Dedicated Shayari for Love in Hindi

NOTE:To add you shayari here, submit details in contact us form.

To,
Shailja,
दर्द गूंज रहा दिल में शहनाई की तरह ,
जिस्म से मौत की ये सगाई तो नहीं ,
अब अंधेरा मिटेगा कैसे . .
तुम बोलो तूने मेरे घर में शम्मा जलाई तो नहीं !!
from
Adhi

To,
Mastani,
सब कुछ ख़त्म हो गया, पर आख़िरी इंतज़ार अभी बाकी है,
रात अब ढाल चुकी है, लेकिन दीदार-ए-यार अभी बाकी है,
मैं तो जा रहा था दुनिया छोड़ कर,
लेकिन सपने मैं कोई कह गया, ठहर जा आख़िरी बाहर अभी बाकी है.

from
Bajirao

To,
Shaili,
नादान इनकी बातो का एतबार ना कर ,
भूलकर भी इन जालिमो से प्यार ना कर ,
वो क़यामत तलक तेरे पास ना आयेंगे,
इनके आने का नादान तू इन्तजार ना कर !
from
Rohit

To,
Rahul,
दिल पे क्या गुज़री वो अनजान क्या जाने ,
प्यार किसे कहते है वो नादान क्या जाने ,
हवा के साथ उड़ गया घर इस परिंदे का . .
कैसे बना था. . घोसला वो तूफान क्या जाने।
from
Reena

To,
pallavi,
मुस्कुराते पलको पे सनम चले आते हैं,
आप क्या जानो कहाँ से हमारे गम आते हैं ,
आज भी उस मोड़ पर खड़े हैं,
जहाँ किसी ने कहा था कि ठहरो हम अभी आते है।
from
Madhur

To,
Nirja,
यह सफ़र दोस्ती का कभी ख़त्म न होगा
दोस्तों से प्यार कभी कम न होगा
दूर रहकर भी जब रहेगी महक इसकी
हमें कभी बिछड़ने का ग़म न होगा!
from
raza

To,
Surbhi,
मोहब्बत यूँ ही किसी से हुआ नहीं करती….
अपना वजूद भूलाना पडता है
किसी को अपना बनाने के लिए…।
from
Predeep

To,
Riya,
ज़िन्दगी से बस यही गिला है
ख़ुशी के बाद क्यों ये गम मिला है
हमने तो उनसे वफ़ा की थी पर नहीं जानते थे
कि बेवफाई ही वफ़ा का सिला है!!
from
Vinay

To,
Sonu,
बेवफा कहने से पहले मेरे रग रग से खून निचोड़ लेना,
कतरे कतरे मे वफ़ा ना मिले तों मुझे मारा हुआ छोड़ देना.
from
Rahnuma

To,
Urwashi,
जख्म बना जाने की आदत है उसकी,
रुला कर मुस्कुराने की आदत है उसकी….
मिलेंगे कभी तो खूब रुलाएँगे उसको,
सुना है रोते हुए लिपट जाने की आदत है उसकी.
from
Vivek

To,
Tarannum,
रात की गहराई आँखों मे उतर आई
कुछ ख्वाब थे और कुछ मेरी तन्हाई,
ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के हल्के,
कुछ तो मज़बूरी थी और कुछ तेरी बेवफ़ाई.
from
Akhil

To,
Parul,
वो दर्द ही क्या जो आँखों से बह जाए,
वो खुशी ही क्या जो होंठों पर रह जाए,
कभी तो समझो मेरी खामोशी को !
वो बात ही क्या जो लफ़्ज आसानी से कह जाए. from
Aman

To,
Ayushi,
पता नही होश मे हूँ…..
या बेहोश हूँ मैं…..
पर बहूत सोच …….
समझकर खामोश हूँ मैं.
from
Aman

To,
Muskan
तेरी बेवफ़ाई को भुला ना सकेंगे..
चाहे भी तो कभी मुस्कुरा ना सकेंगे..
तुझको तो मिल गया यार अपना..
अपना किसी को हम बना ना सकेंगे..
from
Bharat

To,
Ashima
तेरी कमी भी है , तेरा साथ भी है ,,
तू दूर भी है , तू पास भी है ,,
खुदा ने यूँ नवाज़ा तेरी मोहब्बत से ,,
मुझे गुरुर भी है और नाज़ भी है !!.
from
Pradeep

To,
Anchal
जाते जाते, जाने उसने क्या कहा
की खूंशिया मुरझा कर के रह गयी
जैसे मौत ने जिंदगी से कुछ कहा
और जिंदगी खामोश रह कर गुजर गयी.
from
Shailesh

To,
Poonam
तुम्हारी हर एक बात बेवफ़ाई की कहानी हैं,
लेकिन तेरी हर एक सांस मेरी ज़िंदगी की निशानी ह
तुम आज तक समझ न्हे पाए मेरे इस प्यार को,
मेरे आँसू भी तुम्हारे लिए सिर्फ़ पानी हैं..!!
from
Akshat

