दे. चैत्र नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें जय माँ कूष्माण्डा …।” –

माता कूष्‍मांडा की आरती

चौथा जब नवरात्र हो, कूष्मांडा को ध्याते।
जिसने रचा ब्रह्मांड यह, पूजन है उनका
आद्य शक्ति कहते जिन्हें, अष्टभुजी है रूप।
इस शक्ति के तेज से कहीं छांव कहीं धूप॥
कुम्हड़े की बलि करती है तांत्रिक से स्वीकार।
पेठे से भी रीझती सात्विक करें विचार॥
क्रोधित जब हो जाए यह उल्टा करे व्यवहार।
उसको रखती दूर माँ, पीड़ा देती अपार॥
सूर्य चंद्र की रोशनी यह जग में फैलाए।
शरणागत की मैं आया तू ही राह दिखाए॥
नवरात्रों की मां कृपा कर दो माँ 
नवरात्रों की मां कृपा करदो मां॥
जय माँ कूष्मांडा मैया।
जय माँ कूष्मांडा मैया॥

“सूर्य लोक में निवास करती माता  कूष्माण्डा आपके जीवन को भी सूर्य के तेज़ से भर दे, और आपके चारो ओर उजाला ही उजाला हो. नवरात्रि की हार्दिक शुभकामनायें जय माँ कूष्माण्डा …।” –

“अष्टभुजाधारी  माता कूष्मांडा का दिव्य आशीर्वाद आपको सदैव मिलता रहे. शुभ मंगलकारी नवरात्रि॥…।” –