[50+] Matlabi Shayari in Hindi (NOV 2021) | मतलबी शायरी

क्या आप Matlabi Shayari ढूंड रहे है? तो सही जगह पर पढ़िए Best Matlabi Shayari in Hindi और शेयर करें Facebook, Whatsapp और Insatgram पर

[50+] Matlabi Shayari in Hindi (NOV 2021) | मतलबी शायरी


Matlabi Shayari

ये मतलबी लोगों का दौर है..!!
मतलबी दुनिया में लोग खड़े हैं, हातो में पत्थर लेकर,
मैं कहां तक भागू शीशे का मुकद्दर लेकर..!!

इश्क़ बे-मतलब ही सही,
पर मतलबी लोगो से हुआ..!!

सब मतलब की यारी-दोस्ती है,
यही दुनिया की सबसे बड़ी बीमारी है..!!

Shayari Matlabi

पहले तो बस सुना था,
तुमसे मिलकर जान लिया की दुनिया कितनी मतलबी है..!!

ये दिन है के यारों का भी भरोसा नहीं वो,
दिन थे के जब दुसमन से भी नफरत ना थी..!!

भुला देंगे तुम्हे भी जरा सब्र तो कीजिए,
आपकी तरह मतलबी होने में जरा वक्त लगेगा..!!

कोई समझे तो एक बात कहूँ साहब,
तनहाई सौ गुना बेहतर है मतलबी लोगों से..!!

यूँ बात -बात पर जान हाज़िर मत कीजिये जनाब,
लोग मतलबी होते है कहीं माँग न ले..!!

मतलबी दुनिया का किस्सा बड़ा पुराना है,
यह हर शख्स खूबसूरत चीजो के पीछे दीवाना है..!!

Matlabi Shayari in Hindi

इस मतलब की दुनिया में कौन किसी का होता है,
वही दोस्त धोखा देते हैं जिनपर भरोसा ज्यादा होता है..!!

मतलबी लोगो के लिए,
कोंई रिश्ता मायने नहीं रखता..!!

सिखा दिया है दुनिया ने ये अपनो पर भी शक करना,
वरना मेरी फ़ितरत मे तो गौरो पर भी भरोसा करना था..!!

मेरी दोस्ती का उन्होंने मुझे अच्छा सिला दिया,
मेरे इस बुरे वक्त मे हर किसी ने मुझे भुला दिया..!!

मेरी दुनिया का हर एक शख्स मतलबी निकला,
बस एक आईना था, बस वही सच्चा निकला..!!

Matlabi Shayari in Hindi

मतलबी लडकी से अच्छी तो मेरी सिगरेट है यारो,
जो मेरे होठ से अपनी जिंदगी शुरू करती है,
और मेरे कदमो के नीचे अपना दम तोड देती है..!!

हम मतलबी नहीं की चाहने वालो को धोखा दे,
बस हमें समझना हर किसी की बस की बात नही..!!

जरूर एक दिन वो शख्स तड़पेगा हमारे लिए,
अभी तो खुशियाँ बहोत मिल रही है उसे मतलबी लोगो से..!!

कुछ यूँ हुआ कि.जब भी जरुरत पड़ी मुझे,
हर शख्स इतेफाक से.मजबूर हो गया..!!

मुझको छोड़ने की वज़ह तो बतादे,
मुझसे नाराज़ थे या मुझ जैसे हजारो थे..!!

Matlabi Log Shayari

भुला देंगे तुम्हे भी जरा सब्र तो कीजिए,
आपकी तरह मतलबी होने में जरा वक्त लगेगा..!!

कोई कहता है, दुनिया प्यार से चलती है,
कोई कहता है, दुनिया दोस्ती से चलती है,
लेकिन जब अजमाया तो पता चला की,
दुनिया तो बस मतलब से चलती है..!!

मज़बूत होने में मज़ा ही तब है,
जब सारी दुनिया कमज़ोर कर देने पर तुली हो..!!

Matlabi Shayari 2 Line

दुनिया को देख कर अब हम भी मिज़ाज बदलेगे,
रिश्ता सब से होगा लेकिन वास्ता किसी से नही..!!

कुछ की फितरत और कुछ की मजबूरी होती है,
कुछ भी हो मतलबी होना ही गलत होता है..!!