To,
Palak
सुकून मैने अपने दिल का खो दिया,
खुद को तन्हाई के समुंद्र मे डुबो दिया,
जो थी मेरे मुस्कुराने की कभी वजह,
आज उसकी कमी ने पलकों को भिगो दिया.
from
Ankit

To,
Rani
जहा खामोश फ़िज़ा थी, साया भी ना था.
हंसा कोई किस जुर्म मे, समझ आया भी ना था.
ना जाने क्यू छीनी गयी हमसे हँसी.
हमने तो किसी का दिल दुखाया भी ना था.
from
Babban

To,
Reshu
प्यार मे बवफ़ाई मिले तो गम ना करना
अपनी आँखें किसी के लिए नम ना करना
वो चाहे लाख नफ़रत करे तुमसे,
पर तुम अपना प्यार कभी उसके लिए कम ना करना.
from
Vikram

To,
Urvashi
याद नही करोगे तो भुला भी ना सकोगे
मेरा ख्याल ज़हन से मिटा भी ना सकोगे
एक बात जो तुम मेरे गम से मिलोगे
तो सारी उमर मुस्कुरा भी ना सकोगे !!!
.

from
Amit

To,
Archna
इस कदर हम उनकी मोहब्बत मे खो गये.
एक नज़र देखा और बस उन्ही हे हो गये.
आँख खुली तो अंधेरा था देखा एक सपना था.
आँख बंद की और उन्ही के सपनो मई फिर सो गये.
from
Guddu

To,
Ankita
मोहब्बत की राहों का अंज़ाम यही है
बस गम को अपना लो पैगाम यही है.
.

from
Roshan

To, Neha
दर्द से हाथ न मिलाते तो और क्या करते.
गम के आँसू न बहाते तो और क्या करते.
उसने माँगी थी हमसे रोशनी की दुआ.
हम खुद को ना जलाते तो और क्या करते. .

from
Nirbhay

To,
Kahsasha
किस्मत से अपनी सबको शिकायत, यार क्यू है?
जो मिल नही सकता, उससी से बेपनाह प्यार क्यू है?
कितने खाए है धोखे इन्न राहों पर,
फिर भी दिल को उसी का इंतज़ार क्यू है?

From
Karim .

To,
My Love,
हर तरफ उजाला हे दिल मे एक अंधेरा है
जबसे तुम गयी हो नाराज़ मुझसे सवेरा है

from
Tumahara Mohit

To,
Dear Parul,
ye dil ab ji na sakenge, tere bin marr bhi na sakega,
jitni mohhabat tujse thi, utni kisi se kar na sakega,
ab tere judai ka gum bhi, mere maut ke sath hi jayega

from
Tumahara Ankit

To,
Bewfa,
Kismat ki baat chodiye, hume apne loot gaye,
Kasmon ki baat chodiye, wade sare toot gaye,
iss kadar ki mere hum safar ne bewfai ki,
kinare par aate aate, kinare doob gaye.

from Sonam

To,
Ekta,
दर्द से बढ़कर कोई रिश्ता नही,
पर दर्द देने वाला भी मिलता नही,
वो तो हमे छोड़ कर इतना दूर चला जाता है की
खुली आँखों से भी दिखता नही.

from
Sanjeev

To,
Payal,
होंठों पर हसी खिल रही थी,
आँखों मे दर्द सोया था
जमाने को क्या पता ,
ये हस्ने वाला कितना रोया था.

from
Ankit

To,
Sonu
मोहब्बत का मेरी सिला दे गया,
वाफ़ाओं के बदले दागा दे गया
दुनिया मे कहा ढूंढ़ेंगे उसे,
वो झूठा था झूठा पता दे गया.
.

from
Mona

To,
Richa
समझोते गमो से कर लो,
जिंदगी मे गम भी मिलते है
पतझड़ आते ही रहते है
ये फूल फिर भी खिलते है
.

from
Amit

To,
Parveen
मेरे गम अगर आपको मिले होते
तो अपने होश खो दिए होते
मेरा दम है की मुस्कुराता हूँ मैं
आप होेती तो रो दिए होते.
.

from
Ranjha

To,
Anchal
हम बिन नींद के भी सो लेते.
बस काश तू सपने मे बुला लेती.
हम मर कर भी जी लेते, ए जिंदगी.
बस एक बार तू हमे गले लगा लेती.
.

from
Your aryan

To,
Arpita
राज है मेरी जिंदगी का की तड़प मेरा नसीब है
मौत के दरबार मे हूँ, पर जिंदगी अभी करीब है
मेरे दिल मे तुम हो तुम्हारे दिल मई कोई और
दिल एक है लेकिन टूटे दिल के किस्से अजीब है
.

from
Your RAAJ

To,
Meera,
Waqt aur khusi tere gulam honge,
Yeh Pal ye pehlu tere hi naam honge,
Kabhi dekhna jhukkar mere hamsafar,
tere har kadam ke niche mere haathon ke nishan honge.
from
Uday

To,
Anchal
हम बिन नींद के भी सो लेते.
बस काश तू सपने मे बुला लेती.
हम मर कर भी जी लेते, ए जिंदगी.
बस एक बार तू हमे गले लगा लेती.
.

from
Angad

Leave a Reply