Chand Shayari in hindi | Shayari on moon

Chand Shayari – क्या चीज़ गँवा दी है तुमने। ये सोच के सो ना पाओगी जो चाँद तुम्हारा मेरा था वो चाँद कहाँ से लाओगी? अभी हाल ही में आया ये गाना। जिसमे चाँद शब्द का इस्तमाल किया गया हैं। यह दर्शाता हैं की जहा प्यार की बात हो और चाँद शब्द न आए। ऐसा हो ही नहीं सकता न जाने हर रोज कितने आशिक अपनी महबूबा को चाँद का टुकड़ा कहकर उन्हें इम्प्रेस करते हैं। जो पूरी तरह से कारगर हैं क्योकि सुदरता की तारीफ हमेशा की जानी चाहिए। हम हमेशा से सुनते आए हैं। की चाँद में दाग हैं पर भी हमे यह दूर से देखने में बहुत खुबसूरत लगता हैं।

दोस्तों इसलिए आज कुछ ऐसी बहुत ही जबरदस्त Shayari on moon लाया हु। उम्मीद करता हु आपको Chand Shayari in hindi बहुत पसंद आएँगी।

Chand Shayari in hindi

एक अदा आपकी दिल चुराने की,
एक अदा आपकी दिल में बस जाने की,
चेहरा आपका चाँद🌕 सा और एक,
हसरत हमारी उस चाँद को पाने की।

रात को जब चाँद सितारे चमकते हैं,
हम हरदम आपकी याद🌕 में तड़पते हैं,
आप तो चले जाते हो छोड़कर हमें,
हम रात भर आपसे मिलने को तरसते हैं

चाँद🌕 के दीदार में तुम,
छत पर क्या चली आई,
शहर में ईद की,
तारीख मुक्कमल हो गयी।

ात भर करता रहा,
तेरी तारीफ चांद🌕 से,
चाँद इतना जला की,
सुबह तक सूरज हो गया।

⭐चाँद के लिए सितारे अनेक है,⭐
लेकिन सितारों के लिए चाँद एक है,
आपके लिए तो हज़ारों होंगे,
लेकिन हमारे लिए आप एक हैं।

⭐जिस चाँद के हजारों,⭐
हो चाहने वाले,
वो क्या समझेगा एक,
सितारे की कमी को।

⭐दीदार- ए- चांद वाली रात आयी है,⭐
बाजारों में रौनक और घरों में,
खुशियों की सौगात लयी हैं।🌙

⭐बादल चाँद🌙 को छुपा सकता है,⭐
आकाश को नहीं हम सब को
भुला सकते हैं आपको नहीं।

⭐ऐ काश हमारी क़िस्मत में ऐसी भी कोई शाम आ जाए,⭐
एक चाँद फ़लक पर निकला हो एक छत पर आ जाए।

⭐आज टूटेगा गुरूर चाँद🌙 का तुम देखना यारो,⭐
आज मैंने उन्हें छत पर बुला रखा है।

⭐आसमान और ज़मीं का है फासला हर-चंद,⭐
ऐ सनम दूर ही से चाँद🌙 सा मुखड़ा दिखला।

⭐चाँद भी हैरान… दरिया भी परेशानी में है,⭐
अक्स किस का है🌙 ये इतनी रौशनी पानी में है।

⭐कितना हसीन चाँद सा चेहरा है,⭐
उसपे शबाब का रंग गहरा है,
खुदा को यकीन न था वफ़ा पे,
तभी चाँद🌙 पे तारों का पहरा है।

Shayari on moon

⭐बेसबब मुस्कुरा रहा है चाँद⭐
कोई साजिश छुपा रहा है चाँद🌙

⭐वो चाँद कह के गया था कि आज निकलेगा,⭐
तो इंतिज़ार में बैठा हुआ हूँ🌙 शाम से ही मैं।

⭐तुझको देखा तो फिर उसको ना देखा मैंने,⭐
चाँद कहता रह गया मैं चाँद🌙 हूँ मैं चाँद हूँ।

⭐एक अदा आपकी दिल चुराने की,⭐
एक अदा आपकी दिल में बस जाने की,
चेहरा आपका चाँद🌙 सा और एक…
हसरत हमारी उस चाँद को पाने की।

⭐उसके चेहरे की चमक के सामने सादा लगा,⭐
आसमाँ पर चाँद🌙 पूरा था… मगर आधा लगा।

⭐चाहते तो हम भी उसे एक ज़माने से थे,⭐
मगर चाँद🌙 कब इंसानों का हुआ है।

⭐पलके झुकाके कुछ नज़ाकत के साथ यूं शरमाते हैं,⭐
जब वो प्यार से हमें अपना चाँद🌙 बुलाते हैं।

ये शांति भरी रात का सन्नाटा,
⭐और इस चाँद🌙 की चांदनी ,⭐
सुकून देती है इस दिल को।

⭐ये चाँद रोज आता है,⭐
और मेरी यादो की जख्मो को
खुरेदकर चला जाता है🌙।

⭐बिखरे हुए लम्हें अब हम ना समेट पाएंगे,⭐
चाँद🌙 चला गया आसमां से,
सितारें कब तक ठहर पाएंगे।

⭐तुम भी बिलकुल उस चाँद की तरह हो,⭐
खूबसूरत भी हो और बहुत दूर भी हो।

⭐ऐ चाँद बड़े उदास लगते हो,⭐
कुछ खो गया है,
या किसी का इंतजार कर रहे हो

⭐मत कर गुरूर तू ऐ चाँद🌙
अपनी इस खूबसूरती पर,⭐
देख,आज भी तू अकेला है इतनी ऊंचाईयो पर।

⭐चांदनी रात बड़ी देर के बाद आयी⭐
ये मुलाकात बड़ी देर के बाद आयी।

⭐चाँद में नज़र कैसे आए तेरी सूरत मुझको,⭐
आँधियों से आसमाँ का रंग मैला हो गया🌙।

⭐दिन में चैन नहीं ना होश है रात में⭐
खो गया है चाँद🌙 भी देखो बादल के आगोश में

⭐रात भर आसमां में हम चाँद ढूढ़ते रहे,⭐
चाँद🌙 चुपके से मेरे आँगन में उतर आया।

⭐पत्थर की दुनिया जज़्बात नहीं समझती,⭐
दिल में क्या है वो बात नहीं समझती,
तनहा तो चाँद🌙 भी सितारों के बीच में है,
पर चाँद का दर्द वो रात नहीं समझती।

⭐चलो चाँद का किरदार अपना लें हम,⭐
दाग अपने पास रखें और रौशनी बाँट दें।

⭐क्यूँ मेरी तरह रातों को रहता है परेशाँ,⭐
ऐ चाँद बता किस से तेरी आँख लड़ी है🌙।

%d bloggers like this: