Friendship Shayari – Muskurana Sikha DIya

दिल की नाज़ुक धड़कनो को,
मेरे दोस्त तुमने धड़कना सीखा दिया,
जब से मिली है तेरी दोस्ती,
दिल को गुम में भी मुस्कुराना सीखा दिया..

Dil Ki Nazuk Dhadkano ko,
Mere Dost Tumne Dhadkana Sikha Diya,
Jab Se Mili hai Teri Dosti,
Dil Ko Gum mein bhi Muskurana sikha Diya..