जिस पर भरोसा होता है, और जब वही धोखा देता है,
तो पूरी दुनिया मतलबी लगने लगती है..!!

ज़िन्दगी में खुद को कभी किसी इंसान का आदी मत बनाना,
क्यूंकि इंसान केवल अपने मतलब से ही प्यार करता है..!!

आज गुमनाम हूँ तो ज़रा फासला रख मुझसे,
कल फिर मशहूर हो जाऊँ तो कोई रिश्ता निकाल लेना..!!

उनका मतलबी होना भी पसंद है हमे,
मतलब से ही सही ,याद तो करते है हमे..!!

दिल-ए-मासुम ऐतबार कर लेता है, थोडा प्यार पा कर,
तोड देती है दिल मेरा दुनिया मतलब निकाल कर..!!

Matlabi Duniya Shayari

वाकिफ हैं हम दुनिया के रिवाजो से,
मतलब निकल जाये तो हर कोई भुला देता हैं..!!

यहाँ पर हर बन्दा मतलब की हद तक साथ चलता है
मतलब ख़तम राब्ता ख़तम यह है दुनियां की रसम..!!

कितनी ही शिद्दत से निभा लो रिश्ता दिल का,
बदलने वाले बदल ही जाते हैं..!!

ना जाने कोनसी नज़र लगी है इस मतलबी ज़माने की,
अब वजह नही मिलती मुझे मुस्कुराने की..!!

Duniya Matlabi Shayari

बदला हुआ वक़्त है, ज़ालिम ज़माना है,
यहां मतलबी रिश्ते है, फिर भी निभाना है..!!

कौन किसको दिल में जगह देता हैं,
सूखे पत्ते तो पेड़ भी गिरा देता हैं,
वाकिफ हैं हम दुनिया के रिवाजो से,
मतलब निकल जाये तो हर कोई भुला देता हैं..!!

मतलबी दुनिया में लोग अफसोस से कहते है की कोई किसी का नही…?
लेकीन कोई यह नहीं सोचता की हम किसके हुए..!!

मतलबी दुनियां में लोगो की भीड़ तो बढ़ रही है,
पर इंसान विलुप्त होता जा रहा है..!!

देकर कुर्बानी अपने चाहत कि जानम,
हम अपनी नजरों में महान हो गए,
इस्क दिखता है अब किताबो में जानम,
ना जाने क्यों मतलबी इंसान हो गए..!!

मेरे दिल से ज्यादा मतलबी और कौन होगा,
जो बिना मतलब के भी बस तुझ से ही प्यार करता है..!!

Matlabi Dost Shayari

जो बुरे वक्त में जो आप की कमियां गिनाने लग जाए,
उससे बड़ा मतलबी इंसान कोई नही है…!!

सुनो कितना अच्छा होता जो तुम मतलबी होते,
और तुम्हे सिर्फ मुझसे ही मतलब होता..!!

Dosti Matlabi Shayari

बहुत मतलबी निकला ए-दिल तू मेरा होकर भी,
धड़कता तो तू मेरे सीने मे है ,लेकिन किसी और का होकर..!!

इस झूठी और मतलबी दुनियां में मन नहीं लगता,
ए खुदा मुझे उनकी बाहों का दीदार करा दे..!!

काम आए ना मुश्किल में कोई यहां,
मतलबी दोस्त हैं मतलबी यार हैं..!!

Matlabi Pyar Shayari

मुझे क्या हक़ मैं किसी को मतलबी कहुं,
मैं खुद खुदा को मुसीबत मे याद करता हूँ..!!

Rishte Matlabi Shayari

दुनिया बहुत मतलबी है साथ कोई क्यो देगा,
मुफ्त का यहाँ कफ़न नही मिलता तो बिना गम के प्यार कौन देगा..!!

सच्चे लोगो की एक निशानी होती है,
वो मिलने के लिए वक़्त और मतलब नही ढूंढते..!!

दिलों मे मतलब और जुबान से प्यार करते है,
बहुत से लोग दुनिया मे यही कारोबार करते है..!!

मुखौटे बचपन मे देखे थे मेले मे टंगे हुए,
समझ बढ़ी तो देखा लोगो पे है चढ़े हुऐ..!!

यूँ असर डाला है मतलबी लोगो ने दुनियाँ पर,
हाल भी पूछो तो लोग समझते है की कोई काम होगा..!!

%d bloggers like this: