Ashq Shayari – Ashq Hi Mere Din Hain…

Ashq Hi Mere Din Hain Ashq Hi Meri Raaten,
Ashqon Me Hi Ghuli Hain Wo Beeti Huyi Baaten!

अश्क ही मेरे दिन हैं अश्क ही मेरी रातें,
अशक़ों मे ही घुली हैं वो बीती हुई बातें!

Kisi Ko Batane Se Mere Ashq Ruk Na Payenge,
Mit Jayegi Zindgi Magar Gham Dhul Na Payenge!

किसी को बताने से मेरे अश्क रुक ना पाएँगे,
मिट जाएगी ज़िंदगी मगर घाम धूल ना पाएँगे!

Leave a Reply