Dard Bhari Shayari in Hindi on Jab Unki Gali Se Guzarte Hain

जब भी उनकी गली से गुज़रता हूँ,
मेरी आंखें एक दस्तक दे देती है,
दुःख ये नहीं, वो दरवाजा बंद कर देते है,
खुशी ये है, वो मुझे अब भी पहचान लेते हैं..

Leave a Reply